Thu, September 21, 2023

DW Samachar logo

पुरोला में कल होने वाली महापंचायत को लेकर चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात, सुप्रीम कोर्ट ने मामले को सुनने से किया इनकार

JOIN OUR WHATSAPP GROUP

(19 जून तक धारा 144 लागू)

त्तराखंड के पुरोला में कल यानी 15 जून को होने वाली महापंचायत को लेकर चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात की गई है। इसके साथ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी हर घटना पर नजर बनाए हुए हैं। ‌ पुरोला में कथित लव जिहाद का मामला इन दिनों सुर्खियों में हैं। वहीं, हिंदू संगठनों के 15 जून को प्रस्तावित महापंचायत ने इस विवाद को और तूल दे दिया है. हालांकि मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस-प्रशासन पूरी तरह के अलर्ट हैं। वहीं, अब इस मामले में कांग्रेस ने भी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस इस विवाद को 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले की सोची-समझी रणनीति बता रही है पुरोला महापंचायत पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करण माहरा ने कहा- चुनाव के वक्त “जिहाद” का नारा ठीक नहीं, एक की सजा पूरी कौम को नहीं मिलनी चाहिए। वहीं दूसरी ओर
उत्तरकाशी जिले के पुरोला में 15 जून को प्रस्तावित महापंचायत पर पुलिस के सख्त रुख के बाद ग्राम प्रधानों का संगठन बैकफुट पर आ गया, लेकिन अब विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल जैसे हिंदुवादी संगठन खुलकर सामने आ गए हैं। उन्होंने कहा कि हम लव जिहाद के खिलाफ पुरोला में महापंचायत करेंगे। इसे देखते हुए पुरोला नगर क्षेत्र में जिला प्रशासन ने बुधवार 14 जून से लेकर 19 जून तक लागू की धारा 144 लागू कर दी है।सुप्रीम कोर्ट ने उत्तराखंड में बढ़ते सांप्रदायिक तनाव के बीच उत्तरकाशी जिले के पुरोला शहर में प्रस्तावित महापंचायत को रोकने के लिए याचिका पर विचार करने से इनकार कर दिया। जिसके बाद अब याचिकाकर्ता ने उत्तराखंड हाईकोर्ट का रुख किया है। मामले में हाईकोर्ट कल गुरुवार को सुनवाई करेगा। वहीं पुरोला से नाबालिग लड़की को भगाने के प्रयास और समुदाय विशेष के पलायन का मामला प्रधानमंत्री के पास पहुंच गया है। उत्तराखंड अल्पसंख्यक आयोग ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर कहा, कुछ लोग मामले को सांप्रदायिक रंग देकर 70 साल से उत्तरकाशी में रहे लोगों को निशाना बना रहे हैं।

Relates News