मंगलवार, अक्टूबर 26Digitalwomen.news

Tag: Mayawati

ओवैसी की पार्टी से गठबंधन की अटकलों को विराम देते हुए बीएसपी ने यूपी विधानसभा चुनाव अकेले लड़ने का किया ऐलान
Latest News, News, Politics, States, Uncategorized, Uttar Pradesh

ओवैसी की पार्टी से गठबंधन की अटकलों को विराम देते हुए बीएसपी ने यूपी विधानसभा चुनाव अकेले लड़ने का किया ऐलान

BSP will fight alone in Uttar Pradesh आने वाले साल 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान बहुजन समाज पार्टी और असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआईएम के साथ संभावित गठबंधन की अटकलों के बीच मायावती की पार्टी बहुजन समाज पार्टी ने यह स्पष्ट कर दिया है कि बहुजन समाज पार्टी अकेले चुनाव लड़ेगी।बहुजन समाज पार्टी ने रविवार को घोषणा की कि वह अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव उत्तर प्रदेश में अकेले लड़ेगी और किसी अन्य पार्टी के साथ कोई गठबंधन नहीं करेगी। मीडिया से बात करते हुए, BSP महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने यह स्पष्ट किया है कि , "हमारी पार्टी 2022 के यूपी विधानसभा चुनाव किसी अन्य पार्टी के साथ गठबंधन में नहीं लड़ेगी." हम अकेले चुनाव लड़ेंगे और सरकार बनाएंगे।" बता दें की यह पहली बार नहीं है जब BSP ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर अकेले चुनाव लड़ने पर अपना इरादा स्पष्ट किया है। इससे पहले...
Uttar Pradesh: Congress will start Dalit Swabhiman Yatra on August 3
DW Editorial, Latest News, News, Politics, Uttar Pradesh

Uttar Pradesh: Congress will start Dalit Swabhiman Yatra on August 3

सियासी दांव- बसपा-सपा के ब्राह्मण सम्मेलन के बीच कांग्रेस भी निकालेगी दलित स्वाभिमान यात्रा Congress will start Dalit Swabhiman Yatra on August 3 विधानसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में जातियों को रिझाने के लिए राजनीतिक दलों ने नया 'ट्रेंड' शुरू कर दिया है । वैसे नेताओं के चुनाव में जाति व्यवस्था को दूर रखने के लिए लंबे-चौड़े भाषण दिए जाते हैं। लेकिन यह सब बातें एक 'मंच' तक ही सीमित रह जाती हैं। 'देश में उत्तर प्रदेश और बिहार दो ऐसे राज्य हैं जहां सबसे अधिक चुनावों में नेताओं का जातियों पर ही फोकस रहता है'। अभी यूपी विधानसभा चुनाव होने में करीब छह महीने का समय बचा है लेकिन एक बार फिर से अलग-अलग जाति के मतदाताओं को लुभाने के लिए 'स्टेज' सजा लिए हैं। 'सपा, बसपा और कांग्रेस तीनों ही दल वोटबैंक को साधने में जुटे हैं'। जिसकी शुरुआत बसपा सुप्रीमो मायावती ने की। मायावती 23 जुलाई से यूपी मे...
मायावती के ब्राह्मण सम्मेलन के साथ अखिलेश भी करेंगे ‘पंडितजी प्रणाम’, योगी पहुंचे अयोध्या
DW Editorial, Latest News, News, Politics, Uncategorized

मायावती के ब्राह्मण सम्मेलन के साथ अखिलेश भी करेंगे ‘पंडितजी प्रणाम’, योगी पहुंचे अयोध्या

बात आज एक बार फिर उत्तर प्रदेश की। अगले साल की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों के नेता यूपी में 'पंडित जी को प्रणाम' करने निकले हुए हैं। उत्तर प्रदेश में चुनाव नजदीक हैं और राजनीतिक पार्टियों ने अपने-अपने 'दांव' चलने शुरू कर दिए हैं। ब्राह्मणों का साथ लेने के लिए सभी ने तैयारी शुरू कर दी है। पिछले दिनों बसपा सुप्रीमो मायावती के दूत और पार्टी के रणनीतिकार सतीश चंद्र मिश्र ने प्रभु श्री राम की धरती अयोध्या में जाकर सम्मेलन कर ब्राह्मणों का सम्मान करने की शुरुआत की । इस दौरान सतीश चंद मिश्रा ने कहा कि यदि प्रदेश के 13 फीसदी ब्राह्मण और 23 फीसदी दलित मिलकर भाईचारा कायम कर लें तो राज्य में बसपा की सरकार बनने से कोई नहीं रोक सकता । 'मिश्र ने कहा कि बसपा में ब्राह्मणों का हमेशा सम्मान रहा है' । बता दें कि बसपा सुप्रीमो मायावती के निर्देश पर सतीश चंद्र मिश्र पूरे प्र...
Latest News, News, Politics, States, Uttar Pradesh, Views

अयोध्या से बसपा ने ब्राह्मण सम्मेलन में मिशन 22 के एजेंडे में राम मंदिर पर भी लगाया दांव

बसपा ने आज यूपी मिशन 22 के लिए सियासी एजेंडे सामने लाना शुरू कर दिया है। जिसमें पार्टी ने ब्राह्मणों के साथ धर्म को भी जोड़ लिया है। जिसकी शुरुआत बसपा ने अयोध्या से ब्राह्मणों के साथ की। मतलब साफ है ब्राह्मणों के सहारे एक बार फिर से मायावती सत्ता के सिंहासन पर काबिज होने के लिए तैयारी शुरू कर दी है। बता दें कि उत्तर प्रदेश में बसपा ने भगवान श्रीराम, हनुमान और ब्राह्मणों से 'आशीर्वाद' लेकर अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव की हुंकार भर दी । आज बीएसपी ने श्री राम की धरती अयोध्या से कई निशाने साधे। बता दें कि ब्राह्मणों को साथ लाने के लिए मायावती ने शुक्रवार से यूपी में ब्राह्मण सम्मेलन की शुरुआत कर दी है। जिसकी शुरुआत आज से रामनगरी अयोध्या से की गई। पहले चरण में 23 से 29 जुलाई तक यूपी के 6 जिलों में ब्राह्मण सम्मेलन किए जाएंगे। बता दें कि बसपा उत्तर प्रदेश के अधिकांश जिलों में इस तरह के...
साल 2007 की तर्ज पर मायावती ब्राह्मण समाज को रिझाने के लिए आयोजित करेंगी सम्मेलन
DW Editorial, Latest News, News, Politics, States, Uttar Pradesh

साल 2007 की तर्ज पर मायावती ब्राह्मण समाज को रिझाने के लिए आयोजित करेंगी सम्मेलन

Mayawati"s Brahmin card पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी दौरे के बाद सपा, कांग्रेस और बसपा भी सक्रिय हो गई हैं। उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजधानी लखनऊ में मानसून के बीच सियासी तापमान 'गर्म' होना शुरू हो गया है। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी पिछले तीन दिनों से प्रदेश की सियासत की नब्ज टटोलने में लगी हुईं हैं। प्रियंका गांधी ने भी यूपी विधानसभा चुनाव से पहले 'गठबंधन' के संकेत दिए हैं। वहीं सपा प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी पार्टी कर्यकर्ताओं के साथ रणनीति बनाने में जुटे हुए हैं। पिछले दिनों सपा कार्यकर्ताओं ने योगी सरकार के खिलाफ जिला मुख्यालयों पर पंचायत चुनाव में धांधली का आरोप लगाकर प्रदर्शन भी किया था। कांग्रेस-सपा की तैयारियों के बीच बसपा ने भी अपने चुनावी 'पत्ते' खोलने शुरू कर दिए हैं।...
अखिलेश के जन्मदिन पर बसपा के बागी विधायक भी झूमे, मायावती का बढ़ा आक्रोश
Latest News, News, States, Uttar Pradesh

अखिलेश के जन्मदिन पर बसपा के बागी विधायक भी झूमे, मायावती का बढ़ा आक्रोश

BSP MLA Celebrates Akhilesh Yadav Birthday साल 2019 के लोकसभा चुनाव में बसपा और सपा ने एक साथ मिलकर चुनाव लड़ा था। लेकिन चुनाव परिणामों के कुछ दिनों बाद ही दोनों दलों ने एक दूसरे से संबंध 'तोड़' लिए थे। अब एक बार फिर यूपी विधानसभा चुनाव से पहले दोनों के बीच 'तकरार' और बढ़ती जा रही है। मायावती और अखिलेश के टकराव की मुख्य वजह बने हैं बसपा के बागी विधायक। इन विधायकों ने पिछले महीने सपा प्रमुख से मुलाकात की । उसके बाद बसपा सुप्रीमो ने अखिलेश यादव को 'चेतावनी' भी दी थी। आज पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के जन्मदिन पर एक बार फिर बसपा के बागी विधायकों ने मायावती का 'आक्रोश' और बढ़ा दिया । बता दें कि 1 जुलाई को अखिलेश यादव का जन्मदिन है। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अखिलेश को फोन करके बधाई दी। लेकिन मायावती ने सामान्य 'शिष्टाचार' भी नहीं निभाया । बसपा प्रमुख ने अखिलेश को न बधाई द...
बसपा-एआईएमआईएम के गठबंधन पर बनी बात तो शिवपाल यादव किधर खड़े होंगे
DW Editorial, Latest News, News, Politics, States, Uttar Pradesh, Views

बसपा-एआईएमआईएम के गठबंधन पर बनी बात तो शिवपाल यादव किधर खड़े होंगे

Uttar Pradesh Election 2022 काफी समय से खामोश बैठी बसपा प्रमुख मायावती ने धीरे-धीरे अपने 'पत्ते' खोलने शुरू कर दिए हैं। कुछ दिनों पहले पंजाब में अकाली दल से गठबंधन करने के बाद अब मायावती उत्तर प्रदेश के विधान सभा चुनाव को लेकर 'सक्रिय' हो गईं हैं। यूपी में चुनाव से पहले बसपा को एक ऐसे मजबूत 'साथी' की तलाश है जो समाजवादी पार्टी के वोट बैंक (मुस्लिम वर्ग) में सेंध लगा सके । यहां हम आपको बता दें कि बसपा में एक समय नसीमुद्दीन सिद्दीकी मुस्लिम समुदाय के सबसे बड़ा 'चेहरा' हुआ करते थे। तब बहुजन समाजवादी पार्टी के पास मुस्लिमों का भी एक अच्छा 'जनाधार' था। सिद्दीकी के बसपा से जाने के बाद मायावती के पास मुसलमानों को 'रिझाने' के लिए इस समुदाय से कोई बड़ा नेता नहीं बचा है। इसी को देखते हुए बसपा ने अब असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन एआईएमआईएम की ओर 'हाथ' बढ़ाया है। ...
25 साल पहले भाजपा ने बसपा का छीन लिया था साथी, मायावती-बादल की हुई ‘दोस्ती’
DW Editorial, Latest News, News, Politics

25 साल पहले भाजपा ने बसपा का छीन लिया था साथी, मायावती-बादल की हुई ‘दोस्ती’

SAD, BSP form alliance for Punjab Assembly polls 2022 कोरोना महामारी की दूसरी लहर कम होने के बाद राजनीतिक दलों ने सियासी मोहरे तलाशने शुरू कर दिए हैं। ‌अगले साल होने वाले पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियों में आपाधापी शुरू हो गई है। 'आज एक बार फिर पंजाब की सियासत पटल पर दो पुराने साथियों ने हाथ मिला लिए'। दोनों राजनीतिक दलों को एक दूसरे की मौजूदा समय में 'जरूरत' भी थी। चर्चा को आगे बढ़ाने से पहले यहां हम आपको बता दें कि 'बसपा के संस्थापक कांशीराम को उत्तर प्रदेश और पंजाब की सियासत ज्यादा भाती रही है' । एक बार फिर बसपा को पंजाब में अपनी पुरानी 'दोस्ती' याद आ गई । उत्तर प्रदेश के बाद सबसे अधिक पंजाब में बीएसपी का 'वोट बैंक' मजबूत माना जाता रहा है। यूपी में 'सुस्त' होती जा रही पार्टी अब पंजाब में अपनी 'जड़े' एक बार फिर से मजबूत करने के लिए तैयार है। साल 2022 की शुरु...
Uttar Pradesh: BSP’s Mayawati suspends 2 rebel MLAs
Latest News, News, Politics, States, Uttar Pradesh

Uttar Pradesh: BSP’s Mayawati suspends 2 rebel MLAs

उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले बसपा ने लिया बड़ा एक्शन, लालजी वर्मा और राम अचल राजभर को पार्टी से किया बर्खास्त Ram Achal RajbharMayawatiLalji VermaBSP's Mayawati suspends 2 rebel MLAs बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने आज बड़ी कार्रवाई करते हुए बसपा विधानमंडल दल के नेता लालजी वर्मा व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व राष्ट्रीय महासचिव राम अचल राजभर को बसपा से निष्कासित कर दिया है।वहीं शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली को बीएसपी की ओर से विधायक दल का नेता चुना गया है। BSP Suspended LalJi Verma and Ram Achal Rajbhar बता दें की राम अचल राजभर और लालजी वर्मा बसपा के शासनकाल में महत्वपूर्ण विभागों के मंत्री रहे हैं और पार्टी के कद्दावर नेता माने जाते हैं। बसपा के सत्ता से बाहर होने के बाद भी पिछड़े वर्ग के ये दो बड़े नेता अभी भी बसपा में थे। रामअचल राजभर की राजभर समाज पर और लालजी वर्मा की कुर्मी सम...
अंबेडकर जयंती पर विरोधियों की धड़कनें बढ़ाने वाली मायावती का ‘खामोश आयोजन’
Latest News, News

अंबेडकर जयंती पर विरोधियों की धड़कनें बढ़ाने वाली मायावती का ‘खामोश आयोजन’

न कोई आयोजन न चेहरे पर पहली जैसी मुस्कुराहट । न लंबे-चौड़े भाषण न किसी पर आरोप, जैसे सब कुछ बहुत जल्दी-जल्दी कहना चाहतीं हों। साथ ही कोई तड़क-भड़क भी नहीं, पूरी तरह सादगी का चोला ओढ़े बसपा सुप्रीमो मायावती की सियासत का सबसे खास दिन आज यूं ही 'खामोशी' के साथ बीत गया। हालांकि इस मौके पर मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस जरूर की लेकिन पहले जैसा 'रुतबा' नजर नहीं आया । अब बात को आगे बढ़ाते हैं । आज 14 अप्रैल है । इस दिन डॉ भीमराव अंबेडकर जयंती पर बहुजन समाजवादी पार्टी चीफ मायावती बड़े-बड़े आयोजन कर विरोधी दलों के नेताओं की 'धड़कनें' बढ़ा देती थीं ।लेकिन आज लखनऊ के बसपा कार्यालय में पूरे दिन सन्नाटा छाया रहा । पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के लिए अंबेडकर जयंती पार्टी की स्थापना से लेकर अपने शासनकाल तक दलितों को एकजुट करने के लिए सबसे बड़ा सियासी हथियार माना जाता है । बसपा सुप्रीमो इस दिन नेताओं और का...