गुरूवार, दिसम्बर 9Digitalwomen.news

Tag: Chardham Yatra

बाबा केदारनाथ में पीएम मोदी के आने से पहले त्रिवेंद्र सिंह को लेकर पुरोहितों का विरोध सीएम धामी के लिए बना ‘सिरदर्द’
Latest News, News, States, Uttarakhand

बाबा केदारनाथ में पीएम मोदी के आने से पहले त्रिवेंद्र सिंह को लेकर पुरोहितों का विरोध सीएम धामी के लिए बना ‘सिरदर्द’

https://videopress.com/v/VfGJimSE?resizeToParent=true&cover=true&preloadContent=metadata आज सुबह उत्तराखंड के चारधामों में से एक बाबा केदारनाथ धाम में तीर्थ पुरोहितों का विरोध-प्रदर्शन देखने को मिला । जिससे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की तैयारियों को भी धक्का लगा है। तीर्थ पुरोहितों के विरोध पर मुख्यमंत्री धामी इसलिए सहम गए कि पिछले कई दिनों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 5 नवंबर को प्रस्तावित केदारनाथ यात्रा को लेकर तैयारियों में जुटे हुए हैं। सीएम धामी चाहते हैं कि पीएम मोदी केदारनाथ के दौरे तक कोई अड़चन न आने पाए। मुख्यमंत्री लगातार राजधानी देहरादून से चारों धाम को लेकर स्वयं मॉनिटरिंग करने में लगे हुए हैं। लेकिन सोमवार सुबह तीर्थ पुरोहितों ने एक बार फिर सड़क पर आकर 'देवस्थानम बोर्ड' को भंग करने को लेकर तीव्र प्रदर्शन किया । जिसकी 'गूंज' देहरादून तक सुनाई दी। आइए अब आपको...
चारधाम तीर्थ यात्री बर्फबारी का भी ले रहे लुत्फ, अब तक 3.22 लाख श्रद्धालुओं ने किए दर्शन
Latest News, News, States, Uttarakhand

चारधाम तीर्थ यात्री बर्फबारी का भी ले रहे लुत्फ, अब तक 3.22 लाख श्रद्धालुओं ने किए दर्शन

uttarakhand---char-dham-yatra देवभूमि में इन दिनों भक्त मौसम का लुत्फ उठा रहे हैं। कई पर्वती जिलों में बर्फबरी होने से बाहर से आए श्रद्धालु खुश है। पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी शुरू हो गई है। बुधवार को बदरीनाथ धाम में सीजन की पहली बर्फबारी हुई। वहीं, केदारनाथ और यमुनोत्री धाम की वादियां भी बर्फ से सराबोर हो गई हैं। उधर, कुमाऊं में दारमा घाटी भी बर्फ की सफेद चादर में लिपटी है। बुधवार शाम बदरीनाथ में अचानक हुई बर्फबारी के बाद धाम में कड़ाके की ठंड पड़ने लगी है। सुबह तक बदरीनाथ धाम में मौसम साफ था। लेकिन दोपहर बाद अचानक मौसम बदला और बर्फ पड़ने लगी। बर्फबारी के कारण यात्रियों को ठंड जरूर लग रही थी लेकिन आनंद भी आ रहा था। धाम की चोटियां पहले ही बर्फ से ढंक चुकी हैं। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 नवंबर को केदारनाथ धाम आने का कार्यक्रम प्रस्तावित है। जिसकी तैयारियों में धामी सरकार जुटी...
चार धाम यात्रा के लिए सीमित अनिवार्यता खत्म, अब हर रोज आ सकते हैं कितने भी श्रद्धालु
Latest News, News, States, Uttarakhand

चार धाम यात्रा के लिए सीमित अनिवार्यता खत्म, अब हर रोज आ सकते हैं कितने भी श्रद्धालु

आज नैनीताल हाईकोर्ट ने चार धाम यात्रा पर आने वाले तीर्थ यात्रियों को बड़ी राहत दी है। अभी तक तीर्थ यात्रियों के लिए यहां आने के लिए सीमित संख्या थी। जिसकी वजह से अन्य राज्यों से आने वाले यात्री परेशान थे। लेकिन मंगलवार को उच्च न्यायालय ने चार धाम यात्रा के लिए आ रहे श्रद्धालुओं के लिए सीमित संख्या का नियम खत्म कर दिया है। अब असीमित संख्या में श्रद्धालु चारधाम यात्रा कर सकेंगे। हाइकोर्ट में आज चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ाने के मामले में सुनवाई हुई। इस दौरान कोर्ट ने चारधाम में तीर्थयात्रियों की संख्या को लेकर फैसला सुनाया। बता दें कि पूर्व में कोर्ट ने केदारनाथ धाम के लिए प्रतिदिन 800, बदरीनाथ धाम के लिए 1000, गंगोत्री के लिए 600, यमुनोत्री के लिए 400 श्रद्धालुओं की ही अनुमति दी थी। यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़ाने को लेकर हाल ही में सरकार ने हाईकोर्ट में प...
Uttarakhand: Chardham Yatra To Begin From Sept 18 – Chief Minister Pushkar Singh Dhami 
Latest News, News, States, Uttarakhand

Uttarakhand: Chardham Yatra To Begin From Sept 18 – Chief Minister Pushkar Singh Dhami 

हाईकोर्ट के बाद धामी सरकार ने भी चार धाम तीर्थयात्रा के लिए दी हरी झंडी Chardham Yatra To Begin From Sept 18 - Chief Minister Pushkar Singh Dhami  हाईकोर्ट के फैसले के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी श्रद्धालुओं के लिए चार धाम यात्रा के लिए हरी झंडी दे दी है। इसके बाद श्रद्धालुओं में बड़ी राहत मिली है। ‌उत्तराखंड सरकार ने शुक्रवार को चारधाम यात्रा की तारीख की घोषणा कर दी है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बताया कि चारधाम यात्रा शनिवार 18 सितंबर से शुरू होगी। इससे पहले उत्तराखंड हाईकोर्ट ने गुरुवार को चारधाम यात्रा पर लगी रोक हटा दी और राज्य सरकार को कोविड-19 प्रोटोकॉल के सख्त अनुपालन के साथ यात्रा संचालित करने का निर्देश दिए थे । आपको बता दें कि कोरोना की वजह से चार धाम यात्रा पर अब तक रोक लगी हुई थी। इससे पहले कोर्ट ने सरकार को आदेश दिया था कि कोरोना प्रोटोकॉल के सभी नियमों...
सीएम धामी से मुलाकात के बाद चारों धामों के पुरोहितों ने दो साल से जारी धरना किया स्थगित
Latest News, News, States, Uttarakhand

सीएम धामी से मुलाकात के बाद चारों धामों के पुरोहितों ने दो साल से जारी धरना किया स्थगित

उत्तराखंड में पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, तीरथ सिंह रावत से लेकर धामी सरकार के लिए सिरदर्द बना चार धाम पुरोहितों का धरना प्रदर्शन समाप्त हो गया है। इसी के साथ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को भी बड़ी राहत मिली है। हालांकि पुरोहितों ने अपना धरना फिलहाल 30 अक्टूबर तक स्थगित किया है। बता दें कि त्रिवेंद्र सरकार ने करीब 2 साल पहले चार धाम मैं देवस्थानम बोर्ड का गठन किया था। त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस फैसले के विरोध में तभी से चारों धामों केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के तीर्थ पुरोहित आंदोलन कर रहे थे। शनिवार को देवस्थानम बोर्ड और चार धाम यात्रा को लेकर चारों धामों की पुरोहितों ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से देहरादून में उनके आवास पर मुलाकात की। मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद चारों धामों में देवस्थानम बोर्ड के विरोध में चल रहा धरना स्थगित कर दिया। सीएम धामी ने कहा...
उत्तराखंड सरकार ने चार धाम यात्रा को अगले आदेश तक स्थगित किया
Breaking News, Latest News, News, States, Uttarakhand

उत्तराखंड सरकार ने चार धाम यात्रा को अगले आदेश तक स्थगित किया

Char Dham Yatra उत्तराखंड में चार धाम यात्रा को लेकर राज्य सरकार ने नया यू-टर्न लिया है। अब उत्तराखंड सरकार ने चार धाम यात्रा को अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया है।बताया गया है कि ऐसा उत्तराखंड हाईकोर्ट के ऑर्डर को मानते हुए किया गया है। इससे पहले सोमवार रात को ही राज्य सरकार ने चार धाम यात्रा को लेकर कोविड गाइडलाइंस जारी की थीं, और साथ ही कहा था कि 1 जुलाई से यात्रा शुरू होगी। जबकि उत्तराखंड हाईकोर्ट ने यात्रा पर 7 जुलाई तक की रोक लगाई है। ...
हाईकोर्ट के रोक के बावजूद भी 1 जुलाई से चार धाम यात्रा होगी शुरू, यात्रा के लिए बनाए गए कई नए नियम
कोविड 19, COVID19, Latest News, News, States, Uncategorized, Uttarakhand

हाईकोर्ट के रोक के बावजूद भी 1 जुलाई से चार धाम यात्रा होगी शुरू, यात्रा के लिए बनाए गए कई नए नियम

उत्तराखंड सरकार ने उच्च न्यायालय की रोक के बावजूद चारधाम यात्रा को एक जुलाई से शुरू करने का फैसला लिया है। जबकि दूसरे चरण की यात्रा 11 जुलाई से होगी। बद्रीनाथ यात्रा के पहले चरण में चमोली जिले के लोगों के लिए, केदारनाथ की रुद्रप्रयाग जिले के लोगों के लिए, गंगोत्री व यमुनोत्री की यात्रा उत्तरकाशी जिले के लोगों के लिए सशर्त खोली जाएगी। इस दरमियान यात्रियों के कोविड जांच रिपोर्ट अनिवार्य होगी। परिवहनों को नहीं कराना होगा अलग पंजीकरण: चारधाम यात्रा के लिए परिवहन-पर्यटन में इस बार अलग-अलग पंजीकरण नहीं कराना होगा।सरकार ने इसकी पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी है, जिसके बाद एक ही वेबसाइट से पूरी प्रक्रिया हो जाएगी। जल्द ही इसकी लांचिंग की जायेगी।अभी तक एक ओर जहां परिवहन विभाग कॉमर्शियल वाहनों को ग्रीन कार्ड जारी करता था, वहीं पर्यटन विभाग में भी अलग से पंजीकरण कराना पड़ता था। इस समस्या के स...