मंगलवार, अक्टूबर 4Digitalwomen.news

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज दे सकते हैं इस्तीफा, राज्यपाल ने समय देने से किया इनकार

Hemant Soren likely to resign as MLA in sensational turn to Jharkhand political crisis
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

झारखंड में जारी सियासी संकट के बीच आज झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज इस्तीफा दे सकते हैं। खबर है कि हेमंत सोरेन विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे सकते हैं। उन्होंने आज 4 बजे कैबिनेट की बैठक बुलाई है। इस बैठक के बाद वे इस्तीफा दे सकते हैं। हेमंत सोरेन इसके बाद दोबारा सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे और इसके लिए जेएमएम नेताओं ने राज्यपाल से मिलने का समय मांगा था। हालांकि, राज्यपाल ने समय देने से इनकार कर दिया है।

दरअसल में, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के खिलाफ लाभ के पद के मामले में हाल ही में चुनाव आयोग ने अपनी सिफारिश राज्यपाल को भेजी थी। इसमें सोरेन की विधानसभा सदस्यता रद्द करने की सलाह दी गई थी। हालांकि, राज्यपाल रमेश बैस ने अभी तक इस मामले में कोई फैसला नहीं लिया है।

झारखंड में जारी है सियासी उथल-पुथल:

हेमंत सोरेन की विधायकी पर संकट के बीच सूबे में सियासी उथल-पुथल जारी है। हेमंत सोरेन के नेतृत्व वाले सत्ताधारी गठबंधन के विधायकों को छत्तीसगढ़ के रायपुर में रिसॉर्ट में ठहराया गया है। सोरेन सरकार का आरोप था कि बीजेपी द्वारा विधायकों की खरीद-फरोख्त की कोशिश की जा रही है।

क्या है पूरा मामला:

दरअसल में झारखंड में बीजेपी ने राज्यपाल के पास एक शिकायत भेजी गई थी। इसमें मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को खुद को एक खनन पट्टा जारी करके चुनावी कानून का उल्लंघन करने का आरोप लगाया गया था। बीजेपी ने मांग की थी कि हेमंत सोरेन की लाभ के पद के मामले में विधानसभा की सदस्यता रद्द होनी चाहिए। इस पर राज्यपाल ने चुनाव आयोग से सिफारिश मांगी थी।
संविधान के अनुच्छेद 192 के तहत, किसी सदस्य को अयोग्य ठहराने के मामले में अंतिम फैसला राज्यपाल को करना होता है।
हालांकि, ऐसे किसी भी मामले में कोई निर्णय देने से पहले राज्यपाल चुनाव आयोग की राय लेनी होती है और उसी के मुताबिक फैसला करना होता है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: