बुधवार, फ़रवरी 1Digitalwomen.news

‘Gujarat me AAP ki Sarkar ban rhi hai’: Arvind Kejriwal gives in writing ahead of Assembly elections

केजरीवाल का कागजों पर लिखा दावा आखिर कब तक चलेगा और उसके संकेत क्या है?

‘Gujarat me AAP ki Sarkar ban rhi hai’: Arvind Kejriwal gives in writing ahead of Assembly elections
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

नई दिल्ली, 28 नवम्बर। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, गुजरात के साथ-साथ दिल्ली नगर निनगम में भी व्यस्त है और उनका कहना है कि दोनों जगहों पर आम आदमी पार्टी जीत रही है लेकिन इसके साथ ही अभी भी कई मुश्किलें हैं जो शायद केजरीवाल को आगामी वोट के दिन तक चलने वाला है। हालांकि केजरीवाल का एक स्टाइल आज से ही नहीं बल्कि राजनीतिक जीवन शुरु होने के समय से ही चला आ रहा है।

गुजरात चुनाव से पहले ही केजरीवाल ने एक कागज पर लिखीत तौर पर दावा किया है। दावा यह है कि इस गुजरात विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गोपाल इटालिया और मुख्यमंत्री उम्मीदवार ईसुदान गढ़वी और वराछा से कैंडिडेट अल्पेश कथेरिया चुनाव जीत रहे हैं। यही कारण है कि भाजपा बौखलाई हुई है। इसके बाद केजरीवाल ने साफ कह दिया है कि इस बार गुजरात में भी उनकी पार्टी सरकार बना रही है और 15 साल से निगम के अंदर भाजपा का कूड़ा भी साफ करने जा रही है।

केजरीवाल ने एक प्रेसवार्ता कर इस बात का दावा भी किया है कि अगर भाजपा गुजरात के अंदर पिछले 27 सालों से बैठने के बावजूद कुछ नहीं कर पाई तो क्या भरोसा है कि आगामी पांच सालों में वह कुछ कर पाएगी। हालांकि कांग्रेस ने आम आदमी पार्टी का पलटवार करते हुए कहा कि केजरीवाल एंड कंपनी को एक भी सीट नहीं मिलने वाला है। केजरीवाल इससे पहले भी कुछ इसी तरह का बयानबाजी कर रहे थे लेकिन पांचों राज्यों में से चार में उनकी जमानत जब्त हो गई थी। कांग्रेस का यह जवाब उस वक्त आया जब केजरीवाल साफ तौर पर यह कह रहे हैं कि गुजरात की सड़कों पर किसी से भी पूछ लो तो वह आम आदमी पार्टी को ही वोट देने की बात कर रहा है। क्योंकि कांग्रेस तो वैसे भी खत्म है। अब ऐसे में गुजरात की चुनावी जंग त्रिकोणीय हो चुकी है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: