रविवार, सितम्बर 25Digitalwomen.news

Tag: farmers march

कृषि कानून को लेकर दिल्ली में डेरा जमाए बैठे किसानों ने अपना आंदोलन किया खत्म, 11 दिसंबर को मोर्चे होंगे खाली
Breaking News, In Pictures, Latest News, TRENDING

कृषि कानून को लेकर दिल्ली में डेरा जमाए बैठे किसानों ने अपना आंदोलन किया खत्म, 11 दिसंबर को मोर्चे होंगे खाली

Farmers End 15-Month Protest जैसे पहले ही कयास लगाए जा रहे थे कि किसान गुरुवार को अपना आंदोलन खत्म करने का एलान कर सकते हैं। आखिरकार दोपहर बाद किसानों ने बैठक करने के बाद यह आंदोलन खत्म करने का निर्णय लिया है। ‌ बता दें कि। एक साल से जारी किसान आंदोलन अब खत्म हो गया। संयुक्त किसान मोर्चा ने इसका एलान किया है।इससे पहले मोर्चा ने लंबी बैठक की, जिसके बाद घर वापसी पर फैसला लिया गया। किसान नेता बलवीर राजेवाल ने कहा कि हम सरकार को झुकाकर वापस जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि 15 जनवरी को किसान मोर्चा की फिर बैठक होगी, जिसमें आगे की रणनीति पर चर्चा होगी। किसान वापसी के ऐलान के बाद 11 दिसंबर से दिल्ली बॉर्डर से किसान लौटेंगे। Farmers End 15-Month Protest, will leave the protesting site on Dec 11 राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसानों ने भी 'घर वापसी' की तैयारी शुरू कर दी है। सिंघु-को...
बनी सहमति, दिल्ली में डटे किसान आज आंदोलन को खत्म करने का एलान कर सकते हैं
Latest News, TRENDING

बनी सहमति, दिल्ली में डटे किसान आज आंदोलन को खत्म करने का एलान कर सकते हैं

Farmers may end Protest today राजधानी दिल्ली में एक साल से अधिक चले आ रहे किसान आंदोलन का आज आखिरी दिन हो सकता है। किसानों और सरकार के बीच सहमति बन रही है। संयुक्त किसान मोर्चा ने बुधवार को कहा कि उनकी लंबित मांगों को लेकर केंद्र के संशोधित मसौदा प्रस्ताव पर आम सहमति बन गई है और आंदोलन के लिए भविष्य की रणनीति तय करने को लेकर बृहस्पतिवार को बैठक होगी। यह बैठक गुरुवार दोपहर 12 बजे दिल्ली के सिंघु बॉर्डर होनी है। इसी बैठक के बाद किसानों के घर लौटने का एलान किया जा सकता है। नए मसौदा प्रस्ताव पर सरकार की तरफ से औपचारिक संदेश प्राप्त होते ही किसानों का आंदोलन तुरंत समाप्त कर दिया जाएगा। बुधवार को पांच वरिष्ठ किसान नेताओं ने सरकार की तरफ से दिए गए नए प्रस्तावों पर चर्चा की। इनमें हजारों किसानों के खिलाफ दर्ज पुलिस केस तत्काल वापस लिए जाने की बात शामिल है। सरकार ने किसानों को एक प्रस्ताव भेजा ...
Crucial farmer unions’ meet today: Farmers Protest, Rallies to Continue As Planned, MSP issue in focus now
Uncategorized

Crucial farmer unions’ meet today: Farmers Protest, Rallies to Continue As Planned, MSP issue in focus now

एमएसपी पर किसान संगठनों की अहम बैठक आज, 29 नवंबर की तय तारीख पर हीं होंगे संसद तक ट्रैक्टर मार्च Crucial farmer unions' meet today: Farmers Protest, Rallies to Continue As Planned, MSP issue in focus now प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरु गोविंद सिंह पर पर्व पर कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा के दूसरे दिन शनिवार को सिंघु बॉर्डर पर पंजाब से जुड़े किसान संगठनों ने बैठक की गई। इस बैठक में तय किया गया है कि 22 नवंबर को प्रस्तावित लखनऊ रैली व 29 नवंबर को संसद मार्च के आयोजन का कार्यक्रम पूर्ववत रहेगा। इसमें किसी तरह का बदलाव नहीं होगा। इस फैसले पर अंतिम मुहर लगाने के लिए रविवार को संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक होगी। इसमें प्रधानमंत्री की घोषणा के बाद पैदा हुए हालात व किसान आंदोलन की आगे की रणनीति तय की जाएगी।बता दें की किसान संगठनों ने यह स्पष्ट कर दिया है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी...
500 farmers to march to Parliament every day during winter session
Latest News, TRENDING

500 farmers to march to Parliament every day during winter session

कृषि आंदोलन के 1 साल होने पर शीतकालीन सत्र कर दौरान रोजाना 500 किसान भवन करेंगे संसद भवन पर मार्च 500 farmers to march to Parliament every day during winter session (Photo by Anindito Mukherjee/Getty Images) केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन लगभग 1 साल से जारी है। इस बीच कल मंगलवार को सोनीपत के कुंडली बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा की अहम बैठक हुई, जिसमें इस बैठक में 26 नवंबर को दिल्ली कूच और आंदोलन की नई रणनीति को लेकर अहम फैसले किए गए हैं। किसान संगठन के इस बैठक में फैसला किया गया कि 29 नवंबर से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान रोजाना 500 किसान ट्रैक्टर लेकर संसद भवन की तरफ मार्च करेंगे। वहीं, आंदोलन की पहली बरसी यानी 25 नवंबर की पूर्व संध्या तक पंजाब और हरियाणा के और किसान दिल्ली की सीमाओं की ओर बढ़ेंगे। इस दौरान किसान...
Kisan Andolan: Farmers block highways, rail tracks; Punjab, Bihar, Delhi-UP traffic affected
Bihar, Breaking News, Latest News, Other States, States, Uttar Pradesh

Kisan Andolan: Farmers block highways, rail tracks; Punjab, Bihar, Delhi-UP traffic affected

किसानों का हल्ला बोल, हरियाणा, पंजाब से लेकर यूपी, बिहार तक असर दिखना शुरू Farmers block highways, rail tracksFarmers block highways, rail tracksFarmers block rail tracks in PunjabFarmers block highways in JehanabadKisan Andolan: Farmers block highways, rail tracks; Punjab, Bihar, Delhi-UP traffic affected कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों ने आज भारत बंद करने का ऐलान किया है। संयुक्त किसान मोर्चा ने सभी 40 घटक संगठनों से सुबह छह बजे से शाम चार बजे तक अपने यहां गतिविधियां बंद कराने के लिए जुटने का आह्वान किया है। इस बंद का असर उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, बिहार समेत कई राज्यों में देखने के लिए मिल रहा है। बिहार में राजद, कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों के कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए हैं। आंदोलनकारी यातायात को बाधित करवा रहे हैं। बिहार के पटना, वैशाली, आरा, दरभंगा, अरवल, औरंग...
आज खत्म हो सकता है किसानों और अफसरों के बीच टकराव, आज सुबह 9 बजे होगी अहम बैठक
Latest News, Other States, States

आज खत्म हो सकता है किसानों और अफसरों के बीच टकराव, आज सुबह 9 बजे होगी अहम बैठक

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे करनाल के बसताड़ा टोल पर 28 अगस्त को किसानों पर हुए लाठीचार्ज के बाद एसडीएम आयुष सिन्हा के खिलाफ सख्त कार्रवाई समेत अन्य मांगों को लेकर करनाल में चल रहा किसानों और अफसरों के बीच आज टकराव खत्म होने के आसार दिखाई पड़ रहे हैं।बता दें कि शुक्रवार देर रात तक अफसरों और किसानों की बैठक चली है। सरकार के निर्देश पर किसानों से बातचीत करने के लिए शुक्रवार को कृषि विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) देवेंद्र सिंह करनाल पहुंचे हुए थे। जबकि किसानों की ओर से इस बैठक में भाकियू हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ूनी समेत पंद्रह सदस्यीय कमेटी के किसान नेता भी शामिल थे।शुक्रवार रात को खत्म हुई अतिरिक्त मुख्य सचिव और किसान नेताओं के बीच बैठक का एक और दौर आज सुबह 9 बजे चलेगा। इस बैठक में सरकार की ओर से अतिरिक्त मुख्य सचिव किसानों के समक्ष अपना अंतिम निर्णय रखेंग...
West Bengal: TMC Calls BKU leader Rakesh Tikait To West Bengal
Latest News, Other States, States

West Bengal: TMC Calls BKU leader Rakesh Tikait To West Bengal

टीएमसी ने किसान यूनियन प्रवक्ता राकेश टिकैत को बुलाया बंगाल, हो सकती है कृषि कानूनों के खिलाफ आगे की रणनीति तय TMC Calls BKU leader Rakesh Tikait To West Bengal केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान 26 नवंबर 2020 से दिल्ली की सीमाओं पर डटे हुए हैं। किसान सरकार से इन कृषि कानूनों को वापस लेने की अपनी मांग पर अपनी मांग पर अड़े हैं। कोरोना संक्रमण के दूसरे लहर के आते ही यह आंदोलन थोड़ी ठंडी पड़ गई थी लेकिन अब एक बार फिर से पिछले कुछ दिनों में कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग के साथ भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता और किसान नेता राकेश टिकैत दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के साथ प्रदर्शन कर रहे हैं।वहीं दूसरी ओर खबर यह आई है की भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत को 9 जून को तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल बुलाया है। ममता बनर्जी और राकेश टिकैत की इस बैठक में कयास लगाए ...
India’s farmers are right to protest against agricultural reforms
Latest News

India’s farmers are right to protest against agricultural reforms

India's farmers are right to protest against agricultural reforms Proponents of the new laws claim they will help India’s agricultural sector, but small, rural farmers fear losing their livelihoods. AP Photo/Altaf Qadri Sanjay Ruparelia, Ryerson University The massive campaign organized by India’s farmers against laws to deregulate the agricultural sector has entered its ninth week. The government in New Delhi, led by the Bharatiya Janata Party (BJP), has tried to negotiate a compromise. But its attempts to placate the farmers have thus far failed. The strength of the mobilization has now compelled the government to suspend the laws for 18 months and form a new committee including representatives of the government and the farmers to address th...
गणतंत्र दिवस पर किसान नेताओं ने ट्रैक्टर परेड शांतिपूर्वक आयोजित करने के निर्देश किए जारी
Delhi NCR, Latest News

गणतंत्र दिवस पर किसान नेताओं ने ट्रैक्टर परेड शांतिपूर्वक आयोजित करने के निर्देश किए जारी

26th Jan Farmers Tractor Rally किसान नेताओं ने 26 जनवरी को किसानों के ट्रैक्टर परेड में शामिल होने वाले लोगों से परेड के दौरान शांति बनाए रखने की रविवार को अपील की है। इस दौरान किसान नेताओं ने सभी किसानों के लिए कुछ निर्देश भी जारी किए है।किसान नेताओं ने कहा है कि किसी के पास भी कोई हथियार या शराब नहीं होनी चाहिए साथ हीं भड़काऊ संदेश वाले बैनर की अनुमति नहीं दी जाएगी। परेड शुरू करने के लिए तीन स्थान तय किए गए हैं जिनमें सिंघू, टीकरी एवं गाजीपुर बॉर्डर शामिल हैं। परेड के दौरान किसान नेता अपनी कार में सबसे आगे चलेंगे। प्रत्येक ट्रैक्टर पर तिरंगा झंडा लगा रहेगा और इस दौरान लोक संगीत एवं देशभक्ति गीत बजेंगे। प्रत्येक ट्रैक्टर पर केवल पांच लोगों के सवार होने की अनुमति रहेगी। सभी को अपनी परेड की शुरुआत के स्थान पर वापस आना है। ...