मंगलवार, अक्टूबर 4Digitalwomen.news

Aam Aadmi Party launched Selfie with Government School Campaign in UP

क्या है आम आदमी पार्टी का उत्तर प्रदेश में सेल्फी विथ स्कूल अभियान जिसकी खूब चर्चा हो रही है

Aam Aadmi Party launched Selfie with Government School Campaign in UP
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

शिक्षा और स्वास्थ्य आम आदमी पार्टी के यही दो यूएसपी है राजनीति में। इसी के बदौलत दिल्ली में शानदार बहुमत से सरकार बनाई और पंजाब में भी विपक्ष के लिए कुछ नहीं छोड़ा। हालांकि यह जरूर है कि एक ही समय पर पांच राज्यों में चुनाव लड़ते हुये कुछ खास सफलता नहीं हाथ लगी। लेकिन इस समय मिशन गुजरात को लेकर आम आदमी पार्टी काफी संघर्षरत है। गुजरात में चुनाव है इसलिए वहां पर कार्यक्रम, दौरा करना ये सारी बातें राजनीतिक पार्टी होने के कारण समझ आती है लेकिन इसके अलावा स्कूलों और स्वास्थ्य सम्बंधित मामलों में आम आदमी पार्टी असम और उत्तर प्रदेश में भी काफी व्यस्त नज़र आ रही है।

Aam Aadmi Party launched Selfie with Government School Campaign in UP

उत्तर प्रदेश के आप प्रभारी और राज्यसभा सांसद संजय सिंह इस वक्त पूरे उत्तर प्रदेश में सेल्फी विथ स्कूल कार्यक्रम चला रहे हैं। उत्तर प्रदेश के लगभग 50 स्कूलों के साथ प्रति वीडियो बनाकर और सेल्फी लेकर सोशल मीडिया पर डालेगी। आप नेता ने कहा कि प्रदेश के बच्चे जमीन पर, टाट पर बैठकर पढ़ते हैं। बच्चों को मिड डे मील में नमक रोटी और नमक-भात दिया जा रहा है। तिमाही परीक्षा होने वाली है और बच्चों को 50 फीसदी तक किताबें नहीं उपलब्ध कराई गई हैं। इन अनियमितताओं को उजागर करने के लिए आप सेल्फी विद सरकारी स्कूल नाम का अभियान चला रही है। 5 सितंबर से शुरू हुआ यह अभियान 12 सितंबर तक चलेगा।

इसके साथ ही संजय सिंह गोमती नगर लखनऊ में एक प्रेसवार्ता करके भाजपा सरकार पर बड़ा आरोप लगा दिया था कि उत्तर प्रदेश में 25,577 सरकारी स्कूल बंद हुए, मध्य प्रदेश में जहां भाजपा का शासन है 22,824 सरकारी स्कूल बंद हुए, असम में जहां भाजपा का शासन है 6,271 सरकारी स्कूल बंद हुए, उत्तराखंड जहां भाजपा का शासन है 1,101 सरकारी स्कूल बंद हुए। संजय सिंह के अनुसार भाजपा को स्कूल बंद करने में महारथ हासिल है।

आपको बता दें कि दिल्ली में भाजपा लगातार केजरीवाल सरकार को स्कूलों की बातों पर घेरती रहती है। आप के मेनिफेस्टो का हवाला देते हुए भाजपा आरोप लगाती है कि केजरीवाल ने कहा था कि सत्ता में आते ही 500 स्कूल और 20 कॉलेज खोलेंगे लेकिन आज 8 सालों के बाद भी ना ही एक स्कूल है और ना ही एक कॉलेज। उल्टा स्कूल में कमरे बनवाने के नाम पर करोड़ो रूपये का घोटाला भी सामने आ गया है। शौचालय की गिनती भी कमरों में कर केजरीवाल सरकार ने पैसे बटोरे हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: