सोमवार, दिसम्बर 5Digitalwomen.news

Tag: ram temple ayodhya

अद्भुत छटा बिखेरने के लिए तैयार अयोध्या, 9 लाख दियों की ज्योति से बनेगा विश्व रिकॉर्ड
Latest News, States, Uttar Pradesh

अद्भुत छटा बिखेरने के लिए तैयार अयोध्या, 9 लाख दियों की ज्योति से बनेगा विश्व रिकॉर्ड

Deepotsav at Ayodhya set to be grandest भगवान प्रभु श्रीराम की नगरी अयोध्या में आज रात अलग है। एक ऐसी रात जो दीपावली के उत्सव के साथ करोड़ों लोगों की आस्था, विश्व रिकॉर्ड और एक संदेश भी देने के लिए व्याकुल है । ‌राम जन्मभूमि अयोध्या सुबह से ही अपनी अद्भुत छटा बिखेर रही है। समूचे शहर को 'दुल्हन' की तरह सजाया गया है। आज रात अयोध्या नगरी में 'त्रेतायुग' जैसा नजारा देखने को मिलेगा, दीप्ति, प्रकाश, चमक और झलक सेआकाश भी जगमगा उठेगा। देश-विदेश से लाखों श्रद्धालु इस यादगार लम्हों के साक्षी बनने के लिए रामनगरी पहुंच चुके हैं। अयोध्या बेकरार है विश्व भर में एक और नया 'कीर्तिमान' बनाने को । देश ही नहीं बल्कि विश्व के तमाम न्यूज चैनलों के अयोध्या नगरी में हर एंगल से 'कैमरे' तन गए हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कई दिनों से इस दीपोत्सव कार्यक्रम के लिए स्वयं निगरानी कर रहे हैं। बता दें कि...
तिरंगा यात्रा निकालने से पहले डिप्टी सीएम सिसोदिया-संजय सिंह भी पहुंचे राम की शरण में, संतों से लिया आशीर्वाद
Latest News, States, Uttar Pradesh

तिरंगा यात्रा निकालने से पहले डिप्टी सीएम सिसोदिया-संजय सिंह भी पहुंचे राम की शरण में, संतों से लिया आशीर्वाद

https://videopress.com/v/lQVClCQm?resizeToParent=true&preloadContent=metadata 'Tiranga Yatra': Manish Sisodia & Sanjay Singh in Ayodhya उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक दलों में भगवान श्रीराम की नगरी अयोध्या जाने की 'होड़' लगी है। विपक्षी दल नहीं चाहते कि अयोध्या भाजपा की रहे। ‌जुलाई में बसपा ने ब्राह्मण सम्मेलन की शुरुआत अयोध्या से की थी। 'इस दौरान यहां पर पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने कहा था कि भगवान श्रीराम सबके हैं'। उसके बाद 'समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी बयान जारी करते हुए कहा था कि भगवान राम हमारे भी हैं'। उसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भगवान राम के लिए बसपा, सपा के प्रेम पर तंज कसा । यही नहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ साल 2022 में अयोध्या से विधानसभा चुनाव लड़ने की भी चर्चा है। अब इसी ...
अयोध्या में 2023 तक नए मंदिर में रामलला होंगे विराजमान, भक्त कर सकेंगे दर्शन
Latest News, States, Uttar Pradesh

अयोध्या में 2023 तक नए मंदिर में रामलला होंगे विराजमान, भक्त कर सकेंगे दर्शन

आज से ठीक एक साल पहले यानी 5 अगस्त 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन किया था। इन एक वर्षों में मंदिर निर्माण के काम में तेजी आई है। इसके साथ अयोध्या का भी तेजी के साथ विकास हो रहा है। मंदिर की नींव भरने का काम करीब 60% पूरा हो चुका है। माना जा रहा है कि साल 2023 तक अयोध्या में भक्तों के लिए रामलला के दर्शन की व्यवस्था हो जाएगी। तब तक रामलला नए मंदिर में विराजमान होंगे, जबकि साल 2025 तक श्रीराम जन्मभूमि मंदिर परिसर पूरी तरह विकसित होगा। हालांकि इसके बाद भी मंदिर के ऊपरी फ्लोर पर काम चलता रहेगा। मंदिर निर्माण शुरू होने के बाद एक साल के दौरान अयोध्या का विकास भी कई गुना तेज हुआ है। यहां बीते दो सालों में जमीन की कीमतें 8 गुना तक महंगी हुई हैं। अयोध्या में जमीन की खरीद-फरोख्त इतनी तेजी से हो रह...
अयोध्या भूमि घोटाला: आरोपों से घिरा ट्रस्ट ने दी सफाई और केंद्र को भेजी रिपोर्ट, विपक्ष जांच कराने पर अड़ा
Latest News, States, Uttar Pradesh

अयोध्या भूमि घोटाला: आरोपों से घिरा ट्रस्ट ने दी सफाई और केंद्र को भेजी रिपोर्ट, विपक्ष जांच कराने पर अड़ा

Ram Mandir, Ayodhya: Ram Janmabhoomi उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर को लेकर पहले भी भाजपा और विपक्षी दलों के बीच राजनीति गर्म होती रही है। अब एक बार फिर से अयोध्या में भूमि घोटाले पर 'सियासी घमासान' मचा हुआ है। अगले साल की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी 'हिंदुओं की आस्था' को जोड़ते हुए अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का 'मुद्दा' भी बनाने जा रही है। वहीं अयोध्या में भूमि घोटाले को लेकर कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी के नेता पूरे मामले की जांच कराने की मांग पर अड़े हुए हैं। विपक्षी पार्टियों ने इसे करोड़ों लोगों की आस्था से धोखा करार दिया है और ट्रस्ट के सदस्यों से 'इस्तीफा' मांगा है। वहीं दूसरी ओर सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने अयोध्‍या के निर्माणाधीन राम मंदिर की जमीन खरीद से जुड़े विवाद पर जिले के अधिकारियों से पूरा ब्‍योरा मांगा। अयोध्या मे...
राम मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पाँच लाख रुपये का दान देकर “निधि समर्पण अभियान” की शुरुआत की
Latest News

राम मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पाँच लाख रुपये का दान देकर “निधि समर्पण अभियान” की शुरुआत की

President Donates Rs 5 Lakh For Ram Temple आज से अयोध्या में बनने वाले भव्य राम मंदिर के लिए 'निधि समर्पण अभियान' की शुरुआत हो गई है। इस निधि समर्पण अभियान के लिए देश के प्रथम नागरिक यानी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने स्वयं पांच लाख 100 रुपये का दान देकर इसकी शुरुआत की है। उनसे चंदा मांगने के लिए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट, विश्व हिंदू परिषद और स्वसंसेवक संघ का एक प्रतिनिधिमंडल पहुंचा था जहाँ उंहोनें यह चेक सौंपा। राष्ट्रपति ने दिया पांच लाख 100 रुपये का चेकइससे पहले केंद्र सरकार ने एक रुपये, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 11 लाख रुपये, उद्धव ठाकरे की शिवसेना ने एक करोड़ रुपये और मोरारी बापू ने 11 करोड़ रुपये का दान दिये है। वहीं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र निधि संग्रह अभियान में भगवान राम के मंदिर निर्माण...
In Pics: Ayodhya Deepotsav 2020
Latest News, States, Uttar Pradesh

In Pics: Ayodhya Deepotsav 2020

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित राजयपाल आनंदी बेन पटेल भी रहीं मौजूद In Pics: Ayodhya Deepotsav 2020In Pics: Ayodhya Deepotsav 2020In Pics: Ayodhya Deepotsav 2020In Pics: Ayodhya Deepotsav 2020In Pics: Ayodhya Deepotsav 2020In Pics: Ayodhya Deepotsav 2020In Pics: Ayodhya Deepotsav 2020
Babri Masjid demolition case: बाबरी विध्वंस मामले में आरोपी भाजपा दिग्गजों का कल सियासी पारी का सबसे बड़ा फैसला
Latest News

Babri Masjid demolition case: बाबरी विध्वंस मामले में आरोपी भाजपा दिग्गजों का कल सियासी पारी का सबसे बड़ा फैसला

Babri Masjid demolition case: CBI court to pronounce verdict tomorrow आज कई नेताओं की सियासत अगर चमक रही है या सिंहासन पर विराजमान हैं तो इन भाजपा के दिग्गज नेताओं का संघर्ष है । 'लेकिन यह बुजुर्ग भाजपाई आज पार्टी से दरकिनार होकर अपने जीवन की आखरी बाजी खेलने को मजबूर हैं' । हम आज बात करेंगे उन वरिष्ठ नेताओं की, जिनकी बदौलत आज भारतीय जनता पार्टी देश ही नहीं दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बन गई है । 'इन कद्दावर नेताओं ने पार्टी को शिखर पर पहुंचाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी लेकिन अपनी सियासत में एक ऐसा कलंक लगा जो 28 वर्षों के बाद भी नहीं खत्म हुआ है' । जी हां हम बात कर रहे हैं अयोध्या में बाबरी विध्वंस मामले की । हम बात को आगे बढ़ाएं आपको लगभग 30 वर्ष पहले लिए चलते हैं । 90 के दशक में भारतीय जनता पार्टी अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए देशभर में आंदोलन चला रही थी । 'उस दौर में पार्टी के ते...