शनिवार, जनवरी 28Digitalwomen.news

Tag: Farmers Produce Trade and Commerce (Promotion and Facilitation) Ordinance

कृषि कानून को लेकर दिल्ली में डेरा जमाए बैठे किसानों ने अपना आंदोलन किया खत्म, 11 दिसंबर को मोर्चे होंगे खाली
Breaking News, In Pictures, Latest News, News, Politics, TRENDING

कृषि कानून को लेकर दिल्ली में डेरा जमाए बैठे किसानों ने अपना आंदोलन किया खत्म, 11 दिसंबर को मोर्चे होंगे खाली

Farmers End 15-Month Protest जैसे पहले ही कयास लगाए जा रहे थे कि किसान गुरुवार को अपना आंदोलन खत्म करने का एलान कर सकते हैं। आखिरकार दोपहर बाद किसानों ने बैठक करने के बाद यह आंदोलन खत्म करने का निर्णय लिया है। ‌ बता दें कि। एक साल से जारी किसान आंदोलन अब खत्म हो गया। संयुक्त किसान मोर्चा ने इसका एलान किया है।इससे पहले मोर्चा ने लंबी बैठक की, जिसके बाद घर वापसी पर फैसला लिया गया। किसान नेता बलवीर राजेवाल ने कहा कि हम सरकार को झुकाकर वापस जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि 15 जनवरी को किसान मोर्चा की फिर बैठक होगी, जिसमें आगे की रणनीति पर चर्चा होगी। किसान वापसी के ऐलान के बाद 11 दिसंबर से दिल्ली बॉर्डर से किसान लौटेंगे। Farmers End 15-Month Protest, will leave the protesting site on Dec 11 राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसानों ने भी 'घर वापसी' की तैयारी शुरू कर दी है। सिंघु-को...
Kisan Andolan: Farmers block highways, rail tracks; Punjab, Bihar, Delhi-UP traffic affected
Bihar, Breaking News, Latest News, Other States, States, Uttar Pradesh

Kisan Andolan: Farmers block highways, rail tracks; Punjab, Bihar, Delhi-UP traffic affected

किसानों का हल्ला बोल, हरियाणा, पंजाब से लेकर यूपी, बिहार तक असर दिखना शुरू Farmers block highways, rail tracksFarmers block highways, rail tracksFarmers block rail tracks in PunjabFarmers block highways in JehanabadKisan Andolan: Farmers block highways, rail tracks; Punjab, Bihar, Delhi-UP traffic affected कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों ने आज भारत बंद करने का ऐलान किया है। संयुक्त किसान मोर्चा ने सभी 40 घटक संगठनों से सुबह छह बजे से शाम चार बजे तक अपने यहां गतिविधियां बंद कराने के लिए जुटने का आह्वान किया है। इस बंद का असर उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, बिहार समेत कई राज्यों में देखने के लिए मिल रहा है। बिहार में राजद, कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों के कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए हैं। आंदोलनकारी यातायात को बाधित करवा रहे हैं। बिहार के पटना, वैशाली, आरा, दरभंगा, अरवल, औरंग...
आज खत्म हो सकता है किसानों और अफसरों के बीच टकराव, आज सुबह 9 बजे होगी अहम बैठक
Latest News, Other States, States

आज खत्म हो सकता है किसानों और अफसरों के बीच टकराव, आज सुबह 9 बजे होगी अहम बैठक

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे करनाल के बसताड़ा टोल पर 28 अगस्त को किसानों पर हुए लाठीचार्ज के बाद एसडीएम आयुष सिन्हा के खिलाफ सख्त कार्रवाई समेत अन्य मांगों को लेकर करनाल में चल रहा किसानों और अफसरों के बीच आज टकराव खत्म होने के आसार दिखाई पड़ रहे हैं।बता दें कि शुक्रवार देर रात तक अफसरों और किसानों की बैठक चली है। सरकार के निर्देश पर किसानों से बातचीत करने के लिए शुक्रवार को कृषि विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) देवेंद्र सिंह करनाल पहुंचे हुए थे। जबकि किसानों की ओर से इस बैठक में भाकियू हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ूनी समेत पंद्रह सदस्यीय कमेटी के किसान नेता भी शामिल थे।शुक्रवार रात को खत्म हुई अतिरिक्त मुख्य सचिव और किसान नेताओं के बीच बैठक का एक और दौर आज सुबह 9 बजे चलेगा। इस बैठक में सरकार की ओर से अतिरिक्त मुख्य सचिव किसानों के समक्ष अपना अंतिम निर्णय रखेंग...
राकेश टिकैत के ‘दमदार आंसुओं’ ने किसान आंदोलनों को फिर दी धार, सरकार के तेवर ढीले
Latest News

राकेश टिकैत के ‘दमदार आंसुओं’ ने किसान आंदोलनों को फिर दी धार, सरकार के तेवर ढीले

वाह राकेश टिकैत ! हारी हुई बाजी पूरी तरह से पलट कर रख दी । आंसुओं का सैलाब ऐसा निकला कि केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के तेवरों को भी ढीला कर गया। यही नहीं राकेश टिकैत के दिए गए भावुक संदेश के बाद विपक्ष के तमाम नेताओं ने एक बार फिर किसानों का समर्थन करते हुए केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है । गणतंत्र दिवस की हिंसा के बाद जो किसान आंदोलन कमजोर पड़ता दिख रहा था, उसमें फिर से जान आ गई है। गुरुवार को जैसे अटकलें लग रही थी कि किसानों का आंदोलन रात तक खत्म हो जाएगा ।‌ लेकिन एक बार फिर किसानों का आंदोलन रफ्तार पकड़ता हुआ दिख रहा है । अब किसान आंदोलन का सेंटर सिंघु बॉर्डर नहीं बल्कि दिल्ली-यूपी के गाजीपुर बॉर्डर पर है। बता दें कि आंदोलन का और धार देने के लिए पश्चिमी यूपी और हरियाणा के अलग-अलग इलाकों से किसान गाजीपुर बॉर्डर पर जुटने लगे हैं । अब आपको गुरुवार शाम की घटनाक्...
32 साल पहले भी दिल्ली में जमा हुए लाखों किसानों ने देश पर ‘कलंक’ नहीं लगाया था
Latest News, News

32 साल पहले भी दिल्ली में जमा हुए लाखों किसानों ने देश पर ‘कलंक’ नहीं लगाया था

गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को राजधानी दिल्ली में अराजक हुए किसानों की 'कलंक गाथा' को देशवासी लंबे समय तक भूल नहीं पाएंगे । पूरे पांच घंटे तक हिंसा और आगजनी की लपटों में घिरी राजधानी लहूलुहान होती रही । कानून व्यवस्था को अपने हाथ में लेकर हजारों उपद्रवी किसान तांडव मचाते रहे । इन सबके बीच दिल्ली पुलिस लाचार बनी रही । राजधानी की सड़कों पर हिंसा की भयावह तस्वीरें देखकर पूरा देश अपने आप पर शर्मिंदा हुआ । राजधानी की सड़कों पर हिंसा-आगजनी से दिल्लीवासी एक बार फिर से सहम गए । ऐसा नहीं है कि दिल्ली के लाल किले पर खुलेआम हिंसा के जिम्मेदार अराजक तत्व थे बल्कि इसमें कई किसान भी शामिल थे, जिन्होंने ट्रैक्टर परेड को हिंसा में तब्दील कर दिया । गणतंत्र दिवस पर किसानों के मचाए गए उपद्रव की 32 साल पुरानी एक बार फिर यादें ताजा कर दी ।‌ बता दें कि उस समय दिल्ली में लाखों प्रदर्शनकारी किसानों के जमा होने के ...
Congress leaders Rahul Gandhi and Priyanka Gandhi Vadra today Leads Congress Delhi Protest (Pics & Video)
In Pictures, Latest News

Congress leaders Rahul Gandhi and Priyanka Gandhi Vadra today Leads Congress Delhi Protest (Pics & Video)

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कृषि विरोधी कानूनों के खिलाफ किसानों के समर्थन में जंतर मंतर पर किया प्रदर्शन, कहा सरकार वापस ले किसान विरोधी सभी कानून मोदी-माया टूट गयी, मोदी सरकार का अहंकार भी टूटेगा लेकिन अन्नदाता का हौसला ना टूटा है, ना टूटेगा। सरकार को कृषि विरोधी क़ानून वापस लेने ही होंगे! - Rahul Gandhi https://videopress.com/v/V0r6CqAm?preloadContent=metadata Congress leaders Rahul Gandhi and Priyanka Gandhi Vadra today Leads Congress Delhi Protest ...
Protesting Farmers Bang Thalis As PM Modi Addresses “Mann Ki Baat”
Latest News

Protesting Farmers Bang Thalis As PM Modi Addresses “Mann Ki Baat”

साल के आखिरी 'मन की बात' में पीएम मोदी का अन्नदाताओं ने फीका किया अंदाज-ए-बयां Protesting Farmers Bang Thalis As PM Modi Addresses "Mann Ki Baat" अपनी ब्रांडिंग करने के लिए केंद्र की मोदी सरकार का कोई जवाब नहीं । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को जनता के सामने अंदाज-ए-बयां करने में महारथ हासिल है । 'पीएम मोदी का अपना ही सुपरहिट चुनावी मंत्र सबका साथ सबका विकास का किसान मजाक उड़ा रहे हैं' । यह भी सही है कि केंद्र की भाजपा सरकार के नए कृषि कानून को लागू करने पर अन्नदाता पीएम मोदी को ही गुनाहगार मान रहा है । अब बात करते हैं महीने के आखिरी रविवार की । आज 27 दिसंबर को साल 2020 का आखिरी संडे है । हर माह के आखिरी रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रेडियो पर 'मन की बात' कार्यक्रम के माध्यम से देशवासियों को संबोधित करते आ रहे हैं । 'आज जब पीएम मन की बात कार्यक्रम को संबोधित...
Farmers Protest: Farmer Unions Start day-long relay hunger strike today
Latest News

Farmers Protest: Farmer Unions Start day-long relay hunger strike today

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आज से शुरू होगा अलग तौर से प्रदर्शन Farmers Protest: Farmer Unions Start day-long relay hunger strike today कृषि कानूनों के खिलाफ अपनी मांगों पर पिछले 25 दिनों से डटे किसानों अब केंद्र सरकार तक अपनी बात पहुंचाने के लिए अब नई युक्ति अपनाने वाले हैं। इसके लिए किसानों ने आज से पूरे एक सप्ताह के दौरान अलग अलग तरीके से किसान केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध जताएंगे।  इस दौरान सभी धरना स्थलों पर 11-11 किसान सोमवार यानी आज से बुधवार तक अनशन करेंगे, भाजपा नेताओं को ज्ञापन सौंपकर कृषि कानूनों को वापस लेने, किसान दिवस पर दोपहर का भोजन न बनाने का निर्णय लिया है। 26-27 को हरियाणा के सभी टोल प्लाजा को फ्री किया जाएगा तो एक कॉरपोरेट घराने के सभी खाद्य उत्पादों के बहिष्कार का किसानों ने निर्णय लिया है। ...
Farmers Protest 2020: Modi Government Underestimated Farmers Protest At Every Step
Latest News

Farmers Protest 2020: Modi Government Underestimated Farmers Protest At Every Step

कृषि कानून के खिलाफ किसानों का आंदोलन राष्ट्रव्यापी होगा मोदी सरकार को नहीं था इल्म Modi Government Underestimated Farmers Unions At Every Step आज बात उस आंदोलन की होगी जो देश की राजधानी दिल्ली की चौखट पर पिछले 25 दिनों से सर्द शीतलहर में किया जा रहा है । 'यह एक ऐसा विरोध-प्रदर्शन है जिसमें चेहरों पर आक्रोश और अजीब सी दहशत है, इसके बावजूद इरादे बुलंद हैं । लाखों आंखें जैसे कह रहीं हैं कि हमारे साथ न्याय नहीं हुआ है' । उसके बावजूद भी वो ऐसे कानून को वापस लिए जाने की जिद पर अड़े हैं, जिसे भाजपा सरकार ऐतिहासिक बता रही है। वे इस उम्मीद में कृषि सुधार कानूनों को वापस लेने के लिए दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर डटे हैं । कड़ाके की ठंड और अपनों की जान भी इनका इरादा नहीं डिगा सकी है। हर दिन बुलंद होती आवाज में एक ही स्वर सुनाई दे रहे हैं, 'चाहे कितनी ही ठंड क्यों न पड़े हम यहां से तब तक वापस नह...
Shradhanjali Diwas Today: Protesting farmers to observe ‘Shradhanjali Diwas’ in villages across the country
Uncategorized

Shradhanjali Diwas Today: Protesting farmers to observe ‘Shradhanjali Diwas’ in villages across the country

कृषि कानूनों के विरोध में जान देने वाले किसानों को आज दी जाएगी श्रद्धांजलि Protesting farmers to observe 'Shradhanjali Diwas' in villages across the country पूरे देश में कड़ाके की ठंड और शीत लहर के बीच कृषि कानूनों के विरोध में किसान दिल्ली की सीमाओं पर 22 दिनों से डटे हैं। कड़ाके की ठंड में भी किसानों ने केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आवाज बुलंद है। इस बीच आज इस आंदोलन के दौरान जान गंंवाने वाले किसानों को याद किया जाएगा।किसान संगठनों ने आज देशव्यापी श्रद्धांजलि सभा के बारे में भी आपस में चर्चा की। किसान नेताओं का मानना है कि खेती-किसानी बचाने के लिए करीब 30 किसानों ने अपने जान दी है। इनकी याद में होने वाली श्रद्धांजलि सभाओं से देश के हर गांव का किसान आंदोलन से जुड़ जाएगा। किसान एकता मोरचा..श्रद्धांजलि दिवस🙏🙏🙏.20 दिसंबर 2020#DigitalKisan #DigitalKisanMorcha pic.twitter...