गुरूवार, दिसम्बर 9Digitalwomen.news

Tag: Char Dham Devasthanam Board

देवस्थानम बोर्ड पर गर्म सियासत, पुरोहितों ने दून में निकाली आक्रोश रैली, पुलिस से हुई भिड़ंत
Latest News, News, States, Uttarakhand

देवस्थानम बोर्ड पर गर्म सियासत, पुरोहितों ने दून में निकाली आक्रोश रैली, पुलिस से हुई भिड़ंत

देवस्थानम बोर्ड को भंग करने को लेकर चारों धामों के तीर्थ पुरोहित और पंडा समाज अब खुलकर मैदान में आ गए हैं। वहीं दूसरी इस मामले में राज्य की सियासत गरमाने लगी है। संत-महंत से लेकर तीर्थ पुरोहितों ने बोर्ड को भंग करने की मांग और तेज कर दी है। विपक्षी दल कांग्रेस के नेता तीर्थ पुरोहितों के साथ आ गए हैं । धामी सरकार पर दबाव बनाने के लिए शनिवार दोपहर देहरादून घंटाघर के पास गांधी पार्क में हजारों की संख्या में तीर्थ पुरोहितों ने प्रदेश सरकार से देवस्थानम बोर्ड भंग करने को लेकर जोरदार प्रदर्शन किया। उसके बाद गांधी पार्क से सचिवालय तक काला दिवस मनाकर आक्रोश रैली निकाली। तीर्थ पुरोहितों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था।रैली के दौरान पुलिस ने सुभाष रोड स्थित बैरिकेडिंग पर तीर्थ पुरोहितों को रोक लिया। इस दौरान तीर्थ पुरोहितों और पुलिस से जबरदस्त तीखी नोकझ...
Uttarakhand: Chief Minister Pushkar Singh Dhami also wants to close the chapter of Devasthanam Board
Latest News, News, States, Uttarakhand

Uttarakhand: Chief Minister Pushkar Singh Dhami also wants to close the chapter of Devasthanam Board

पीएम मोदी के कृषि कानून वापसी के बाद धामी भी देवस्थानम बोर्ड का बंद करना चाहते हैं चैप्टर देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर में अगर किसी 'ट्रेंड' की शुरुआत हो जाती है तो वह कुछ दिनों तक लोगों के दिमाग में छाई रहती है। ‌इस ट्रेंड से लोग आसानी से जल्दी निकल नहीं पाते हैं। ‌पिछले 24 घंटे से देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीनों कृषि कानून को वापस लिए जाने के बाद देशवासियों के लिए एक नई राह भी खुल गई है। प्रधानमंत्री के इस फैसले के बाद लोगों ने कई कानून और बोर्ड को भंग करने की आवाज बुलंद कर दी है। शुक्रवार को पीएम मोदी के कृषि कानून को वापस करने के एलान के बाद दो सालों से नाराज चल रहे तीर्थ पुरोहित और पंडा समाज 'देवस्थानम बोर्ड' को भंग करने के लिए और मुखर हो गए हैं। एक बार फिर केदारनाथ, बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के नाराज तीर्थ पुरोहित धामी सरकार पर दबाव बनाने के लिए जल्द ही बैठक कर...
चार धाम यात्रा के लिए सीमित अनिवार्यता खत्म, अब हर रोज आ सकते हैं कितने भी श्रद्धालु
Latest News, News, States, Uttarakhand

चार धाम यात्रा के लिए सीमित अनिवार्यता खत्म, अब हर रोज आ सकते हैं कितने भी श्रद्धालु

आज नैनीताल हाईकोर्ट ने चार धाम यात्रा पर आने वाले तीर्थ यात्रियों को बड़ी राहत दी है। अभी तक तीर्थ यात्रियों के लिए यहां आने के लिए सीमित संख्या थी। जिसकी वजह से अन्य राज्यों से आने वाले यात्री परेशान थे। लेकिन मंगलवार को उच्च न्यायालय ने चार धाम यात्रा के लिए आ रहे श्रद्धालुओं के लिए सीमित संख्या का नियम खत्म कर दिया है। अब असीमित संख्या में श्रद्धालु चारधाम यात्रा कर सकेंगे। हाइकोर्ट में आज चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ाने के मामले में सुनवाई हुई। इस दौरान कोर्ट ने चारधाम में तीर्थयात्रियों की संख्या को लेकर फैसला सुनाया। बता दें कि पूर्व में कोर्ट ने केदारनाथ धाम के लिए प्रतिदिन 800, बदरीनाथ धाम के लिए 1000, गंगोत्री के लिए 600, यमुनोत्री के लिए 400 श्रद्धालुओं की ही अनुमति दी थी। यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़ाने को लेकर हाल ही में सरकार ने हाईकोर्ट में प...
सीएम धामी से मुलाकात के बाद चारों धामों के पुरोहितों ने दो साल से जारी धरना किया स्थगित
Latest News, News, States, Uttarakhand

सीएम धामी से मुलाकात के बाद चारों धामों के पुरोहितों ने दो साल से जारी धरना किया स्थगित

उत्तराखंड में पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, तीरथ सिंह रावत से लेकर धामी सरकार के लिए सिरदर्द बना चार धाम पुरोहितों का धरना प्रदर्शन समाप्त हो गया है। इसी के साथ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को भी बड़ी राहत मिली है। हालांकि पुरोहितों ने अपना धरना फिलहाल 30 अक्टूबर तक स्थगित किया है। बता दें कि त्रिवेंद्र सरकार ने करीब 2 साल पहले चार धाम मैं देवस्थानम बोर्ड का गठन किया था। त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस फैसले के विरोध में तभी से चारों धामों केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के तीर्थ पुरोहित आंदोलन कर रहे थे। शनिवार को देवस्थानम बोर्ड और चार धाम यात्रा को लेकर चारों धामों की पुरोहितों ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से देहरादून में उनके आवास पर मुलाकात की। मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद चारों धामों में देवस्थानम बोर्ड के विरोध में चल रहा धरना स्थगित कर दिया। सीएम धामी ने कहा...
त्रिवेंद्र सिंह के फैसले पर तीरथ के बाद धामी भी उलझे, पुरोहितों को देवस्थानम बोर्ड मंजूर नहीं
Latest News, News, States, Uttarakhand

त्रिवेंद्र सिंह के फैसले पर तीरथ के बाद धामी भी उलझे, पुरोहितों को देवस्थानम बोर्ड मंजूर नहीं

Uttarakhand Char Dham Devasthanam Management Board कुछ फैसले ऐसे होते हैं जो राज्य सरकारों की गले की फांस बन जाते हैं। नेतृत्व परिवर्तन होने के बाद भी कुछ पूर्व के आदेशों को पलटना नए मुख्यमंत्रियों के लिए 'आसान' नहीं होता है। आज बात करेंगे उत्तराखंड की भाजपा सरकार और चार धाम के तीर्थ पुरोहितों के बीच जारी 'घमासान' को लेकर। तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने केदारनाथ, बद्रीनाथ यमुनोत्री और गंगोत्री चारों धामों के साथ कुल 51 मंदिरों के लिए 'देवस्थानम बोर्ड गठित' किया था। इस गठन से उत्साहित त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा था उत्तराखंड के इतिहास में देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड का गठन अब तक का सबसे बड़ा सुधारात्मक कदम है और भविष्य की सोच के साथ फैसला लिया गया। लेकिन उनका यह फैसला तीर्थ पुरोहितों को नागवार गुजरा । यही नहीं त्रिवेंद्र सिंह को अपने फैसले को लेकर विरोध का सामना भी करना पड़ा थ...