सोमवार, अक्टूबर 3Digitalwomen.news

Jharkhand Political Crisis: Hemant Soren wins trust vote; gets 48 out of 81 votes

झारखंड में हेमंत सोरेन ने हासिल की विश्वास मत, मिला 48 विधायकों का समर्थन

Jharkhand Political Crisis: Hemant Soren wins trust vote; gets 48 out of 81 votes
Jharkhand Political Crisis: Hemant Soren wins trust vote; gets 48 out of 81 votes
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

झारखंड मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपनी कुर्सी पर मंडराते संकट के बीच आज राज्य विधानसभा में विश्वास मत हासिल करते हुए 48 विधायकों का समर्थन प्राप्त किया। इसी के साथ निमंत्रण में अपनी कुर्सी जाने से बचा ली। मतदान के दौरान भाजपा विधायकों ने वॉकआउट किया।

बता दें कि झारखंड में विश्वास मत साबित करने के लिए आज विधानसभा विशेष सत्र बुलाया गया था। सत्र के लिए महागठबंधन सरकार के समर्थक 29 विधायकों को छह दिन बाद रविवार को रायपुर से रांची लाया गया था। विश्वास मत की कार्रवाई में राज्य के तीन कांग्रेस विधायक शामिल नहीं हो सके, क्योंकि वे कैश कांड में फंसे हैं। ये विधायक हैं, डॉ इरफान अंसारी, नमन विक्सल कोंगाड़ी और राजेश कच्छप। उन्हें हाईकोर्ट ने कोलकाता छोड़ने की इजाजत नहीं दी है।
मालूम हो कि भाजपा ने लाभ के पद के मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को विधानसभा से अयोग्य ठहराने की याचिका दर्ज की थी, जिसके बाद, चुनाव आयोग ने 25 अगस्त को राज्यपाल रमेश बैस को अपना फैसला भेजा था, जिससे राज्य में राजनीतिक संकट पैदा हो गया था। हालांकि चुनाव आयोग के फैसले को अभी तक आधिकारिक नहीं किया गया है, लेकिन चर्चा है कि चुनाव आयोग ने एक विधायक के रूप में मुख्यमंत्री की अयोग्यता की सिफारिश की, जिसके बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपनी शक्ति प्रदर्शन के लिए विश्वास मत की बात रखी थी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: