गुरूवार, दिसम्बर 8Digitalwomen.news

Punjab prisons become first to allow conjugal visits for low-risk inmates

भगवंत मान सरकार की नई पहल: अब कैदी जीवन साथी के साथ कुछ समय बिता सकेंगे, जेलों में यह सुविधा देने वाला पहला राज्य बना पंजाब

Punjab prisons become first to allow conjugal visits for low-risk inmates
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

पंजाब की भगवंत मान सरकार ने अब जेलों में पति-पत्नी को मिलने की सुविधा दे दी है। ‌पंजाब में इसके लिए काफी समय से मांग की जा रही थी। ‌जेलों में यह सुविधा देने वाला पंजाब देश का पहला राज्य भी बन गया है। ‌ पंजाब सरकार के इस फैसले के बाद अब जेल में सजा काटने वाले कैदी अपने जीवन साथी के साथ अकेले में कुछ समय बिता सकेंगे। ‌इसके लिए जेल में अलग कमरा बनाया गया है। फिलहाल यह सुविधा इंदवाल साहिब, नाभा, लुधियाना और बठिंडा महिला जेल में शुरू की जा चुकी है। इसे सभी जेलों में शुरू करने की तैयारी है। पंजाब के जेल मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने इस साल 15 सितंबर को लुधियाना सेंट्रल जेल से ‘पारिवारिक मुलाकात योजना’ का उद्घाटन किया था। सरकार की इस पहल के तहत कैदी जेल के अंदर बने विशेष कमरों में अपने प्रियजनों से व्यक्तिगत रूप से मिल सकते हैं। इस सुविधा के बाद पहले ही हफ्ते में 300 से ज्यादा आवेदन आए थे। जेल में ऐसी सुविधा वाला पंजाब देश का पहला राज्य है।यह योजना लंबी जद्दोजहद और विचार-विमर्श के साथ पंजाब सरकार द्वारा लाई गई है जिसमें कोई पुरुष कैदी या महिला कैदी, संतान पैदा करने के लिए कुछ समय अपनी पत्नी या पति के साथ गुजार सके। इसके पीछे के कारण अदालतों में दर्ज वे मामलें हैं, जिनमें महिलाओं द्वारा कहा गया था कि वह अपने पति से जेल में संबंध बनाना चाहती है ताकि वह अपना वंश बढ़ा सके। जेल विभाग की इस व्यवस्था का लाभ लेने के लिए भी एक पूरी प्रक्रिया है, जिसके तहत कैदी को संबंधित जेल अधीक्षक को एक पत्र लिखकर मांग रखनी होगी, फिर शादी और मेडिकल सर्टिफिकेट जमा करने होंगे। पूरी प्रक्रिया में जेल संबंधित अधिकारी/पुलिस विभाग नियमानुसार फैसला लेंगे और अनुमति मिलने पर पति-पत्नी को कुछ समय साथ गुजारने की अनुमति दी जाएगी। पंजाब की जेलों में इस योजना की शुरुआत विदेश की जेलों में मिलने वाली व्यवस्था की तर्ज पर हुआ है। जर्मनी, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, फिलिपींस, कनाडा और सऊदी अरब समेत कई देशों में यह सुविधाएं पहले से ही उपलब्ध है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: