रविवार, जनवरी 29Digitalwomen.news

पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के गृह राज्य में भाजपा सातवीं बार बनाने जा रही सरकार, गुजरात में कांग्रेस-आम आदमी पार्टी का निराशाजनक प्रदर्शन

BJP eyes massive win in Gujarat; Congress leading in Himachal Pradesh
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

–हिमाचल प्रदेश में 37 सालों से कायम रही सियासी परंपरा, प्रदेश में भाजपा का नहीं चला जादू, कांग्रेस सरकार बनाने की तैयारी में जुटी

गुजरात और हिमाचल प्रदेश के चुनाव नतीजों को लेकर आज विभिन्न राजनीतिक दलों के साथ पूरे देश की निगाहें लगी हुई थी। गुजरात और हिमाचल प्रदेश में आज सुबह 8 बजे मतगणना शुरू हुई। मतगणना के पहले घंटे मिले रुझानों ने दोनों राज्यों की सरकारें भी तय कर दी। वहीं दोनों राज्यों की जनता ने आम आदमी पार्टी की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है। ‌ बुधवार को राजधानी दिल्ली एमसीडी के आए नतीजों से उत्साहित मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को गुजरात और हिमाचल प्रदेश के चुनाव नतीजों से बड़ा झटका लगा है। ‌रुझानों में अभी तक भाजपा ऐतिहासिक जीत की ओर बढ़ चुकी है। ‌

यानी एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी राज्य में लगातार सातवीं बार सरकार बनाने जा रही है। ‌लेकिन हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन किया है। हिमाचल में भाजपा दोबारा सत्ता में आते नहीं दिख रही है। सबसे खास बात यह है कि हिमाचल चुनाव में राहुल गांधी प्रचार करने नहीं गए थे। वहीं कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने राष्ट्रीय स्तर पर कैंपेन की कमान संभाली हुई थी। हिमाचल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत तमाम नेताओं ने ताबड़तोड़ चुनावी रैली की। ‌ लेकिन हिमाचल की जनता 37 साल से चली आ रही परंपरा को तोड़ नहीं सकी। बता दें कि 1985 में कांग्रेस ने वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में लगातार रिपीट सरकार बनाई थी। ‌‌

गुजरात की ऐतिहासिक जीत में हिमाचल प्रदेश की हार भाजपा को खटकी–

अभी तक चुनाव के रुझानों में हिमाचल में भारतीय जनता पार्टी सरकार बनाते हुए नहीं दिख रही है। गुजरात में हो रही ऐतिहासिक जीत में हिमाचल भाजपा हाईकमान को जरूर खटक रहा होगा। गुजरात में कांग्रेस का अब तक सबसे खराब प्रदर्शन भी पार्टी आलाकमान को कचोट रहा है। वहीं अगर गुजरात की बात करें तो पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह का ग्रह राज्य होने की वजह से मिली ऐतिहासिक जीत से भाजपा खेमे में जश्न का माहौल है। ‌ गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल करीब 50 हजार वोटों से आगे चल रहे हैं। ऐसे ही भारतीय क्रिकेटर रवींद्र जडेजा की पत्नी रिवाबा भी भारी अंतर से आगे हैं। कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए हार्दिक पटेल भी जीत की ओर बढ़ रहे हैं। रुझानों के मुताबिक भाजपा 182 में से 48 सीटें जीत चुकी है और 105 पर आगे है। रुझान नतीजों में तब्दील होते हैं, तो भाजपा 1985 में कांग्रेस की 149 सीटें जीतने का रिकॉर्ड तोड़ देगी। बता दें कि 1960 से गुजरात में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं लेकिन अब तक के चुनावी इतिहास में कांग्रेस का प्रदर्शन कभी इतना खराब नहीं रहा है। जहां बीजेपी राज्य की 182 में से 150 से अधिक सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं तो वहीं कांग्रेस सिर्फ 17 सीटों पर ही आगे दिख रही है। इससे पहले 1990 में कांग्रेस का सबसे बुरा प्रदर्शन देखा गया था। तब पार्टी सिर्फ 33 सीटें जीतने में सफल हुई थी। इसके बाद कांग्रेस की सीटें कुछ हद तक बढ़ती गईं। 2002 में कांग्रेस को 50, जबकि 2007 में 59 सीटें मिली थीं। 2017 में पार्टी ने 77 सीटें जीती थीं और बीजेपी को कड़ी टक्कर भी दी थी लेकिन इस बार गुजरात में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। हालांकि गुजरात विधानसभा चुनाव कैंपेन से राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने दूरी बनाए रखी थी।

हिमाचल में कांग्रेस पूर्ण बहुमत की ओर बढ़ती हुई–

हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस को अब बढ़त मिल गई है। कांग्रेस ने रुझानों में बहुमत हासिल कर लिया है। कांग्रेस ने हिमाचल में अपनी सरकार भी बनाने की तैयारी शुरू कर दी है। ‌ हिमाचल में कांग्रेस खेमे में जश्न का माहौल है। ‌ प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री का चयन केंद्रीय आलाकमान करेगा। वहीं दूसरी ओर हिमाचल में आम आदमी पार्टी का अभी तक खाता भी नहीं खुला है। ‌ऐसे ही गुजरात में आप के तीनों बड़े नेता चुनाव हार गए हैं। ‌इनमें मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार ईशुदान गढ़वी, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गोपाल इटालिया और पाटीदार नेता अल्पेश कथीरिया शामिल हैं। हालांकि, पार्टी दो सीटें जीत चुकी है और 5 पर उसकी बढ़त बनी हुई है। चुनाव आयोग के अनुसार बीजेपी ने हिमाचल प्रदेश में अभी तक 4 सीटों पर जीत दर्ज की है और 21 सीटों पर आगे चल रही है। कांग्रेस 1 सीट पर जीत दर्ज कर 39 सीटों पर आगे है जबकि निर्दलीय 3 सीटों पर आगे चल रही है। चुनाव आयोग के अनुसार गुजरात विधानसभा चुनाव में भाजपा 7 सीटों पर जीत दर्ज कर 151 सीटों पर आगे चल रही है। जबकि कांग्रेस 21, सपा 1, निर्दलीय 2 और आप 5 सीटों पर आगे चल रही है, मतगणना जारी है। बता दें कि हिमाचल प्रदेश की 68 सीटों के लिए 1 चरण में 12 नवंबर को मतदान हुआ था ऐसे ही गुजरात की 182 सीटों पर दो चरण, 1 और 5 दिसंबर को वोट डाले गए थे। ‌

पांच राज्यों के उपचुनाव में भाजपा सभी सीटों पर पीछे, मैनपुरी से डिंपल यादव की होगी बंपर जीत–

मैनपुरी में डिंपल यादव ने 1 लाख वोटों से बढ़त बना ली है। यहां भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी रघुराज शाक्य से डिंपल का मुकाबला है। डिंपल यादव बड़ी जीत की ओर बढ़ रही हैं। ‌ ऐसे ही रामपुर में भाजपा प्रत्याशी आकाश सक्सेना ने अब पिछड़ गए हैं। यहां उनका मुकाबला आजम के करीबी आसिम रजा से है।​​ खतौली में रालोद प्रत्याशी मदन भैया 7000 वोटों से आगे चल रहे हैं।​​ विक्रम सैनी की पत्नी और भाजपा प्रत्याशी राजकुमारी सैनी फिर पिछड़ गई हैं। राजस्थान की सरदारशहर विधानसभा सीट में कांग्रेस प्रत्याशी अनिल शर्मा 21 हजार वोटों से आगे चल रहे हैं। बिहार की कुढ़नी सीट में भाजपा के कैंडिडेट केदार गुप्ता आगे चल रहे हैं। उनकी कड़ी टक्कर जेडीयू के मनोज कुशवाहा से है। छत्तीसगढ़ की भानुप्रतापपुर सीट में अभी तक के रुझानों में कांग्रेस की सावित्री मंडावी 15,926 वोटों से आगे चल रही हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: