बुधवार, नवम्बर 30Digitalwomen.news

Shraddha murder case: Body Chopped into 35 pieces disposed across Delhi, Accused Aftab inspired by ‘crime show’

अंधे प्यार का बेदर्द अंजाम- मुबंई में शुरु हुआ प्यार दिल्ली में दम तोड़ दिया

Shraddha murder case: Body Chopped into 35 pieces disposed across Delhi, Accused Aftab inspired by ‘crime show
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

नई दिल्ली, 15 नवम्बर। देश की राजधानी दिल्ली। दिल को दहला देने वाली खबर जब आई तो लगा मानो पूरी तरफ हल्ला और साथ ही सन्नाटा पसर गया। कारण था एक प्रेमिका का 18 टुकड़ों में उसके डेथ बॉडी का बिखरे होना। बम्बई से शुरु हुई प्रेम कहानी दिल्ली में आकर दम तोड़ देगी इस बारे में आखिर किसको अंदाजा था। शायद उस श्रद्धा नाम की लड़की को भी नहीं जिसने अपने मां-बाप से ज्यादा भरोसा अपने प्रेमी पर कर बैठी। हालांकि दिल्ली दिलवालों का होता है लेकिन इसी दिल्ली में किसी का दिल ही नहीं जान गंवाने की दास्ता लिख दें, इस बारे में किसी ने नहीं सोचा था।

कहानी की शुरुआत मुंबई के एक कॉल सेंटर हुई। 28 साल की श्रद्धा की मुलाकात होती है एक अफताब नाम के युवक के साथ। फिर दोनों करीब आए और यह करीबियां बदल गई प्यार में। बात परिवार तक पहुंची और जैसा होता धार्मिक मतभेद वही हुआ। दोनों परिवार ही एक-दूसरे के असहमत नहीं थे। लेकिन प्यार पर पहरा प्यार की मजबूत करने का सबसे बड़ा कारण होता है। हुआ भी वही। दोनों ने बड़ा कदम उठाया और अपनी नई दुनिया बसाने के लिए मुंबई को छोड़ दिल्ली के छतरपुर पहुंच गए।

अब श्रद्धा यहां आकर अफताब से शादी करना चाहती थी लेकिन उसको समझ इस बात की नहीं कि उसका दिल्ली का बुलावा उसके मौत का कारण बनेगा। छतरपुर में रहकर दोनों लीव इन रिलेशनशीप में एक साथ रहने का निर्णय लिया। फिर बाते बिगड़नी शुरु हुई और बात झगड़ों तक आ गई। श्रद्धा शादी करने को तैयार थी लेकिन अफताब नहीं। श्रद्धा ने शादी का दबाव बनाना शुरू किया तो आफताब को यह अब आफत लगने लगा और 18 मई 2022 को झगड़ा हुआ और अफताब गुस्से में श्रद्धा का गला घोंट दिया। इसके बाद श्रद्धा के शरीर को 35 टुकड़ों में काटा और एक रेफ्रिजरेटर खरीद उसमें शरीर के टुकड़ों को रख दिया।

ये सारी बातें पुलिस द्वारा दी गई बयान और अफताब द्वारा कबूले गए अपने गुनाहों पर आधारित है। पुलिस की मानें तो आफताब ने कत्ल के बाद अगले 18 दिनों तक रात के समय दिल्ली और उसके आसपास के विभिन्न स्थानों पर शरीर के टुकड़ों को ठिकाने लगाना शुरू कर दिया था। एक तरफ यह सब शुरु हुआ था और दूसरी तरफ श्रद्धा के घरवालों की परेशानी भी बढ़ने शुरु हो गई। बहुत दिनों तक बात ना होने के कारण घर वाले परेशान होकर दिल्ली पहुंच गए। जब वह उसके फ्लैट पर पहुंचे तो उसमें ताला लगा था। इसके बाद उन्होंने पुलिस से संपर्क किया और गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई।

पिता ने गुमशुदा के आधार पर शिकायत दर्ज कराई और पुलिस ने खोजना शुरु कर दिया। फिर हाथ लगा अफताब जिसने इस पूरे कांड को अंजाम दिया। पुलिस ने जब पूछना शुरु किया तो सारी बातें अफताब ने कबूला और फिर मामला बाहर आया। आरोपी के खिलाफ हत्या सहित आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। 6 महिने पहले हुई श्रद्धा की हत्या का खुलासा हुआ और फिर जिसने भी इस बरबरता को सुना,एक सन्नाटा पसर गई। मुंबई से शुरु हुआ प्यार दिल्ली में दम तोड़ दिया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: