शुक्रवार, सितम्बर 30Digitalwomen.news

Tag: farmers protest

Met PM Modi to discuss farm laws, he was arrogant, says Governor Satya Pal Malik
Latest News, News, Politics

Met PM Modi to discuss farm laws, he was arrogant, says Governor Satya Pal Malik

कृषि कानून पर राज्यपाल मलिक के तेवर भाजपा के लिए बने गले की फांस, पीएम मोदी को कहा घमंडी Met PM Modi to discuss farm laws, he was arrogant, says Governor Satya Pal Malik अब कृषि कानून भी केंद्र सरकार ने खत्म कर दिया है। दिल्ली में डेरा जमाए किसान भी घर लौट चुके हैं। यानी अब कृषि कानून बीते दिनों की बात हो गई है। लेकिन अभी भी मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक की केंद्र सरकार से नाराजगी बनी हुई है। मलिक लगातार कृषि कानून को लेकर पीएम मोदी पर सवाल उठा रहे हैं। ‌भाजपा सरकार भी उन्हें खूब बर्दाश्त किए हुए हैं। ‌ अब एक बार फिर से राज्यपाल सतपाल मलिक ने पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा है। बात को आगे बढ़ाने से पहले बता दें कि सत्यपाल मलिक पश्चिम उत्तर प्रदेश के मेरठ बेल्ट के रहने वाले हैं। जिस प्रकार से गवर्नर मलिक प्रधानमंत्री पर आरोप लगा रहे हैं उतना तो किसानों और उनके नेताओं ने भी भाजपा सरक...
Kisan Diwas 2021: Celebrating the birthday of Chaudhary Charan Singh (Indian National Farmers Day)
DW Editorial, Latest News, News, TRENDING

Kisan Diwas 2021: Celebrating the birthday of Chaudhary Charan Singh (Indian National Farmers Day)

राष्ट्रीय किसान दिवस: किसानों के अधिकार और उनके विकास के लिए चौधरी चरण सिंह कभी पीछे नहीं हटे Kisan Diwas 2021: Celebrating the birthday of Chaudhary Charan Singh (Indian National Farmers Day) JOIN OUR WHATSAPP GROUP आज राष्ट्रीय किसान दिवस है। किसान जिसे अन्नदाता कहा जाता है। यही वह इंसान है जो देश का पेट भरता है। किसानों को भारत के आर्थिक विकास की रीढ़ माना जाता है। देश के समग्र आर्थिक और सामाजिक विकास में किसानों की महत्वपूर्ण भूमिका के लिए भी यह दिवस मनाया जाता है। आज भारत के अन्नदाता किसानों के लिए बेहद खास दिन हैं, क्योंकि राष्ट्रीय किसान दिवस मनाया जा रहा है।‌‌ वहीं इस दिन कृषि और लोगों को शिक्षित करने और ज्ञान प्रदान करने के महत्व पर विभिन्न कार्यक्रम, सेमिनार, समारोह आयोजित किए जाते हैं। पिछले वर्ष मोदी सरकार ने कृषि कानून लगाने के बाद देशभर के किसानों में भारी नाराजगी...
Farmers call off year-long stir, to leave Delhi borders from today
DW Editorial, Latest News, News

Farmers call off year-long stir, to leave Delhi borders from today

एक साल बाद किसान जीत और उत्साह के साथ दिल्ली से अपने घरों की ओर लौटने लगे Farmers call off year-long stir, to leave Delhi borders from today पिछले एक साल से अधिक कृषि कानून को लेकर आंदोलन कर रहे किसान आज राजधानी दिल्ली से अपने घरों की ओर लौटने लगे हैं। दिल्ली की सीमाओं पर लगे किसानों के तंबू आज हटा लिए गए। इसके साथ दिल्‍ली के टिकरी, सिंघु और यूपी-गाजीपुर बॉर्डर से किसान अपने-अपने घरों के लिए ट्रैक्टर और अन्य साधनों से लौटने लगे हैं। किसानों के आंदोलन और घर वापसी से केंद्र सरकार को भी राहत मिली है। बता दें कि कृषि बिलों की वापसी और प्रस्ताव पर सरकार से समझौते के बाद किसानों ने 10 दिसंबर को विजय दिवस मनाने और घर वापसी का एलान किया था लेकिन हेलीकॉप्टर क्रैश में सीडीएस बिपिन रावत और अन्य सैन्य अधिकारियों के निधन की वजह से किसानों ने अपना प्लान एक दिन के लिए टाल दिया। किसानों ने साफ किया...
कृषि कानून को लेकर दिल्ली में डेरा जमाए बैठे किसानों ने अपना आंदोलन किया खत्म, 11 दिसंबर को मोर्चे होंगे खाली
Breaking News, In Pictures, Latest News, News, Politics, TRENDING

कृषि कानून को लेकर दिल्ली में डेरा जमाए बैठे किसानों ने अपना आंदोलन किया खत्म, 11 दिसंबर को मोर्चे होंगे खाली

Farmers End 15-Month Protest जैसे पहले ही कयास लगाए जा रहे थे कि किसान गुरुवार को अपना आंदोलन खत्म करने का एलान कर सकते हैं। आखिरकार दोपहर बाद किसानों ने बैठक करने के बाद यह आंदोलन खत्म करने का निर्णय लिया है। ‌ बता दें कि। एक साल से जारी किसान आंदोलन अब खत्म हो गया। संयुक्त किसान मोर्चा ने इसका एलान किया है।इससे पहले मोर्चा ने लंबी बैठक की, जिसके बाद घर वापसी पर फैसला लिया गया। किसान नेता बलवीर राजेवाल ने कहा कि हम सरकार को झुकाकर वापस जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि 15 जनवरी को किसान मोर्चा की फिर बैठक होगी, जिसमें आगे की रणनीति पर चर्चा होगी। किसान वापसी के ऐलान के बाद 11 दिसंबर से दिल्ली बॉर्डर से किसान लौटेंगे। Farmers End 15-Month Protest, will leave the protesting site on Dec 11 राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसानों ने भी 'घर वापसी' की तैयारी शुरू कर दी है। सिंघु-को...
बनी सहमति, दिल्ली में डटे किसान आज आंदोलन को खत्म करने का एलान कर सकते हैं
Latest News, TRENDING

बनी सहमति, दिल्ली में डटे किसान आज आंदोलन को खत्म करने का एलान कर सकते हैं

Farmers may end Protest today राजधानी दिल्ली में एक साल से अधिक चले आ रहे किसान आंदोलन का आज आखिरी दिन हो सकता है। किसानों और सरकार के बीच सहमति बन रही है। संयुक्त किसान मोर्चा ने बुधवार को कहा कि उनकी लंबित मांगों को लेकर केंद्र के संशोधित मसौदा प्रस्ताव पर आम सहमति बन गई है और आंदोलन के लिए भविष्य की रणनीति तय करने को लेकर बृहस्पतिवार को बैठक होगी। यह बैठक गुरुवार दोपहर 12 बजे दिल्ली के सिंघु बॉर्डर होनी है। इसी बैठक के बाद किसानों के घर लौटने का एलान किया जा सकता है। नए मसौदा प्रस्ताव पर सरकार की तरफ से औपचारिक संदेश प्राप्त होते ही किसानों का आंदोलन तुरंत समाप्त कर दिया जाएगा। बुधवार को पांच वरिष्ठ किसान नेताओं ने सरकार की तरफ से दिए गए नए प्रस्तावों पर चर्चा की। इनमें हजारों किसानों के खिलाफ दर्ज पुलिस केस तत्काल वापस लिए जाने की बात शामिल है। सरकार ने किसानों को एक प्रस्ताव भेजा ...
UP elections 2022: Rs 25 lakh to kin of all farmers who died during protests, Samajwadi Party (SP) chief Akhilesh Yadav
Latest News, News, States, Uttar Pradesh

UP elections 2022: Rs 25 lakh to kin of all farmers who died during protests, Samajwadi Party (SP) chief Akhilesh Yadav

अखिलेश का एलान, सरकार बनी तो आंदोलन में शहीद हुए किसानों के परिवारों को देंगे 25 लाख Rs 25 lakh to kin of all farmers who died during protests, Samajwadi Party (SP) chief Akhilesh Yadav आज दोपहर केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कनूनों को वापस लेने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश में विपक्षी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने भी किसान आंदोलन को लेकर बड़ा एलान किया। विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को ट्वीट करते हुए कहा कि कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन करने के दौरान शहीद हुई किसान परिवारों को 25-25 लाख रुपये देंगे। अखिलेश यादव ने कहा कि किसान का जीवन अनमोल होता है, क्योंकि वो 'अन्य' के जीवन के लिए 'अन्न' उगाता है। ऐसे में हम हम वचन देते हैं कि 2022 में समाजवादी पार्टी की सरकार के आते ह...
Crucial farmer unions’ meet today: Farmers Protest, Rallies to Continue As Planned, MSP issue in focus now
Uncategorized

Crucial farmer unions’ meet today: Farmers Protest, Rallies to Continue As Planned, MSP issue in focus now

एमएसपी पर किसान संगठनों की अहम बैठक आज, 29 नवंबर की तय तारीख पर हीं होंगे संसद तक ट्रैक्टर मार्च Crucial farmer unions' meet today: Farmers Protest, Rallies to Continue As Planned, MSP issue in focus now प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरु गोविंद सिंह पर पर्व पर कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा के दूसरे दिन शनिवार को सिंघु बॉर्डर पर पंजाब से जुड़े किसान संगठनों ने बैठक की गई। इस बैठक में तय किया गया है कि 22 नवंबर को प्रस्तावित लखनऊ रैली व 29 नवंबर को संसद मार्च के आयोजन का कार्यक्रम पूर्ववत रहेगा। इसमें किसी तरह का बदलाव नहीं होगा। इस फैसले पर अंतिम मुहर लगाने के लिए रविवार को संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक होगी। इसमें प्रधानमंत्री की घोषणा के बाद पैदा हुए हालात व किसान आंदोलन की आगे की रणनीति तय की जाएगी।बता दें की किसान संगठनों ने यह स्पष्ट कर दिया है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी...
1 year and 700 lives lost, but Indian protestors have succeeded in repealing anti-farming laws
Latest News

1 year and 700 lives lost, but Indian protestors have succeeded in repealing anti-farming laws

Surinder S. Jodhka, Jawaharlal Nehru University 1 year and 700 lives lost, but Indian protestors have succeeded in repealing anti-farming laws Days short of the first anniversary of the farmers’ protests, Indian Prime Minister Narendra Modi said in a televised address the government had decided to repeal the three new farm laws. The prime minister also said a committee would be formed to address the farmers concerns. The committee would be made up of farmers’ representatives and agriculture policy experts. The announcement was made on the day of an important Sikh festival that marks the birth anniversary of Guru Nanak Dev, the first of the ten Sikh gurus. Farm leaders welcomed the move, but said the protests won’t end immediately. They say they will wait until the laws are formal...
32 Farmers Union To Meet And Decide On Ending Protests
Latest News

32 Farmers Union To Meet And Decide On Ending Protests

देश के 32 किसान संगठनों की अहम बैठक आज, लेंगे बड़ा फैसला 32 Farmers Union To Meet And Decide On Ending Protests प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने के ऐलान के बाद आज 32 किसान संगठनों की बैठक होने जा रही है। इस बैठक में सभी किसान संगठन आगे की रणनीति तैयार करने वाले हैं।बता दें की पीएम मोदी ने शुक्रवार को गुरु पर्व के दिन राष्ट्र को संबोधित करते हुए तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का एलान किया साथ हीं एक साल से ज्यादा समय से कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों से आंदोलन खत्म करने की अपील की और अपने खेत व परिवार के बीच लौटने का आग्रह किया।  पीएम मोदी ने इस दौरान राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा की अगले महीने संसद के शीतकालीन सत्र में तीनों कृषि कानून को वापस लेने की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। पर मोदी के इस फैसले को कुछ किसान संगठनों ने...
कुंडली बॉर्डर के पास पेड़ से लटका मिला किसान का शव, जांच पड़ताल जारी
Latest News, States, Uttar Pradesh

कुंडली बॉर्डर के पास पेड़ से लटका मिला किसान का शव, जांच पड़ताल जारी

कुंडली बॉर्डर पर कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों में से एक किसान का शव आज सुबह सुशांत सिटी के पास नीम के पेड़ पर फंदे पर लटका मिला है।मृतक किसान भारतीय किसान यूनियन एवं संयुक्त किसान मोर्चा के प्रमुख नेता जगजीत सिंह दल्लेवाल के संगठन का सदस्य था। मृतक किसान का नाम गुरप्रीत सिंह था जो कि पंजाब के रुड़की का रहने वाला था और अपने गांव की ट्रॉली में अकेला ही रह रहा था। फिल्हाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल के शव गृह में भिजवा दिया है।  ...