रविवार, सितम्बर 25Digitalwomen.news

मैंने कभी भी डीएनए की बात नहीं की लेकिन पीएम मोदी तो नीतीश कुमार के डीएनए को भी नहीं छोड़ा- तेजस्वी यादव

JOIN OUR WHATSAPP GROUP

बिहार में इस वक्त नीतीश कुमार सियासत की दूसरी पारी खेल रहे हैं और एक बार फिर से चाचा-भतीजे की इस जोड़ी ने बिहार की सत्ता संभाल कर एक नई पारी का आगाज कर चुकी है। हालांकि इस पूरे कहानी में तेजस्वी ने जो भी वायदें किए हैं, उसपर चर्चा खूब चर्चा हो रही है।

तेजस्वी ने आज मीडिया के सामने आकर कई बातों को रखा। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को 20 लाख रोजगार देने वाली मेरी बात पर भरोसा नहीं है वे सिर्फ कुछ समय दें ताकि ये सभी बातों को पूरा किया जके। इसके बाद उन्होंने पीएम मोदी पर हमला बोला और कहा कि पीएम मोदी तो ऐसे नेता हैं जो देश के बड़े पद पर होने के बाद भी शब्दों की गरीमा को नहीं समझ पाते। उन्होंने नीतीश कुमार की डीएनए की टेस्ट वाली बात तक कही थी लेकिन हम साथ में हो या फिर विपक्ष में कभी भी उनके खिलाफ कुछ नहीं कहा।

आगामी लोकसभा चुनाव 2024 में विपक्षी एकजुटता की कवायद में जुटे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लालू यादव के साथ सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे। बीते दिनों नीतीश कुमार दिल्ली में कई वरिष्ठ विपक्षी नेताओं से इस बाबत मुलाकात कर चुके हैं। तेजस्वी यादव ने बताया कि उनके पिता लालू प्रसाद यादव और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विपक्षी एकता के मुद्दे पर सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे। तेजस्वी ने बताया कि 2024 लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ विपक्ष की एकजुटता के लिए मुख्यमंत्री विपक्षी नेताओं से मुलाकत कर रहे हैं।

बिहार सरकार की ओर से 10 लाख नौकरी के वादे को लेकर प्रशांत किशोर लगातार यह कई बार कह चुके हैं कि अगर सरकार ऐसा एक साल में कर देती है तो वो भी उनके साथ आ जाएंगे. इसी को लेकर तेजस्वी यादव से सवाल किया गया था। तेजस्वी यादव ने कहा- ‘अब जिनको भरोसा नहीं है तो कुछ देर इंतजार का मजा लीजिए, हो ही जाएगा। यह होना तय है. इस बात को समझ जाइए। आगे उन्होंने कहा कि कौन क्या कहता है इस बात पर कमेंट नहीं करना है। हम लोग सरकार में हैं और हम लोगों का ये कमिटमेंट है और ये बिल्कुल होकर रहेगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: