मंगलवार, अक्टूबर 4Digitalwomen.news

देश के असली मुद्दों से जुदा अब पक्ष-विपक्ष टी-शर्ट की कीमत जानने और काले जादू में व्यस्त है

BJP mocks Rahul Gandhi over ₹41,000
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

देश में इस वक्त अगर आम जनता की नज़रीए से देखें तो महंगाई और बेरोजगारी अपनी चरम सीमा पर है जिससे जीवन यापन करना नाको चने चबाने जैसा है, लेकिन इससे राजनीतिक पार्टियों को क्या? उन्हें तो सिर्फ अपना राजनीति चमकाने के लिए पैतरे और रंग बदलते रहना है। एक राजनीतिक पार्टी के तौर पर यह सही है लेकिन जब वहीं राजनीतिक पार्टी सत्ता में हो तो एक सरकार के तौर पर जनता की सुविधाओं के बारे में सोचना और उनके हितों में काम करना उस सरकार की और उस पार्टी का प्रथम दायित्व है।

कांग्रेस इस वक्त राहुल गांधी के नेतृत्व में भारत जोड़ो यात्रा निकाल रही है। इस यात्रा के दौरान 150 दिनों में करीब 3,570 किलोमीटर की दूरी तय की जा रही है। राहुल गांधी इस यात्रा के माध्यम से कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक का भ्रमण कर रहे हैं। कांग्रेस के इस यात्रा के बारे में जब भाजपा से सवाल किया गया तो भाजपा ने इसका हास्यास्पद उत्तर दिया। सवाल भारत जोड़ो यात्रा को लेकर और जवाब कि राहुल गांधी ने 41,257 रुपये की टी-शर्ट पहनी है। मतलब भाजपा जो सरकार में है, उसे भी इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि देश में महंगाई और बेरोजगारी दर दिन प्रति दिन बढ़ती जा रही है, उस पर कैसे रोक लगाएं।

कांग्रेस का ऐसा मानना है कि भाजपा भारत जोड़ो यात्रा से डर गई है और उसे इसपर जब जवाब नहीं मिल रहा है तो मुद्दे को भटकाने के लिए इस तरह की नीचले स्तर की राजनीति पर उतर गई है। कांग्रेस ने ट्वीट कर तंज कसते हुए लिखा,

“अरे….घबरा गए क्या? भारत जोड़ो जनसैलाब में उमड़े भीड़ को देखकर। मुद्दे की बात करो….बेरोजगारी और महंगाई पर बोलो। बाकी कपड़ों पर चर्चा करनी है तो मोदी जी के 10 लाख के सूट और 1.5 लाख रुपये के चश्मे तक बात जाएगी। बताओ करनी है?”

भाजपा और कांग्रेस के इस ट्वीट से इतना तो तय है कि कोई भी जनता के मुद्दों पर ना कुछ कहना चाहता है और ना ही सुनना। ट्वीट का सिलसिला शुरु हुआ तो कांग्रेस की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने भी बहती गंगा में हाथ धोने का काम कर दिया। उन्होंने भी ट्विटर पर पीएम मोदी की तस्वीरों का एक कोलाज शेयर करते हुए लिखा, “चलो भक्तों ने अच्छा याद दिलाया – बड़ा ब्रांडेड फ़क़ीर है भाई!”

सुप्रिया श्रीनेत के अनुसार, पीएन नरेन्द्र मोदी का बॉल पेन 25000 रुपये का, धूप से बचने का चश्मा 1.6 लाख रुपये का, सूट 10 लाख रुपये का, कार मर्सडीज 12 करोड़ रुपये का, घड़ी 1.3 लाख रुपये का बताया गया।

अब देश की दो सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टियों के बीच जिस बात को लेकर तर्क जोर पकड़ रहा है, उसका निष्कर्ष आम जनता के हितों क्या होने वाला है और देश के विकास में इन कुतर्कों का क्या योगदान होने वाला है, इस बात की समझ आम जनता को बेहतर है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: