शनिवार, दिसम्बर 10Digitalwomen.news

Mariner 9: The Race To Mars – 51st anniversary of Mariner 10 Venus mission

51 साल पहले आज के दिन नासा का मरीनर-9 मंगल की कक्षा में पहुंचा था

Mariner 9: The Race To Mars – 51st anniversary of Mariner 10 Venus mission
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

51 साल पहले आज ही के दिन साल 1971 में नासा का मरीनर-9 मंगल की कक्षा में पहुंचा था। इसी के साथ किसी दूसरे ग्रह की कक्षा में जाने वाला ये पहला मेन मेड ऑब्जेक्ट बना गया था। 1960 में नासा ने मरीनर मिशन की शुरुआत की थी। 1962 से 1973 के दौरान कुल 10 मरीनर लॉन्च किए गए। मरीनर-9 को नासा ने 30 मई को फ्लोरिडा से लॉन्च किया था। 13 नवंबर को जब ये मंगल ग्रह की कक्षा में पहुंचा तब वहां धूल भरा तूफान आया हुआ था। करीब एक महीने बाद जब ये तूफान खत्म हुआ तब मरीनर-9 ने मंगल और उसके चंद्रमाओं की पास से तस्वीरें भेजीं।भले ही मंगल 2 और मंगल 3 उपयोग करने योग्य छवियों की एक न्यूनतम संख्या भेजने में सक्षम थे, मेरिनर 9 ने असाधारण रूप से अच्छा किया। यह फरवरी 1972 तक लगभग 20 ज्वालामुखियों की पहचान करने में सक्षम था, जिसमें बाद में ओलंपस मॉन्स नाम दिया गया था, जो 21 किमी से अधिक ऊंचाई पर स्थित है।

इसने एक अन्य प्रमुख सतह की भी पहचान की – घाटियों की एक प्रणाली जो 4,000 किमी से अधिक लंबी और 200 किमी चौड़ी है। इसके अंतरिक्ष यान खोजकर्ता मेरिनर 9 के सम्मान में घाटी का नाम वैलेस मेरिनेरिस रखा गया था। 27 अक्टूबर, 1972 को अंतिम संपर्क के समय तक, मेरिनर 9 ने वैज्ञानिक डेटा के 54 बिलियन बिट्स वापस कर दिए थे, जिसमें 7,300 से अधिक तस्वीरें शामिल थीं, जिनमें से कुछ मंगल के चंद्रमा फोबोस और डीमोस की थीं। इन छवियों ने 1-2 किमी के विभेदन पर मंगल ग्रह की सतह का 85% मानचित्रण किया। मेरिनर 9 की भारी सफलता ने उन लैंडर्स के लिए मार्ग प्रशस्त किया जो तब से मंगल ग्रह पर अपना रास्ता बना चुके हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: