शनिवार, नवम्बर 26Digitalwomen.news

जिस ऑटो ड्राइवर के घर केजरीवाल ने डिनर किया था अब वह खुद को मोदी समर्थक बता रहा है

Auto driver who invited Kejriwal says he is Modi fan
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

गुजरात चुनाव से पहले सिसायत एक अलग ही करवट ले लिया है। कारण ना ही कोई राजनीतिक दल है और ना ही कोई नेता बल्कि कारण हैं एक आम जनता जो प्रोफेशन ऑटो ड्राइवर है। नाम है विक्रम दत्तानि। अब यह ऑटो ड्राइवर के सुर्खी में आने का कारण जान लीजिए। गुजरात दौरे पर गए आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल इसी ऑटो ड्राइवर के घर जाकर डिनर किया था, लेकिन अब शायद ऑटो वाले ने यह बताते हुए केजरीवाल के इस विक्टिम कार्ड को फेल कर दिया कि वह नरेन्द्र मोदी का भक्त है।

12 सितंबर को आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने जिस ऑटो चालक के घर रात का डिनर किया था। वह अब खुद को मोदी समर्थक बता रहा है। अहमदाबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा में ऑटो चालक विक्रम दत्तानी बीजेपी का केश और टोपी लगा पहुंचे। दत्तानी ने मीडिया के सवालों पर कहा कि वह शुरुआत से ही मोदी साहेब का समर्थक है। जब से वोट देना शुरू किया है वह अभी तक वह भाजपा को वोट देता आ रहा है।

इतना ही नहीं जब मीडिया ने उससे केजरीवाल को अपने घर खाने पर बुलाने पर सवाल किया तो दत्तानी ने कहा, मुझे कुछ नहीं पता। मुझे यूनियन के लोगों ने बोला था कि उन्हें खाने पर बुलाना है। तो मैंने पंजाब का वीडियो देखकर उन्हें निमंत्रण दिया। जब उन्होंने निमंत्रण स्वीकार कर लिया तो फिर उन्हें लेने तो जाना ही था। दत्तानी ने साफ-साफ कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रभावित है। वह उनका आशिक है। केजरीवाल के ऑटो चालक के घर खाना खाने जाने पर हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ था। केजरीवाल की सुरक्षा और प्रोटोकाल को लेकर पुलिस के अधिकारियों से बहस भी हुई थी। तब ये भी कहा गया था कि ऑटो चालक के घर खाना खाने जाने का पूरा प्लान स्क्रिप्टेड है।

केजरीवाल के डिनर को स्टंट करार दिया गया था, लेकिन दो हफ्ते में अब खुद विक्रम दत्तानी ने अपने सुर बदल लिए हैं। यह पूछे जाने पर कि जब केजरीवाल उनके घर गए थे तो क्या बात हुई थी? दत्तानी ने कहा कि उन्होंने मेरे घर के बारे में पूछा था। टीवी डिबेट और अखबारों में सुर्खियां बटोरने के बाद अब पूरा मामला बदल चुका है। के के नगर में रहने वाले विक्रम दत्तानी के घर की फोटो सोशल मीडिया पर खूब शेयर की गईं थी। केजरीवाल ने दत्तानी के घर खाना खाने के बाद कहा था कि उनकी पत्नी दिल्ली से हैं। उन्होंने उनके परिवार को दिल्ली आने पर अपने घर आने का निमंत्रण दिया है।

विक्रम दत्तानी अब केजरीवाल से पुलिसकर्मी के साथ हुए हंगामें और बवाल को गलत बता रहे हैं। दत्तानी ने यह भी कहा कि केजरीवाल जब खाना खाकर गए, उसके बाद उनकी किसी से कोई बात नहीं हुई। दत्तानी का कहना है कि वह आम आदमी पार्टी का समर्थक नहीं है बल्कि यूनियन की तरफ से कहने पर उसने यह सब किया। इतना ही नही ऑटो ड्राइवर ने केजरीवाल के कामो को लेकर नहीं बल्कि उनका एक पंजाब में वायरल वीडियो देखकर पहचाना था।

Leave a Reply

%d bloggers like this: