मंगलवार, नवम्बर 29Digitalwomen.news

छात्रा ने मुफ्त मांगा सैनिटरी पैड तो बिहार महिला विकास निगम की प्रबंधक ने दिए शर्मनाक बयान

Want condoms too? IAS officer rebukes girl seeking pads
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

नीतीश कुमार-तेजस्वी यादव का बिहार, बोले तो नया बिहार। जिसमें रोजगार के दावे भी हैं और कई सारे वायदें भी। लेकिन बेरोजगार युवाओं को पहले तेजस्वी यादव ने और फिर नीतीश कुमार ने बेरोजगार युवाओं को तस्सली तो दे दी लेकिन शायद अपने महिला विकास निगम प्रबंध निदेशक को बोलने की और छात्राओं के साथ पेश आने की नसीहत नहीं दी है। इसलिए एक कार्यक्रम के दौरान जब एक छात्रा ने सैनिटरी पैड मुफ्त में उपलब्ध कराने की गुहार लगाई तो उसपर शर्मनाक बयान देने से निदेशक महोदया पीछे नहीं हटी।

Want condoms too? IAS officer rebukes girl seeking pads

दरअसल बिहार महिला विकास निगम की प्रबंध निदेशक हरजोत कौर एक कार्यक्रम में शिरकत की जहां विभिन्न विद्यालय से आई छात्राएं थी। कार्यक्रम के दौरान स्कूली छात्राओं ने सैनिटरी पैड मुफ्त में उपलब्ध कराने की गुहार लगाई। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए एमडी हरजोत कौर ने कहा, ‘आप आज सैनिटरी पैड मांग रही हो, कल आप कंडोम मांगोगी।’ हरजोत कौर का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा है। वीडियो में स्कूली छात्राओं को सैनिटरी नैपकिन मुफ्त में देने की मांग करते हुए देखा जा सकता है ताकि उन्हें जरूरतों के लिए दूसरों पर निर्भर नहीं रहना पड़े।

Want condoms too? IAS officer rebukes girl seeking pads

छात्रा का सवाल एकदम लाज़िम था। एक स्कूली छात्रा ने सवाल किया, “सरकार बहुत सारा मुफ्त सामान दे रही है। क्या हमें 20-30 रुपये के सैनिटरी पैड नहीं दे सकती है?” आईएएस अधिकारी हरजोत कौर ने लड़की के सवाल का जवाब देते हुए कहा, “क्या मांगों का कोई अंत है? कल आप कहेंगे कि सरकार जींस और खूबसूरत जूते दे सकती है। जब परिवार नियोजन की बात आती है, तो आपको मुफ्त कंडोम भी चाहिए।” हरजोत कौर ने कहा, “आपको सरकार से चीजें लेने की आवश्यकता क्यों है? यह सोच गलत है।”

लड़कियों ने उनके दावों का खंडन करते हुए कहा कि सरकार वोट के लिए चुनाव के दौरान बहुत कुछ करने का वादा करती है। इसपर हरजोत कौर ने कहा, “वोट मत दो। बन जाओ पाकिस्तान। हालांकि हरजोत ने अपने सफाई में कहा कि वे महिलाओं के अधिकारों और सशक्तिकरण के सबसे मुखर चैंपियनों में से एक के रूप में जानी जाती है। डब्ल्यूसीडीसी द्वारा जिन शरारती तत्वों के खिलाफ कार्रवाई की गई है, वे अब मेरी प्रतिष्ठा को धूमिल करने की कोशिश कर रहे हैं।”

Leave a Reply

%d bloggers like this: