मंगलवार, अक्टूबर 4Digitalwomen.news

अमानतुल्लाह खान की बेल को कोर्ट ने रद्द कर 4 दिनों की कस्टडी में भेज दिया है

Court rejects Amanatullah Khan’s bail 
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

अमानतुल्लाह खान की गिरफ्तारी के बाद राजनीतिक तेज हो गई है। खुद केजरीवाल पर कई तरह के आरोप लग रहे हैं। लेकिन इसी बीच कोर्ट में अमानतुल्लाह खान की पेशी हुई थी जिसमें उनके बेल की अर्जी डाली गई थी जिसे कोर्ट ने रद्द कर दिया। कोर्ट ने सिर्फ अर्जी ही रद्द नहीं किया बल्कि उन्हें 4 दिनों की कस्टडी में भेज दिया गया।

हालांकि कोर्ट में पेशी होने से पहले ही केजरीवाल ने एक प्रेसवार्ता कर कहा कि सत्येंद्र जैन को गिरफ़्तार किया, लेकिन कोई सुबूत पेश नहीं कर पा रहे। मनीष सिसोदिया के घर रेड की कुछ नहीं मिला, अब अमानतुल्ला को गिरफ्तार किया। अभी और भी कई विधायकों को गिरफ्तार करेंगे। लगता है गुजरात में इन्हें बहुत ज्यादा तकलीफ हो रही है।

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान को कल दिल्ली पुलिस की एसीबी की टीम ने गिरफ्तार किया है। केजरीवाल के तुरंत बाद आप प्रमुख प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने भी एक प्रेसवार्ता कर भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि, पिछले कई महीने से एक खास तरीके से भाजपा अपनी एजेंसियों का उपयोग करके झूठ की इमारत खड़ी कर रही है।

सौरभ भारद्वाज ने भी प्रेसवार्ता में कहा कि पहले सत्येंद्र जैन के घर छापा मारा, मनीष सिसोदिया के यहां छापा मारा। एजेंसियों ने बताया कि सत्येंद्र जैन के करीबियों के यहां छापेमारी में लगभग साढ़े 3 करोड़ रुपये मिले लेकिन एजेंसी यह बताने को तैयार नहीं कि उन करीबियों से जैन का क्या रिश्ता था? उसके बाद मनीष सिसोदिया के यहां छापा मारा गया। घर से लेकर गांव तक छापा मारा गया लेकिन कुछ बरामद नहीं हुआ।

सौरभ भारद्वाज का हालांकि कहना है कि अमानतुल्लाह खान के घर पर छापेमारी करने पर एसीबी को कुछ नहीं मिला लेकिन एसीबी ने जब अमानतुल्लाह खान को गिरफ्तार किया तो उसने साफ कहा था कि उसके पास वक्फ बोर्ड के चेयरमैन रहते हुए अमानतुल्लाह खान द्वारा किए गए अनियमितता के पुख्ते सबूत हैं। जबकि सौरभ भारद्वाज ने इस पूरे मामले को भाजपा का हताशा बताया है और कहा कि ACB से मेरी बात हुई है और इस पूरे मामले को लेकर ACB ने दो मुकदमे दर्ज किए हैं, उनके करीबियों के खिलाफ।

इस मामले में तीन FIR दर्ज की गई हैं जिनमें कहीं भी अमानत का नाम नहीं है. एसीबी ने जानबूझकर ये खबर इस तरीके से दी है जिससे ये लगे कि अमानत के घर से हथियार और कारतूस बरामद हुए हैं जबकि एसीबी की एफआईआर में कहीं भी अमानत का जिक्र नहीं है। आम आदमी पार्टी से घबराकर भाजपा अब ये सब कर रही है। एक ऑडियो से यह साफ है कि एसीबी को जांच के दौरान कुछ नहीं मिला। गुजरात में आम आदमी पार्टी के बढ़ते प्रभाव से घबराकर भाजपा अपनी एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: