बुधवार, फ़रवरी 1Digitalwomen.news

एमसीडी चुनाव नतीजे: दिल्ली में आप ‘डबल इंजन’ सरकार बनाने की ओर, भाजपा ने नहीं हारी हिम्मत, कांग्रेस का फिर निराशाजनक प्रदर्शन

Aam Aadmi Party wins Delhi civic polls, ends BJP’s 15-year control
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

दिल्ली एमसीडी के चुनाव में आम आदमी पार्टी ने स्पष्ट बहुमत हासिल कर लिया है। ‌ 250 सीटों वाले एमसीडी में आम आदमी पार्टी को 134 सीटें मिली हैं, जो बहुमत से 8 ज्यादा है। वहीं भाजपा को 104, कांग्रेस को 9 और 3 सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशियों की जीत हुई है।आप की जीत पर अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को बधाई दी। पार्टी ऑफिस में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा- दिल्ली की जनता ने अपने बेटे और भाई को दिल्ली की सफाई और भ्रष्टाचार खत्म करने की जिम्मेदारी दी है। हमें केंद्र सरकार का भी सहयोग चाहिए। प्रधानमंत्री जी का भी आशीर्वाद चाहिए।

गुजरात और हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव नतीजों से एक दिन पहले आम आदमी पार्टी के खेमे में जश्न का माहौल है। ‌दिल्ली, पंजाब के बाद अब आम आदमी पार्टी का दिल्ली एमसीडी पर भी कब्जा होने जा रहा है। यानी अब देश की राजधानी में आप की “डबल इंजन” की सरकार होने की ओर है। दिल्ली में विधानसभा और नगर निगम दोनों में आम आदमी पार्टी की सरकार चलेगी। वहीं दूसरी ओर एक बार फिर कांग्रेस का इस बार भी एमसीडी चुनाव में निराशाजनक प्रदर्शन हुआ है। कांग्रेस का दफ्तर सुबह से ही सूना रहा। दफ्तर के गेट पर ताला लगा दिखा।राजधानी की जनता ने एमसीडी में भी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भरोसा जताया । दिल्ली नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी जीत के करीब है। ऐसे में पार्टी नेताओं से लेकर कार्यकर्ताओं में उत्साह का महौल है। दिल्ली नगर निगम में पिछले 15 सालों से भारतीय जनता पार्टी का कब्जा है।

Boby Kinner First Transgender to win

हालांकि दिल्ली एमसीडी के 5 दिसंबर को जारी की गई एग्जिट पोल्स के मुताबिक आम आदमी पार्टी को कितनी सीटें मिलती हुई दिखाई नहीं दे रही है। हालांकि अभी तक चुनाव नतीजों के रुझानों में आपकी एमसीडी में सरकार बनना लगभग तय है। सुबह आठ बजे जैसे ही शुरुआती रुझान आए भाजपा और आप में कड़ी टक्कर देखने को मिली। शुरुआती दो घंटे में दोनों दलों की सीटों में 10 से 20 सीटों का अंतर रहा। कभी भाजपा आगे तो कभी आप आगे दिखी। लेकिन सुबह 10.30 बजे के बाद हालात बदले और आप ने भाजपा पर बढ़त बना ली। अब तक 196 सीटों के परिणाम आ गए हैं. इनमें से आम आदमी पार्टी को 106, बीजेपी को 84, कांग्रेस को 5 और अन्य को 1 सीटें मिल हैं। 54 सीटों पर काउंटिंग जारी है। एमसीडी में बहुमत के लिए 126 सीटें चाहिए। नतीजे एग्जिट पोल के अपोजिट दिख रहे हैं। ज्यादातर सर्वे में आप को 150 से ज्यादा सीटें दी थीं।

एमसीडी चुनाव नतीजों के बाद आम आदमी पार्टी खेमे में जश्न का माहौल–

Aam Aadmi Party wins Delhi civic polls, ends BJP’s 15-year control

एग्जिट पोल में आप की जीत के बाद बुधवार सुबह से ही पार्टी के कार्यालय में गहमा-गहमी शुरू हो गई थी। ऑफिस को पीले और नीले गुब्बारों से सजाया गया है। पिछली बार इन्हें सफेद और नीले कलर के गुब्बारों से सजाया गया है। चुनाव नतीजों से आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा है, 15 साल पुराने कूड़ाराज को हमने खत्म कर दिया है, एमसीडी में भाजपा के भ्रष्टाचार के राज को खत्म किया है। भाजपा की डर्टी पॉलिटिक्स को जनता ने अपने वोट की ताकत से जवाब दिया है। अब तय हो गया है कि पूरे देश में प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ अरविंद केजरीवाल ही विकल्प है, भाजपा के खिलाफ आम आदमी पार्टी ही विकल्प है। संजय सिंह ने दावा किया कि बीजेपी एमसीडी चुनाव हार गई है, आप का ही मेयर इस बार बनेगा । वहीं दिल्ली नगर निगम चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी के पंजाब से राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने कहा है, दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी ने गंदगी कर दी है, नगर निगम की पहली और संवैधानिक जिम्मेदारी साफ-सफाई की होती है। दिल्ली के लोगों ने अरविंद केजरीवाल को जो जिम्मेदारी दी, उन्होंने उसे पूरा किया। अब नगर निगम की जिम्मेदारी हमारे पास आ जाएगी तो साफ-सफाई होगी, दिल्ली सुंदर बनेगी। पंजाब के सीएम भगवंत मान ने कहा है कि अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में 15 साल लंबे कांग्रेस शासन और अब एमसीडी में 15 साल लंबे बीजेपी शासन को उखाड़ फेंका। इससे पता चलता है कि दिल्ली के लोगों को नफरत की राजनीति पसंद नहीं है, वे स्कूलों, अस्पतालों, बिजली, सफाई और बुनियादी ढांचे के लिए वोट करते हैं। आम आदमी पार्टी के विधायक सौरभ भारद्वाज ने कहा कि उनकी पार्टी 180 से पार जाएगी। आम आदमी पार्टी को एक तरफा जीत मिलेगी। 180 के बाद कहां रुकेंगे रुझान कह नहीं सकते। पोस्टर बैलेट में सरकारी आदमी वोट डालता है। वह डरता भी है। सरकारी आदमी सोचता है कि कहीं कोई देख तो नहीं लेगा। पहली बार दिल्ली के एमसीडी चुनाव में सुल्तानपुरी ए वार्ड 43 से आम आदमी पार्टी की ट्रांसजेंडर उम्मीदवार बॉबी जीतीं हैं।

भाजपा नेताओं ने कहा- दिल्ली एमसीडी में हमारी सरकार बनेगी–

भाजपा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि इंतजार कीजिए। बीजेपी को जीत मिलेगी। मेयर बीजेपी का ही बनेगा। नतीजे आने दीजिए। केजरीवाल को हम 100 सीटों से नीचे समेट देंगे। वहीं सांसद मनोज तिवारी ने कहा, आज देखना ये अहम है कि कांटे की टक्कर में जीत किसकी होती है। एक हिसाब से ये आप की हार है। वे कहते थे, हम 200 सीटें लाएंगे। ऐसे लोगों का चेहरा देखना चाहिए। दिल्ली में भाजपा नेता हरीश खुराना ने कहा, हमने कोरोना काल में भी कचरे के निपटारे के लिए काम किया। भाजपा ने काम किया है। हमें विश्वास है कि अगला मेयर बीजेपी का ही होगा। पिछली बार भी सर्वे में बीजेपी को 50 सीटें मिली थीं, लेकिन हम दो-तिहाई बहुमत से जीते थे। एमसीडी की 250 सीटों पर 4 दिसंबर को मतदान हुआ था। इन चुनाव में 250 वार्ड में कुल 1349 उम्मीदवार मैदान में हैं। दिल्ली की सत्ता के तीन पावर सेंटर्स हैं। दिल्ली सरकार, केंद्र सरकार और एमसीडी। केंद्र सरकार की शक्तियां तो उसके पास ही रहेंगीं। अब मान लीजिए दिल्ली में और केंद्र में विरोधी दलों की सरकारें हैं तो केंद्र में सत्ताधारी दल चाहता है कि नगर निगम उसके पास रहे और वह दिल्ली को अपने हिसाब से रेगुलेट कर सके।

Leave a Reply

%d bloggers like this: