गुरूवार, सितम्बर 29Digitalwomen.news

Tag: COVID19

Breaking News – कोरोना के रोकथाम के लिए कल कैबिनेट मंत्रियों की होगी बैठक।
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19

Breaking News – कोरोना के रोकथाम के लिए कल कैबिनेट मंत्रियों की होगी बैठक।

कोरोना के रोकथाम के लिए कल कैबिनेट मंत्रियों की होगी बैठक। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना के संक्रमण से बचने और अर्थ्यवस्था के उपर हो सकता है विचार।
The Delhi government  issued around 4.75 lakh e-tokens to buy liquor – दिल्ली सरकार ने शराब खरीदने के लिए लगभग 4.75 लाख ई टोकन
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, Delhi NCR, States

The Delhi government issued around 4.75 lakh e-tokens to buy liquor – दिल्ली सरकार ने शराब खरीदने के लिए लगभग 4.75 लाख ई टोकन

दिल्ली सरकार ने शराब खरीदने के लिए लगभग 4.75 लाख ई टोकन दिल्ली सरकार ने शराब की बिक्री के लिए ई टोकन लागू किया है। आपको बता दें कि लॉक डाउन 3.0 के दौरान केंद्र सरकार ने कुछ हिदायतों के साथ शराब की बिक्री की अनुमति थी लेकिन शराब के लिए लोगों में आपाधापी काफी ज्यादा देखते हुए दिल्ली सरकार ने ई टोकन से बिक्री का निर्णय लिया है। दिल्ली सरकार ने यह कदम सोशल डिसटेंसिंग को बनाए रखने के लिए उठाया है ताकी लोग कोरोना के संक्रमण से बच सकें। इस एप के जरिए अब अगर आप शराब ख़रीदना चाहते हैं तो https://www.qtoken.in लिंक पर जाकर आस पास की दुकान पर जाने का समय ले सकते हैं। इसके बाद आपको दुकान पर जाने के समय का एक ई-कूपन आपके मोबाइल पर भेज दिया जाएगा। आप निर्धारित समय के बीच दुकान पर जाएँ आपको लम्बी लाईन में नहीं लगना पड़ेगा। ...
Coronavirus frequently asked questions – Covid19 : सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19

Coronavirus frequently asked questions – Covid19 : सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न

कोरोना वायरस क्या है ।यह वायरस एक बड़ा समूह है जो जानवरों में आम है लेकिन मनुष्य भी इससे अछूते नहीं हैं इनमें सामान्य जुकाम से लेकर गंभीर बीमारी जैसे की मिडल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम और सीवियर एक्यूट रेस्पिरेट्री सिंड्रोम भी शामिल हैं।नोबेल कोरोना वायरस या कोविड-19 क्या है?नोवेल कोरोना वायरस क्या कोविड-19 की पहचान सबसे पहले चीन के वुहान शहर में 2019 में हुआ था यह एक नया कोरोनावायरस है जिससे मनुष्यों ने पहले कभी नहीं देखा था।कोरोना वायरस के लक्षण विश्व स्वास्थ संगठन यानी कि WHO द्वारा कोरोना वायरस के लक्षणों में सूखी खांसी के साथ गले में दर्द, सांस लेने में तकलीफ,बुखार, थकान और शरीर में दर्द का जिक्र है।साथ ही विश्व स्वास्थ संगठन ने यह भी बताया है कि बहुत ही कम लोगों में दस्त उल्टी और नाक के बहने जैसे लक्षण नजर आएं हैं।कैसे फैलता है कोरोना वायरस?यह वायरस आमतौर पर हवा से या छूने से फैल...
राजद नेता मनोज झा ने की बिहार सरकार से गुहार, बिहारियों को वापस लाने के लिए आगे आएं मुख्यमंत्री
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19

राजद नेता मनोज झा ने की बिहार सरकार से गुहार, बिहारियों को वापस लाने के लिए आगे आएं मुख्यमंत्री

राजद नेता मनोज झा ने की बिहार सरकार से गुहार, बिहारियों को वापस लाने के लिए आगे आएं मुख्यमंत्री https://www.youtube.com/watch?v=90PKuVMr0Z4
Uttar Pradesh Congress launches chat portal ‘UP Mitra’ to reach out people stuck in Lockdown – उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने लांच किया ‘यूपी मित्र’ नाम का चैट पोर्टल
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19

Uttar Pradesh Congress launches chat portal ‘UP Mitra’ to reach out people stuck in Lockdown – उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने लांच किया ‘यूपी मित्र’ नाम का चैट पोर्टल

उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने लांच किया 'यूपी मित्र' नाम का चैट पोर्टल यूपी मित्र चैट पोर्टल tinyurl.com/UPmitra उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने कोरोना महामारी में आम लोगों की मदद के लिए 'यूपी मित्र' नाम का चैट पोर्टल लांच किया है। इस पोर्टल को वैल्यूफर्स्ट नाम की एजेंसी ने तैयार किया है। वैल्यू फर्स्ट ने कांग्रेस पार्टी को यह सेवा निशुल्क उपलब्ध कराई है। इस चैट पोर्टल के जरिये आम लोगों की समस्याओं को सूचीबद्ध किया जाएगा और उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी यथासंभव शिकायतकर्ताओं की मदद करेगी।इन समस्याओं की सूची मुख्यमंत्री को भेजी जाएगी ताकि सरकार भी आपदा में फंसे लोगों की मदद करे। उत्तरप्रदेश कांग्रेस उत्तरप्रदेश में कई जगहों पर रसोईघर चला रही हैं, जैसे गाज़ियाबाद, हापुड़, कानपुर, इलाहाबाद, लखीमपुर खीरी, लखनऊ समेत 17 जिलों में जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। ...
Lockdown Chronicle – In Pics – लॉक डाउन में भी मजदूरी को मजबूर लोग
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, Delhi NCR, In Pictures

Lockdown Chronicle – In Pics – लॉक डाउन में भी मजदूरी को मजबूर लोग

तपती धूप भारी दोपहरी में अब भी इनकी आंखें यह टक टकी लगाए बैठी है कि शायद कोई ग्राहक इन्हें मिल जाए और इनके घर का राशन पानी आ सके - Ganesh Nagar - East Delhi रोजाना पेट भरने के लिए छोटे मोटे काम करने वाले लोग आज लॉक डाउन के कारण बेहद लाचार हो चुके हैं । Picture By Abhishek Sharma – Guruangad Nagar – East Delhi Picture By Abhishek Sharma – Guruangad Nagar – East Delhi Picture By Abhishek Sharma – Guruangad Nagar – East Delhi रोजाना पेट भरने के लिए छोटे मोटे काम करने वाले लोग आज लॉक डाउन के कारण बेहद लाचार हो चुके हैं - Picture By Abhishek Sharma – Guruangad Nagar – East Delhi ...
Lockdown Chronicle – In Pics – तपती दुपहरी में सवारी के इंतजार में रिक्शा चालक
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, Delhi NCR, In Pictures, Views

Lockdown Chronicle – In Pics – तपती दुपहरी में सवारी के इंतजार में रिक्शा चालक

तपती दुपहरी में सवारी के इंतजार में रिक्शा चालक......Picture - Laxmi Nagar - East Delhi कोरोना में बढ़ते संक्रमण के बीच गरीब लोग अपने रोजी रोटी के लिए अब भी बाहर निकलने के लिए मजबूर हैं लेकिन कोई कमाई नहीं ।
PM Cares fund should be transparent – पीएम फंड का ऑडिट हो ताकि किसने कितने पैसे दियें है उसका साफ पता लगाया जा सके।
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19

PM Cares fund should be transparent – पीएम फंड का ऑडिट हो ताकि किसने कितने पैसे दियें है उसका साफ पता लगाया जा सके।

कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष और नेता राहुल गांधी ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के दौरान मोदी सरकार पर उठाया सवाल, कहा पीएम फंड का ऑडिट हो ताकि किसने कितने पैसे दियें है उसका साफ पता लगाया जा सके। https://videopress.com/v/pE3DdOVz?preloadContent=metadata
Lockdown Chronicle – In Pictures – मुस्किलें हों हजार, हम हार नहीं मानेंगे….
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, Delhi NCR, In Pictures, States, Views

Lockdown Chronicle – In Pictures – मुस्किलें हों हजार, हम हार नहीं मानेंगे….

मुस्किलें हों हजार, हम हार नहीं मानेंगे.... मुस्किलें हों हजार, हम हार नहीं मानेंगे.... Picture: Ganesh Nagar - East Delhi Picture: Mother Dairy - East Delhi
अपने घर वापसी के लिए तरस रहे दिहाड़ी मजदूर….
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, Views

अपने घर वापसी के लिए तरस रहे दिहाड़ी मजदूर….

अपने घर वापसी के लिए तरस रहे दिहाड़ी मजदूर.... आज की भी सुबह वैसी ही थी जैसी पिछ्ले 44 दिनों से चल रहे लॉक डाउन में थी। आज के भी सुबह में कोई बदलाव नहीं दिख रहे थे क्यों की स्थिति ही कुछ ऐसी बनी हुई है।कोरोना कि महामारी की वज़ह से देश में चल रहे तीसरे चरण के लॉक डाउन में लोगों को कुछ ऐतिहात तो मिल गए  लेकिन सवाल उनके लिए था जो इस दौरान बेघर और लाचार थें। माना हमें भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा और पड़ रहा है लेकिन उनका क्या जो इस दौरान जिन्हें संक्रमण से बचने के साथ साथ अपनी रोजी रोटी की भी चिंता सता रही है।भारत के कई शहरों में फंसे हजारों प्रवासी मज़दूरों के पास न तो नौकरी है और न ही पैसा और लॉक डाउन के दौरान ऐसी परिस्थिति आ चुकी थी कि कई हजार मजदूर पैदल ही अपने राज्यों की ओर जाने के लिए मजबूर हो गए थे।इस दौरान इनकी स्थिति इतनी दयनीय बन चुकी है कि जो मजदूर अपने घर से दूर कि...