सोमवार, फ़रवरी 6Digitalwomen.news

137 साल की हुई कांग्रेस: हिमाचल में जीत और भारत जोड़ो यात्रा को लेकर कांग्रेस में उत्साह, इस शहर में रखी गई पार्टी की नींव

Congress Party celebrate its 138th Foundation Day today
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

देश की सबसे पुरानी राजनीति पार्टी कांग्रेस की आज से 137 साल पहले 28 दिसंबर 1885 को बंबई (अब मुंबई) में नींव रखी गई थी। आज कांग्रेस अपना स्थापना दिवस धूमधाम के साथ मना रही है। पिछले दिनों हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव में मिली शानदार जीत के बाद कांग्रेस नेताओं में उत्साह छाया हुआ है। इसके साथ भारत जोड़ो यात्रा को लेकर भी पार्टी पूरे जोश में है। फिलहाल भारत जोड़ो यात्रा दिल्ली में है और कुछ दिनों का ब्रेक ले रखा है। 3 जनवरी से गाजियाबाद यूपी से फिर भारत जोड़ो यात्रा शुरू होगी। मौजूदा समय में कांग्रेस की कमान मल्लिकार्जुन खरगे के पास में है। अब आइए जानते हैं कांग्रेस की स्थापना किसने की। उस दौर में भारत अंग्रेजों से गुलाम था। 28 दिसंबर 1885 स्कॉटलैंड के एक रिटायर्ड अधिकारी एओ ह्यूम ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना की थी। एओ ह्यूम को उनके जीते-जी कभी कांग्रेस के संस्थापक का दर्जा नहीं मिला। उनकी मौत के बाद 1912 में उन्हें कांग्रेस का संस्थापक घोषित किया गया। कांग्रेस पार्टी की स्थापना भले ही एक अंग्रेज ने की थी, लेकिन इसके अध्यक्ष भारतीय ही थे। पार्टी के पहले अध्यक्ष कलकत्ता हाईकोर्ट के बैरिस्टर व्योमेश चंद्र बनर्जी थे।

पार्टी की स्थापना के पीछे भी एक दिलचस्प कहानी है। हुआ ये था कि 1857 में अंग्रेजों के खिलाफ बड़ा गदर मचा। अंग्रेज नहीं चाहते थे कि दोबारा ऐसे फिर कभी हालात बनें तो उन्होंने प्लानिंग की कि एक ऐसा प्लेटफॉर्म बना दिया जाए, जहां हिंदुस्तानी अपनी भड़ास निकाल सकें। इसके अलावा इसी मंच के तहत जो विरोध प्रदर्शन करना है, वो भी कर सकें। इस काम के लिए एओ ह्यूम को चुना गया। देश के पहले पीएम जवाहर लाल नेहरू के परिवार से कांग्रेस का गहरा रिश्ता है। जवाहर लाल नेहरू 1951 से लेकर 1954 तक कांग्रेस अध्यक्ष रहे। उनके बाद 1959 में इंदिरा गांधी अध्यक्ष बनीं। इंदिरा गांधी 1978 से 1984 तक दोबारा अध्यक्ष रहीं। उनकी मृत्यु के बाद राजीव गांधी 1985-1991 तक कांग्रेस अध्यक्ष रहे।

सोनिया गांधी 1998 में कांग्रेस अध्यक्ष बनीं। वह 2017 तक इस पद पर विराजमान रहीं। राहुल गांधी दिसंबर 2017 से अगस्त 2019 तक कांग्रेस अध्यक्ष रहे थे। राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद अगस्त 2019 से सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष बनी हुई थीं। बता दें कि इस साल सितंबर में कांग्रेस को 24 साल बाद गैर गांधी अध्यक्ष मिला है। 1998 में सोनिया गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाया गया था और 2017 में राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष के रूप में चुना गया, लेकिन 2019 के लोकसभा चुनावों में हार के बाद राहुल गांधी ने पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद खरगे को पार्टी का अध्यक्ष चुना गया है। हर साल कांग्रेस पार्टी 28 दिसंबर को अपना स्थापना दिवस मनाती है। ‌इस मौके पर दिल्ली स्थित अखिल भारतीय कांग्रेस का मुख्यालय आकर्षक ढंग से सजाया गया है। इस मौके पर कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने एआईसीसी मुख्यालय पहुंचकर झंडा फहराया। इस दौरान कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी और कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। खरगे ने इस दौरान अपना संबोधन भी दिया। उन्होंने कहा कि हमें कांग्रेस पार्टी को समावेशी बनाने के लिए युवाओं, महिलाओं, वंचित तबकों और बुद्धिजीवियों को हमारे साथ जोड़ना होगा। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से देशभर में करोड़ों कार्यकर्ताओं को संजीवनी मिली है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: