शनिवार, जनवरी 29Digitalwomen.news

WOMEN

Bhojpuri Star Actress Rani Chatterjee joins Congress
Latest News, News, Politics, States, Uttar Pradesh, WOMEN

Bhojpuri Star Actress Rani Chatterjee joins Congress

भोजपुरी सिनेमा की मशहूर फिल्म एक्ट्रेस रानी चटर्जी कांग्रेस में हुई शामिल, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने दिलाई सदस्यता Bhojpuri Star Actress Rani Chatterjee joins Congress JOIN OUR WHATSAPP GROUP उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले भोजपुरी फिल्म एक्ट्रेस रानी चटर्जी कांग्रेस में शामिल हो गईं हैं। सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाली रानी चटर्जी ने इसकी जानकारी इंस्टाग्राम पर दी। एक्ट्रेस रानी ने अपने इंस्टाग्राम पर एक फोटो शेयर की है जिसमें वह प्रियंका गांधी के साथ खड़ी नजर आ रही हैं। एक्ट्रेस रानी चटर्जी ने इंस्टाग्राम पर पोस्ट करते हुए प्रियंका गांधी का शुक्रिया अदा किया है और कांग्रेस के कैंपेन 'लड़की हूं लड़ सकती है' का प्रमोशन भी किया है। फोटो के साथ रानी ने कैप्शन लिखा, एक और लड़की लड़ने के लिए तैयार है, प्रियंका जी के अभियान 'लड़की हूं लड़ सकती है' के साथ जुड़ कर मैं एक नया अध्...
राष्ट्रीय बालिका दिवस विशेष: समाज और माता-पिता की सोच में बदलाव आने से बेटियां हर क्षेत्र में कर रहीं हैं नाम रोशन
DW Editorial, Latest News, News, TRENDING, WOMEN

राष्ट्रीय बालिका दिवस विशेष: समाज और माता-पिता की सोच में बदलाव आने से बेटियां हर क्षेत्र में कर रहीं हैं नाम रोशन

https://videopress.com/v/b7uIYuX3?resizeToParent=true&cover=true&preloadContent=metadata National Girl Chid Day 2022: Educate, Encourage and Empower JOIN OUR WHATSAPP GROUP हमारे देश में सदियों से लड़कियों को लेकर पुरानी परंपरा में धीरे-धीरे अब बदलाव देखने को मिल रहा है। शहरों से लेकर गांव तक ‌माता-पिता में लड़कियों की परवरिश और पढ़ाई लिखाई को लेकर जागरूकता का माहौल बना है। यही कारण है कि हाल के वर्षों में महिलाओं ने देश ही नहीं बल्कि विदेशों तक सभी क्षेत्रों में अपना नाम रोशन किया है। इसमें सरकारों की भी बड़ी भूमिका रही है। इस लाइनों को लिखने का उद्देश्य है कि आज राष्ट्रीय बालिका दिवस है। पूरे देश में बालिका दिवस धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है। National Girl Chid Day 2022 बता दें कि भारत में हर साल 24 जनवरी का दिन राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है। रा...
National Girl Child Day 2022: राष्ट्रीय बालिका दिवस आज, शून्य से शिखर तक देश की बेटियों ने बनाई अपनी पहचान
DW Editorial, Latest News, News, TRENDING, WOMEN

National Girl Child Day 2022: राष्ट्रीय बालिका दिवस आज, शून्य से शिखर तक देश की बेटियों ने बनाई अपनी पहचान

National Girl Chid Day 2022 JOIN OUR WHATSAPP GROUP भारत में प्रत्येक वर्ष 24 जनवरी को 'राष्ट्रीय बालिका दिवस' के रूप में मनाया जाता है। आज पूरी दुनिया में भारत की बेटियां अपना परचम लहरा रही हैं। अभिनय हो या वायु सेना, अंतरिक्ष हो या जमीन बेटियों ने हर क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बनाई है। पहले जहां बेटियों के पैदा होने पर उनकी हत्या या बाल विवाह जैसे कुकर्म को जैसे अंजाम दिया जाता था, वहीं अब लोग बेटी पैदा होने पर लोग गर्व करते हैं। देश की आजादी के बाद से भारत सरकार ने बेटियों और बेटों में भेदभाव को खत्म करने के लिए सरकार ने 2008 से 24 जनवरी को 'राष्ट्रीय बालिका दिवस' के रूप में मनाने का निर्णय लिया। इसके अलावा 11 अक्टूबर को विश्व भर में अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है। 24 जनवरी को ही बालिका दिवस क्यों है:भारत के पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 24 जनवरी 19...
Women are finding new ways to influence male-led faiths
Latest News, News, WOMEN, World News

Women are finding new ways to influence male-led faiths

The number of women religious leaders is growing, but the 2018-2019 National Congregations Study, which surveyed 5,300 U.S. religious communities, found that only 56.4% of these communities would allow a woman to “be head clergy person or primary religious leader.” AP Photo/Young Kwak Emily Costello, The Conversation and Thalia Plata, The Conversation In some religions, women are barred from serving as clergy or excluded from top leadership roles. Nonetheless, women have broken into influential roles in these male-led faiths. How are these women forging new pathways in these traditionally patriarchal religions? The Associated Press, Religion News Service and The Conversation held a webinar with academics, journalists and religious leaders to discuss the future of women in faith l...
Sushmita Sen adopts a baby boy after daughters Renee and Alisah
Bollywood, Latest News, News, WOMEN

Sushmita Sen adopts a baby boy after daughters Renee and Alisah

तीन बच्चों के साथ नजर आई अभिनेत्री सुष्मिता सेन, पहले दो बच्चियों को लिया था गोद Sushmita Sen adopts a baby boy after daughters Renee and Alisah JOIN OUR WHATSAPP GROUP बॉलीवुड अभिनेत्री सुष्मिता सेन अपने अभिनय के साथ साथ बड़े दिल के लिए भी जानी जाती हैं।सुष्मिता सेन अभी भी सिंगल हैं लेकिन वह दो बच्चों की मां हैं। उन्होंने दो बेटियों को गोद लेकर मिसाल कायम की है। सुष्मिता सेन ने साल 2000 में बेटी रिनी को गोद लिया था इसके बाद उन्होंने साल 2010 में अलीशा को गोद लिया। सुष्मिता अक्सर सोशल मीडिया पर बेटियों के साथ अपना बॉन्ड भी शेयर करती रहती हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक अब सुष्मिता सेन ने एक बेटे को भी गोद ले लिया है।बुधवार को सुष्मिता सेन उनके घर के बाहर अपनी दोनों बेटियों और बेटे के साथ स्पॉट किया गया। सुष्मिता तीनों बच्चों के साथ बेहद ही खुश नजर आ रही थीं। हालांकि इस दौरान मास्क लग...
Celebrating the 191st birthday of Fatima Sheikh, a social reformer who was the first Woman Muslim Teacher of Modern India
DW Editorial, Latest News, News, Other States, States, WOMEN

Celebrating the 191st birthday of Fatima Sheikh, a social reformer who was the first Woman Muslim Teacher of Modern India

देश के पहली महिला मुस्लिम शिक्षिका फातिमा शेख की 191वीं जयंती आज, समाज के गरीबों की शिक्षा में दिया था बड़ा योगदान Celebrating the 191st birthday of Fatima Sheikh, a social reformer who was the first Woman Muslim Teacher of Modern India JOIN OUR WHATSAPP GROUP आज भारत की पहली मुस्लिम महिला शिक्षिका फामिता शेख की 191 वीं जयंती है। इस मौके पर गूगल ने उन्हें डूडल बनाकर सम्मानित किया है। कौन थी फातिमा शेख: फातिमा शेख का जन्म आज के ही दिन 9 जनवरी 1831 को भारत के पुणे महाराष्ट्र में हुआ था। फातिमा एक महिला शिक्षिका के साथ-साथ महान समाज सुधारक ज्योतिबा फुले और सावित्रीबाई फुले की सहयोगी भी रही है। जब सावित्रीबाई फूले को दलित व गरीबों को शिक्षा देने के विरोध में उनके पिता ने घर से निकाल दिया था तो उस्मान शेख व फातिमा ने उन्हें शरण दी थी। उन्होंने समाज सुधारक ज्योति बा फुले और साव...
Renowned social activist and Padmashree awardee Sindhutai Sapkal famously known as ‘Maai’ died at 74 due to Heart Attack in Pune
Breaking News, Latest News, News, Other States, States, Viral Buzz, WOMEN

Renowned social activist and Padmashree awardee Sindhutai Sapkal famously known as ‘Maai’ died at 74 due to Heart Attack in Pune

नहीं रहीं महाराष्ट्र की मदर टेरेसा सिंधुताई, दिल का दौरा पड़ने से 74 वर्ष की उम्र में निधन Sindhutai Sapkal died at 74 due to Heart Attack in Pune हजारों अनाथों की माँ और एक महान सामाजिक कार्यकर्ता सिंधुताई सपकाल का आज पुणे में 74 वर्ष की उम्र में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया।सिंधुताई लगभग डेढ़ महीने से खराब सेहत के कारण पुणे के गैलेक्सी अस्पताल में भर्ती थी, जहां आज रात करीब 10 बजे दिल का दौरा पड़ने के बाद डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। अनाथ बच्चों की परवरिश के लिए सुप्रसिद्ध सिंधुताई को इस वर्ष उनके सामाजिक कार्य के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया था। सिंधुताई ने लगभग 2000 से अधिक अनाथ बच्चों को शरण देखकर उनकी जिंदगी बदली है। उनका बचपन: सिन्धुताई का जन्म 14 नवम्बर 1948 को महाराष्ट्र के वर्धा जिले में स्थित 'पिंपरी मेघे' गाँव मे एक चरवा...
President Ram Nath Kovind Gives Assent to Surrogacy Act, 2021
DW Editorial, Latest News, News, TRENDING, WOMEN

President Ram Nath Kovind Gives Assent to Surrogacy Act, 2021

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सेरोगेसी कानून को दी मंजूरी, अब नहीं हो सकेगा दुरुपयोग President Ram Nath Kovind Gives Assent to Surrogacy Act, 2021 JOIN OUR WHATSAPP GROUP देश में अब सरोगेसी (विनियमन) अधिनियम 2021 को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंजूरी दे दी है। राष्ट्रपति ने इसे शनिवार को मंजूरी दी और गजट प्रकाशन के साथ ही यह कानून लागू हो गया है। इस कानून में सरोगेसी को वैधानिक मान्यता देने और इसके व्यवसायीकरण को गैरकानूनी बनाने का प्रावधान है। Surrogacy Act, 2021 इस कानून से सरोगेसी के पैसे कमाने और इसके दुरुपयोग पर अंकुश लगेगा। इसके जरिये केवल मातृत्व प्राप्त करने के लिए सरोगेसी की अनुमति मिलेगी, जिसमें सरोगेट मां को गर्भ की अवधि के दौरान चिकित्सा खर्च और बीमा कवरेज के अलावा कोई और वित्तीय मुआवजा नहीं मिलेगा। बता दें की सरोगेसी का अर्थ किराये पर गर्भ होता है। इसका उपयो...
लड़कियों की शादी की आयु बढ़ाए जाने के केंद्र के प्रस्ताव पर सपा सांसदों के अमर्यादित बयान
Latest News, News, States, Uncategorized, Uttar Pradesh, WOMEN

लड़कियों की शादी की आयु बढ़ाए जाने के केंद्र के प्रस्ताव पर सपा सांसदों के अमर्यादित बयान

Awargi ka mauka’ to ‘ok to marry at 16 also if fertility is reached देश में लड़कियों की शादी की आयु 18 से बढ़ाकर 21 साल की जाने को लेकर बुधवार को केंद्र सरकार ने कैबिनेट बैठक में मंजूरी दी थी। अब इस प्रस्ताव को अगले हफ्ते संसद के दोनों सदनों में बिल पेश किया जा सकता है। लेकिन इस पर सियासत भी शुरू हो गई है। विपक्ष इस सरकार के इस प्रस्ताव पर विरोध करना शुरू कर दिया है। पहले कांग्रेस, शिवसेना के बाद अब समाजवादी पार्टी भी मैदान में कूद गई है। समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क और एसटी हसन ने विवादित बयान दिए हैं। इन दोनों नेताओं ने 21 साल की उम्र में शादी के प्रस्ताव का विरोध करते हुए यहां तक कह दिया कि अगर 18 साल से शादी की उम्र बढ़ाकर 21 साल की जाती है, तो उससे लड़कियां आवारगी करने लगेंगी । बता दें कि उत्तर प्रदेश के संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क अपने बयानों ...