बुधवार, दिसम्बर 7Digitalwomen.news

Tag: WOMEN

Patna: Bihar’s player Kriti Rajsingh has won six gold medals in the weightlifting event of the Sub Junior Commonwealth Championship 2022
News, TRENDING

Patna: Bihar’s player Kriti Rajsingh has won six gold medals in the weightlifting event of the Sub Junior Commonwealth Championship 2022

न्यूजीलैंड में जूनियर कमनवेल्थ चैंपियनशिप में 6 गोल्ड मेडल जीतने वाली कृति राज सिंह पटना में हुआ भव्य स्वागत Patna: Bihar's player Kriti Rajsingh has won six gold medals in the weightlifting event of the Sub Junior Commonwealth Championship 2022 JOIN OUR WHATSAPP GROUP न्यूजीलैंड में जूनियर कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में देश के साथ बिहार का नाम रोशन करने वाली कृति राज सिंह शुक्रवार को जब पटना एयरपोर्ट पहुंचीं तब हजारों लोगों ने भव्य स्वागत किया। राजधानी पटना के खुसरूपुर की रहने वाली कृति राज सिंह ने न्यूजीलैंड में चल रहे जूनियर कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में 6 गोल्ड मेडल जीता है। वेटलिफ्टिंग स्पर्धा में मिली इस जीत के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बधाई भी दी थी। शुक्रवार को कृति राज सिंह पटना एयरपोर्ट पर पहुंचीं। इस दौरान बड़ी संख्या में फैंस एयरपोर्ट पहुंचे थे। जैसे ही कृति एयरपोर्ट से ब...
Australia: Three Indian-Origin Women Scientists Among Australia’s “Superstars Of STEM”
Latest News

Australia: Three Indian-Origin Women Scientists Among Australia’s “Superstars Of STEM”

तीन भारत मूल की महिलाओं ने ऑस्ट्रेलिया में किया नाम रोशन, एसटीईएम सुपरस्टार में हुईं चयनित JOIN OUR WHATSAPP GROUP तीन भारत मूल की महिलाओं ने ऑस्ट्रेलिया में देश का नाम रोशन किया है। ‌ऑस्ट्रेलिया में एसटीईएम सुपरस्टार के तौर पर चयनित 60 वैज्ञानिकों, प्रौद्योगिकीविदों, इंजीनियरों और गणितज्ञों में तीन भारतीय मूल की महिलाएं भी शामिल हैं। एसटीईएम एक पहल है जिसका उद्देश्य वैज्ञानिकों के बारे में समाज की लैंगिक धारणाओं को तोड़ना और महिलाओं और महिला व पुरुष की लैंगिक धारणा से इतर लोगों की सार्वजनिक दृश्यता में वृद्धि करना है। इस लिस्ट में नीलिमा कडियाला, डॉ. एना बाबूरमानी और डॉ. इंद्राणी मुखर्जी को शामिल किया गया है। STEM एक ऐसी मुहिम है जिसके जरिए समाज की लैंगिक धारणाओं को तोड़ने पर जोर दिया जाता है और महिला वैज्ञानिकों को आगे आने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। इस बार उन्हीं 60 वै...
Benazir Bhutto: first woman PM in the Muslim world
DW Editorial, Latest News

Benazir Bhutto: first woman PM in the Muslim world

34 साल पहले आज के दिन पाकिस्तान में पहली महिला प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो ने संभाली थी सत्ता JOIN OUR WHATSAPP GROUP 34 साल पहले आज के दिन पाकिस्तान में पहली बार कोई महिला प्रधानमंत्री ने सत्ता संभाली थी। ‌ इस महिला का नाम था बेनजीर भुट्टो। बेनजीर को राजनीति विरासत में मिली थी। बेनजीर भुट्टो किसी मुस्लिम देश की पहली महिला प्रधानमंत्री थीं। उस समय उनकी उम्र सिर्फ 35 साल थी। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री जुल्फिकार अली भुट्टो की सबसे बड़ी बेटी बेनजीर का जन्म 21 जून 1953 को कराची शहर में हुआ था। हायर एजुकेशन की पढ़ाई पूरी करने के बाद 1977 में बेनजीर लंदन से पाकिस्तान लौट आईं। 1978 में जनरल जिया उल-हक पाकिस्तान के राष्ट्रपति बने। उनके आते ही बेनजीर के पिता जुल्फिकार अली भुट्टो को हत्या के एक मामले में फांसी हो गई। पिता की मौत के बाद बेनजीर ने राजनीतिक विरासत को संभाला। 10 अप्रैल ...
P T Usha is set to become the first woman president of the Indian Olympic Association (IOA) in the sports body’s 95-year-long history
Latest News, News

P T Usha is set to become the first woman president of the Indian Olympic Association (IOA) in the sports body’s 95-year-long history

पीटी ऊषा को मिल सकती है भारतीय ओलंपिक संघ की कमान, निर्विरोध अध्यक्ष चुना जाना तय P T Usha is set to become the first woman president of the Indian Olympic Association (IOA) in the sports body's 95-year-long history JOIN OUR WHATSAPP GROUP भारत की महान एथलीट पीटी ऊषा को जल्द हीं खेलों में बड़ी जिम्मेदारीयां मिलने वाली है। खबरों की मानें तो पीटी उषा का भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) का अध्यक्ष बनना करीब-करीब तय है। इस पद के लिए उन्हें निर्विरोध चुना जा सकता है। बता दें कि 10 दिसंबर को आईओए के चुनाव होने वाले हैं और पीटी ऊषा अध्यक्ष पद के लिए अकेली उम्मीद हैं। अगर वह जीतती हैं तो इस पद पर पहुंचने वाली पहली महिला होंगी। मालूम हो कि पीटी ऊषा ने रविवार को अध्यक्ष पद के लिए अपना नामंकन पत्र दाखिल किया है। उनके साथ-साथ 14 अन्य लोगों ने अलगअ-अलग पदों के लिए नामांकन दाखिल किया। आज नामां...
लोकतंत्र में अधिकार: महिलाओं ने आज के दिन पहली बार न्यूजीलैंड में अपने मताधिकार का किया था प्रयोग
DW Editorial, Latest News, TRENDING

लोकतंत्र में अधिकार: महिलाओं ने आज के दिन पहली बार न्यूजीलैंड में अपने मताधिकार का किया था प्रयोग

Women win the right to vote JOIN OUR WHATSAPP GROUP लोकतंत्र की दुनिया में महिलाओं के लिए आज की ऐतिहासिक तारीख है। 129 साल पहले आज के दिन 28 नवंबर 1893 को न्यूजीलैंड में पहली बार महिलाओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था। ‌इसके लिए सोशल एक्टिविस्ट महिला केट शेफर्ड ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्हीं की वजह से दुनिया में पहली बार लोकतंत्र में महिलाओं की भागीदारी हुई थी। महिलाओं को वोट दिलाने के लिए केट शेफर्ड ने बहुत ही संघर्ष किया। केट ने 1891, 1892 और 1893 में वोटिंग के लिए आंदोलन किये थे। महिलाओं को वोटिंग का अधिकार दिलाने की लड़ाई के लिए वुमंस क्रिश्चियन टेम्परेंस यूनियन बना, जिसकी लीडर केट शेपर्थ थीं। केट शेपर्थ ने ही महिलाओं को वोटिंग के अधिकार की लड़ाई लड़ी। इसके लिए उन्होंने एक पिटीशन पर साइन करवाए। शेपर्थ ने करीब तीन साल मेहनत की। तब जाकर 32 हजार महिलाओं के साइन मिल पाए। ...
Far-right Giorgia Meloni appointed Italy’s first female prime minister
Latest News

Far-right Giorgia Meloni appointed Italy’s first female prime minister

इटली में पहली बार महिला जियॉर्जिया मेलोनी बनीं प्रधानमंत्री, दक्षिणपंथी विचारधारा की हैं Far-right Giorgia Meloni appointed Italy’s first female prime minister JOIN OUR WHATSAPP GROUP राइट विंग नेता जियॉर्जिया मेलोनी इटली की पहली महिला प्रधानमंत्री बन गई हैं। इसी के साथ इटली में ब्रदर्स ऑफ इटली पार्टी की नई सरकार का गठन हो गया है। 45 साल की जियॉर्जिया और उनके कैबिनेट मंत्री आज शपथ लेंगे। चार साल पहले मात्र 4.13% वोट पाने वाली मेलोनी की पार्टी को इस बार 26% वोट मिले।दूसरे विश्वयुद्ध के बाद इटली में ये पहली बार है जब राइट विंग का कोई नेता प्रधानमंत्री की गद्दी संभालेगा। जॉर्जिया की पार्टी इटली के तानाशाह रहे मुसोलिनी की समर्थक हैं। अप्रवासियों को शरण नहीं देना और समलैंगिकों का विरोध और उन्हें हक नहीं देना जॉर्जिया के चुनावी एजेंडे थे। जियोर्जिया मेलोनी का जन्म 15 जनवरी 1977 को हु...
Indian-Origin UK Home Secretary Suella Braverman resigns, Liz Truss government in Crisis
Latest News

Indian-Origin UK Home Secretary Suella Braverman resigns, Liz Truss government in Crisis

43 दिन में छोड़ना पड़ा पद: भारतवंशी होम मिनिस्टर सुएला ने दिया इस्तीफा, भारतीयों के खिलाफ दिया था विवादित बयान, ब्रिटेन की लिज ट्रस सरकार भी संकट में Indian-Origin UK Home Secretary Suella Braverman resigns JOIN OUR WHATSAPP GROUP करीब डेढ़ महीने पहले ब्रिटेन की लिज ट्रस सरकार में भारतीय मूल की सुएला ब्रेवरमैन गृहमत्री बनी थीं। सुएला को ब्रिटेन में होम मिनिस्टर का पद मिलने पर देशवासियों ने खुशी जताई थी। लेकिन सुएला को 43 दिन के अंदर ही गृह मंत्री के पद से 'इस्तीफा' देना पड़ा है। सुएला ब्रेवरमैन के इस्तीफा देने का बड़ा कारण उनका भारत विरोधी बयान बना। ‌ उनके बयान के बाद भारत सरकार ने भी कड़ी नाराजगी जताई थी। ‌ बता दें कि भारत-ब्रिटेन मुक्त व्यापार संधि पर अपने बयान से विवादों में आईं गृह मंत्री सुएला ब्रेवरमैन ने बुधवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इससे पहले लिज ट्रस ने वित्...
DCW chief Swati Maliwal’s residence attacked, cars vandalised
Breaking News, Delhi NCR, Latest News, States

DCW chief Swati Maliwal’s residence attacked, cars vandalised

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के घर पर ताबड़तोड़ हमला, घर के बाहर खड़ी गाड़ियों में तोड़फोड़ DCW chief Swati Maliwal’s residence attacked, cars vandalised JOIN OUR WHATSAPP GROUP दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष (DCW Chief) स्वाति मालीवाल के घर के बाहर कुछ असामाजिक तत्वों तोड़फोड़ की है और हमला करते हुए घर के बाहर खड़ी कार और गाड़ियों के शीशे चकनाचूर कर दिए गए हैं। इस बात की जानकारी स्वयं स्वाति मालीवाल ने अपने ट्विटर के जरिए दी है। राहत की बात ये है कि इस हमले में स्वाती मालीवाल और उनके परिवार के लोग सुरक्षित हैं। स्वाति मालीवाल की गाड़ियों पर ताबड़तोड़ हमला डीसीडब्ल्यू अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने सोमवार की सुबह बताया कि अभी कुछ देर पहले मेरे घर पर कोई हमलावर घुस आया और उसने हमला किया। मेरी और मेरी मां की गाड़ी बुरी तरह से तोड़ दी और घर में घुसने की कोशिश की। ...
43 साल पहले आज के दिन मदर टेरेसा को दिया गया था नोबेल पुरस्कार, दीन-दुखियों के लिए समर्पित रहा पूरा जीवन
DW Editorial, Latest News, TRENDING

43 साल पहले आज के दिन मदर टेरेसा को दिया गया था नोबेल पुरस्कार, दीन-दुखियों के लिए समर्पित रहा पूरा जीवन

It happened today - this day in history - October 17 - 1979: Mother Teresa is awarded the Nobel Peace Prize It happened today - this day in history - October 17 - 1979: Mother Teresa is awarded the Nobel Peace Prize JOIN OUR WHATSAPP GROUP अपना पूरा जीवन दीन-दुखियों और गरीबों के लिए समर्पित करने वालीं दुनिया की महान महिला मदर टेरेसा को 43 साल पहले आज ही के दिन नोबेल पुरस्कार से नवाजा गया था। मदर टेरेसा के अनुयायियों के लिए आज का दिन बहुत ही खास है। ‌भारत से विशेष रूप से स्नेह रखने वाली मदर टेरेसा को 17 अक्टूबर 1979 को मदर टेरेसा को 'शांति' का नोबेल पुरस्कार दिया गया था। 26 अगस्त 1910 को अल्बेनिया के स्काप्जे में उनका जन्म हुआ। नाम था गोंझा बोयाजिजू। सिर्फ 12 साल की थीं, तब अनुभव हो गया था कि सारा जीवन मानव सेवा में लगाएंगी। 18 साल की उम्र में सिस्टर्स ऑफ लोरेटो में शामिल होने क...
Women’s Asia Cup 2022 Final: India thrashes Sri Lanka to lift the 7th title
Cricket, Latest News

Women’s Asia Cup 2022 Final: India thrashes Sri Lanka to lift the 7th title

महिला एशिया कप: श्रीलंका को हराकर भारतीय महिला क्रिकेट खिलाड़ियों ने सातवीं बार खिताब पर किया कब्जा Women's Asia Cup 2022 Final: India thrashes Sri Lanka to lift the 7th title JOIN OUR WHATSAPP GROUP महिला एशिया कप में भारतीय महिला खिलाड़ियों ने सातवीं बार खिताब पर कब्जा कर लिया है। शनिवार को खेले गाए फाइनल मुकाबले में भारतीय महिला टीम ने श्रीलंका को 8 विकेट से हरा दिया। श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने का फैसला किया। भारतीय गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के आगे श्रीलंकाई टीम 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 65 रन ही बना पाई। इनोका रनवेरा ने सबसे ज्यादा 18 रन बनाए। भारत के लिए रेणुका सिंह ठाकुर ने तीन विकेट लिए। राजेश्वरी गायवाड और स्नेह राणा ने दो-दो विकेट लिए। जवाब में भारत ने 8.3 ओवर में दो विकेट खोकर 71 रन बनाते हुए टारगेट हासिल कर लिया। स्मृति मंधाना ने छक्का जमाकर टीम इंडिया ...