सोमवार, अक्टूबर 3Digitalwomen.news

भाजपा 16 अन्य कूड़ों का पहाड़ तैयार कर दिल्ली को कूड़ों की राजधानी बनाने की तैयारी कर रही है- केजरीवाल 

16 more landfills will turn Delhi into ‘garbage Capital’, says chief minister Arvind Kejriwal
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

दिल्ली में एमसीडी एकीकरण होते ही दिल्ली में कूड़ों की राजनीति शुरु हो चुकी है। अरविंद केजरीवाल प्रेसवार्ता करके भारतीय जनता पार्टी के ऊपर निशाना साधा है और फिर आरोप लगा दिया कि भलस्वा, गाजीपुर और ओखला के अलावा दिल्ली में अब एमसीडी 16 कूड़े के पहाड़ बनाने जा रही है। सीएम ने कहा कि वे दिल्ली को कूड़े के पहाड़ों की राजधानी बनाना चाहते हैं।

पिछले 15 वर्षों से राजधानी के नगर निगम को भाजपा चला रही है और यही कारण है कि साफ-सफाई पर केजरीवाल पिछले आठ सालों से लगातार निशाना साध रहे हैं। हालांकि पिछले साल विधानसभा में बंपर सीटों के साथ सत्ता पर काबिज होने आने वाले केजरीवाल के हाथों में एमसीडी नहीं आ पाई थी, लेकिन इस बार पंजाब में चुनाव जीतने के बाद उन्हें ऐसा लगता है कि शायद गुजरात के साथ-साथ वे दिल्ली के एमसीडी में भी आएंगे। लेकिन ऐसा अधिकत्तर बार देखने को मिला है कि जो पार्टी सरकरा में होती है वह एमसीडी में नहीं होती।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में हमने शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी के क्षेत्र में बहुत काम किए लेकिन सफाई बहुत खराब है, चारों तरफ कूड़ा ही कूड़ा है, इसको लेकर शर्म भी आती है कि हमारी दिल्ली इतनी गंदी क्यों हैं। उन्होंने स्पेशली तीन कूड़ों का जीक्र किया भलस्वा, गाजीपुर और ओखला जिसकी ऊंचाई पहाड़ों जैसा है, कहा कि ये केवल शर्म का कारण नहीं बल्कि इसके आसपास जो आबादी रहती है उसके लिए ये नरक के समान है। इनके कारण पूरे एरिया में बदबू है और साथ ही कभी भी इन पहाड़ों में आग लग जाती है तो उसका धुआं चारों तरफ फैलता है। सोल्डि वेस्ट मेनेजमेंट तकनिक को दिल्ली में अपनाने की बात करते हुए केजरीवाल ने कहा कि कि हमारी कोशिश तो यह होनी चाहिए थी कि इन तीनों पहाड़ों को खत्म किया जाए लेकिन हज़ारों करोड़ ख़र्च करके भी इन 3 पहाड़ों की ऊंचाई बढ़ रही है।

सीएम केजरीवाल ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि अब सुनने में आ रहा है कि ये लोग 16 और नए कूड़े के पहाड़ बनाने का प्लान कर रहे हैं। तब दिल्ली के हर इलाक़े में कूड़े का एक पहाड़ होगा। 24 घंटे बदबू, धुआं और मक्खी-मच्छर झेलने पड़ेंगे। हम दिल्ली में बड़ी-बड़ी झीलें बना रहे हैं, हम देश की राजधानी का सौंदर्यीकरण कर रहे हैं दूसरी तरफ बीजेपी शासित एमसीडी दिल्ली को कूड़े के पहाड़ों की राजधानी बना रही है। दिल्ली के लोग और 16 पहाड़ नहीं चाहते।

भाजपा ने इस पूरे आरोप को झूठा बताते हुए कहा कि केजरीवाल को अब और कुछ नहीं दिखा तो कूड़े के मुद्दें उठाने लगे जबकि एमसीडी ने लगातार कूड़े को कम करने की तैयारी की है। जगह-जगह कम्पैक्टर लगाए हुए हैं और साथ ही इसमें कई अन्य तरह की भी तैयारी चल रही है। दिल्ली के जितने कूड़े हैं उनको 2.5 साल के अंदर खत्म कर दिया जाएगा। और साथ ही उनके जगह पेड़ों को लगाने की भी तैयारी की जा रही है। आज केजरीवाल को एमसीडी में बोलने के लिए कुछ नहीं बचा है इसलिए वे अभी बेफालतू की बातों में लोगों को उलझाने का काम कर रहे हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: