गुरूवार, दिसम्बर 9Digitalwomen.news

Tag: COVID-19

External Affairs Minister S Jaishankar to participate In SCO foreign minister’s virtual meet on COVID-19 – आज विदेश मंत्री एस. जय शंकर होंगें एससीओ की बैठक में शामिल..
कोविड 19, लॉक डाउन, Breaking News, COVID19, Latest News, News

External Affairs Minister S Jaishankar to participate In SCO foreign minister’s virtual meet on COVID-19 – आज विदेश मंत्री एस. जय शंकर होंगें एससीओ की बैठक में शामिल..

आज विदेश मंत्री एस. जय शंकर होंगें एससीओ की बैठक में शामिल.. विदेश मंत्री एस. जयशंकर शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की आज होने वाली बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भाग लेंगे ,जहां कई देशों के विदेश मंत्री शामिल रहेंगे।इस वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में अन्तर्राष्ट्रीय और क्षेत्रीय मुद्दों के अलावा कोरोना वायरस के खिलाफ आपसी सहयोग पर भी बातचीत की जाएगी। आपको बता दें कि भारत और पाकिस्तान को 2017 में इस संगठन का सदस्य बनाया गया था। इस से पहले एससीओ के संस्थापक सदस्यों में चीन, रूस, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, तजाकिस्तान और उज्बेकिस्तान शामिल हैं जिसमें भारत और पाकिस्तान मिलाकर 8 देश अब सदस्य हैं। ...
Maharashtra Government: Free intra-state bus travel from May 11 2020 – महाराष्ट्र सरकार ने की नई पहल,राज्यों के अंदर देगी मुफ्त बस सेवाएं…
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, News, Other States, States

Maharashtra Government: Free intra-state bus travel from May 11 2020 – महाराष्ट्र सरकार ने की नई पहल,राज्यों के अंदर देगी मुफ्त बस सेवाएं…

महाराष्ट्र सरकार ने की नई पहल,राज्यों के अंदर देगी मुफ्त बस सेवाएं… महाराष्ट्र सरकार ने सोमवार से राज्य में फंसे लोगों की मदद के लिए राज्य के अंदर मुफ्त बस सेवा की शुरुआत करने का फैसला किया है। ये बसें राज्य के अंदर ही अन्य जिलों में फंसे लोगों को उनके गृह जिले तक लेकर जाएंगी लेकिन इसके लिए आपको  डिप्टी कमिश्नर से इसकी अनुमति लेनी होगी।यह बस सुविधा उन यात्रियों को लिए है जो किसी अन्य शहर में अनजाने में फंस गए हैं और परेशानियों का सामना कर रहे हैं।महाराष्ट्र सरकार ने कुछ सर्तों के साथ बस सुविधा शुरू की है जैसे की बस में केवल 22 लोगों को बैठने की अनुमति होगी। इसके लिए बस में सफर करने वाले को जानकारी के साथ ऑनलाइन अप्लाई कर करना होगा। इसके आलवा राज्य सरकार ने कुछ नियम भी बनाई है जिन्हें इस बस में बैठेंगे वाले लोगों को पालन करना होगा जैसे एक सीट पर सिर्फ एक ही व्यक्ति को बैठने की अनुम...
Breaking News – कोरोना के रोकथाम के लिए कल कैबिनेट मंत्रियों की होगी बैठक।
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, News

Breaking News – कोरोना के रोकथाम के लिए कल कैबिनेट मंत्रियों की होगी बैठक।

कोरोना के रोकथाम के लिए कल कैबिनेट मंत्रियों की होगी बैठक। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना के संक्रमण से बचने और अर्थ्यवस्था के उपर हो सकता है विचार।
The Delhi government  issued around 4.75 lakh e-tokens to buy liquor – दिल्ली सरकार ने शराब खरीदने के लिए लगभग 4.75 लाख ई टोकन
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, NCR, News, States

The Delhi government issued around 4.75 lakh e-tokens to buy liquor – दिल्ली सरकार ने शराब खरीदने के लिए लगभग 4.75 लाख ई टोकन

दिल्ली सरकार ने शराब खरीदने के लिए लगभग 4.75 लाख ई टोकन दिल्ली सरकार ने शराब की बिक्री के लिए ई टोकन लागू किया है। आपको बता दें कि लॉक डाउन 3.0 के दौरान केंद्र सरकार ने कुछ हिदायतों के साथ शराब की बिक्री की अनुमति थी लेकिन शराब के लिए लोगों में आपाधापी काफी ज्यादा देखते हुए दिल्ली सरकार ने ई टोकन से बिक्री का निर्णय लिया है। दिल्ली सरकार ने यह कदम सोशल डिसटेंसिंग को बनाए रखने के लिए उठाया है ताकी लोग कोरोना के संक्रमण से बच सकें। इस एप के जरिए अब अगर आप शराब ख़रीदना चाहते हैं तो https://www.qtoken.in लिंक पर जाकर आस पास की दुकान पर जाने का समय ले सकते हैं। इसके बाद आपको दुकान पर जाने के समय का एक ई-कूपन आपके मोबाइल पर भेज दिया जाएगा। आप निर्धारित समय के बीच दुकान पर जाएँ आपको लम्बी लाईन में नहीं लगना पड़ेगा। ...
Coronavirus frequently asked questions – Covid19 : सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, Views

Coronavirus frequently asked questions – Covid19 : सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न

कोरोना वायरस क्या है ।यह वायरस एक बड़ा समूह है जो जानवरों में आम है लेकिन मनुष्य भी इससे अछूते नहीं हैं इनमें सामान्य जुकाम से लेकर गंभीर बीमारी जैसे की मिडल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम और सीवियर एक्यूट रेस्पिरेट्री सिंड्रोम भी शामिल हैं।नोबेल कोरोना वायरस या कोविड-19 क्या है?नोवेल कोरोना वायरस क्या कोविड-19 की पहचान सबसे पहले चीन के वुहान शहर में 2019 में हुआ था यह एक नया कोरोनावायरस है जिससे मनुष्यों ने पहले कभी नहीं देखा था।कोरोना वायरस के लक्षण विश्व स्वास्थ संगठन यानी कि WHO द्वारा कोरोना वायरस के लक्षणों में सूखी खांसी के साथ गले में दर्द, सांस लेने में तकलीफ,बुखार, थकान और शरीर में दर्द का जिक्र है।साथ ही विश्व स्वास्थ संगठन ने यह भी बताया है कि बहुत ही कम लोगों में दस्त उल्टी और नाक के बहने जैसे लक्षण नजर आएं हैं।कैसे फैलता है कोरोना वायरस?यह वायरस आमतौर पर हवा से या छूने से फैल...
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्देश पर उप्र कांग्रेस ने कोरोना आपदा में फंसे मजदूरों, जरूरतमंदों के लिए  जारी की यूपी मित्र हेल्पलाइन नंबर।
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, News

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्देश पर उप्र कांग्रेस ने कोरोना आपदा में फंसे मजदूरों, जरूरतमंदों के लिए जारी की यूपी मित्र हेल्पलाइन नंबर।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्देश पर उप्र कांग्रेस ने कोरोना आपदा में फंसे मजदूरों, जरूरतमंदों के लिए  जारी की यूपी मित्र हेल्पलाइन नंबर।
Coronavirus miseries hunt jobs in India, India’s unemployment rate climbs – लॉक डाउन से खोया देश के युवाओं ने रोजगार – कोरोना संकट में बेरोजगारी दर बढ़ी…
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, News

Coronavirus miseries hunt jobs in India, India’s unemployment rate climbs – लॉक डाउन से खोया देश के युवाओं ने रोजगार – कोरोना संकट में बेरोजगारी दर बढ़ी…

COVID 19 के संक्रमण और महामारी के अलावा देश में रहने वाले लोग बेरोजगारी की महामारी को भी झेलने के लिए मजबूर हो गए हैं।लगातार लंबे चल रहे लॉक डाउन के कारण देश की अर्थवयवस्था के कई महत्वपूर्ण क्षेत्र इस से काफी प्रभावित हुए हैं।इसके अलावा दूसरी ओर सबसे बड़ा संकट रोजगार के क्षेत्र में सामने आया है।आपको बता दें कि निजी क्षेत्र प्रमुख थिंक टैंक ने अपने सर्वे में बताया है कि इस लॉक डाउन की वज़ह से भारत में पिछ्ले महीने अप्रैल में 12 करोड़ 20 लाख लोग बेरोजगार हो गए है और पिछले 40 दिनों के लॉक डाउन के बाद लगभग 130 करोड़ आबादी वाले देश में कई उद्योग बंद हो गए हैं। लॉक डाउन के दूसरे चरण 3 मई को समाप्त होते होते देश में बेरोजगारी दर 27.11% पर पहुंच गई है। सेंटर फॉर मॉनिटारिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमआईई) के सर्वे के मुताबिक इस लॉक डाउन का सबसे ज्यादा दिहाड़ी मजदूरों और छोटे व्यवसायों से जुड़े लोगों क...
Lockdown 3.0 begins: India’s new guidelines for the COVID19 lockdown – लॉक डाउन के तीसरे चरण में मिलेगी आज से छूट…
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, News

Lockdown 3.0 begins: India’s new guidelines for the COVID19 lockdown – लॉक डाउन के तीसरे चरण में मिलेगी आज से छूट…

देश में लॉकडाउन का दूसरा चरण 3 मई को समाप्त हो चुका है और इसके साथ ही आज से लॉक डाउन के तीसरे चरण की शुरूआत हो चुकी है जो आज यानि 4 मई से 17 मई तक चलेगी।केंद्र और राज्य सरकार ने कोरोना के संक्रमण के आधार पर जो कि ग्रीन, रेड, और ऑरेंज जोन है लोगों को छूट देने की बात कही है। पिछले दो लॉक डाउन के दौरान देश में लोगों किसी भी तरह की छूट नहीं थी और ना ही किसी व्यक्ति को घर से बाहर निकलने की अनुमति थी। और ना ही किसी भी तरह का  आवागमन ,स्कूल, कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थान, प्रशिक्षण व कोचिंग संस्थान को खुलने की अनुमति थी।आपको बता दें कि आज पूरे देश में 130 रेड जोन हैं और अब जब देश 40 दिनों के लॉक डाउन पूरी कर चुका है तब सरकार कोरोना के संक्रमण को जड़ से खत्म करने के लिए तीसरे लोक डाउन की घोषणा की है।सरकार के द्वारा तीसरे लॉकडाउन में कई छूटें दी गई हैं, लेकिन अब भी सीमित रूप में जोन के हिसाब से।इ...
Lockdown 3.0 : Lockdown impact on Indian Economy – India lockdown extended for two more weeks – लॉक डाउन और आर्थिक मंदी ….
कोविड 19, लॉक डाउन, COVID19, News, Views

Lockdown 3.0 : Lockdown impact on Indian Economy – India lockdown extended for two more weeks – लॉक डाउन और आर्थिक मंदी ….

कल यानी 3 मई को लॉक डाउन का दूसरा चरण भी समाप्त होने वाला है और तीसरी बार 14 दिनों की लॉक डाउन का तीसरा चरण भी शुरू होने वाला है। लेकिन क्या आपको पता है लगातार 40 दिनों से चल रहे लॉक डाउन की वज़ह से आज पूरे देश में नकदी कि समस्या सबसे ज्यादा सामने आ रही है। एक सर्वे के दौरान यह पता लगाया गया था कि भारत में कई अकाउंट धारक अपने पीएफ अकाउंट से पैसे निकाल रहें हैं। इसके साथ साथ देखा जा रहा है कि कई बैंक अपने क्रेडिट कार्ड्स कि लिमिट्स भी कम कर रहें हैं क्यों कि उनका मानना है कि अगर नगदी कि समस्या रही तो लोग कार्ड का पेमेंट समय पर नहीं कर पाएंगे। ऐसा नहीं कि यह पहली बार हुआ है जब आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट घटाई गई है, क्यों की आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट आपकी आमदनी और क्रेडिट हिस्ट्री पर निर्भर करती है । लेकिन इस बार जिस तरह से COVID 19 का असर भारत  पर ही नहीं पूरे विश्व पर है तो बैंकें और भी...