सोमवार, अक्टूबर 3Digitalwomen.news

सूर्या की चमक और विराट की दहाड़ में फीका पड़ा हांगकांग, भारत सुपर 4 के लिए किया क्वालीफाई

JOIN OUR WHATSAPP GROUP

जब एक बल्लेबाज का दिन होता है तो उसके पहले ही शॉट से पता चल जाता है कि आज कुछ बड़ा होने वाला है। सूर्यकुमार यादव ने क्रीज पर आते ही बता दिया कि आज यह सूर्य अन्त तक चमकने के लिए आया है। सूर्यकुमार ने क्रीज पर आते ही चौके के साथ अपनी पारी का आगाज किया और देखते ही देखते हांगकांग के गेंदबाजों की बखूबी खबर लेनी शुरू कर दिया। हिम्मत इस बात की भी थी कि सामने विराट कोहली बैटिंग कर रहे थे। सूर्यकुमार यादव ने सिर्फ 26 गेंदों में 6 छक्के और इतने ही चौकों की मदद से नॉट आउट 68 रन की जबरदस्त पारी खेली। जबकि विराट कोहली ने नाबाद 44 गेंदों पर 59 रनों की एक सूझ बूझ और समझदारी भरी पारी खेली जिसमें 3 छक्के और एक चौका शामिल था। भारत यह मैच 40 रनों से जीतकर सुपर 4 में जगह पक्की कर ली है।

हांगकांग के खिलाफ भारत टॉस हारने के बाद जब बैटिंग के लिए उतरा तो राहुल और रोहित की जोड़ी ने एक सधी और तेज शुरुआत देने की कोशिश की लेकिन राहुल की धीमी पारी के कारण रोहित शर्मा रन रेट बढ़ाने के चक्कर में 13 गेंदों में 21 रन बनाकर आउट हो गए। राहुल ने जरूर 39 गेंदों पर 36 रन बनाये लेकिन जब लग रहा था कि शायद राहुल अब यहां से बड़े शॉट खेलेंगे तो वे अपना विकेट फेंक कर पवेलियन लौट गए। इसके बाद विराट और सूर्यकुमार यादव की जोड़ी ने सिर्फ 42 गेंदों पर 98 रनों की एक मजबूत और तेज साझेदारी कर हांगकांग की उम्मीदों पर पंनी फेर दिया।


हांगकांग के कप्तान ने इस बात को पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में बताया भी कि वे 13वीं ओवर तक मैच में पकड़ बनाये हुए थे लेकिन सूर्या की बैटिंग ने उनकी इस पकड़ को ढीला कर दिया। भारतीय बल्लेबाजों ने 20 ओवर में कुल 192 रन बना डाले। 193 रनों का टारगेट मिलने के बाद हांगकांग ने शुरुवात के दूसरे ओवर में ही मुर्तजा का विकेट खो दिया। इसके बाद हयात ने बैटिंग के लिए क्रीज पर कदम रखा और अच्छे फॉर्म में नजर आ भी रहे थे लेकिन जडेजा के हाथ में गेंद होने के बावजूद रन लेने की खुदकुशी कर बैठे और इसका शिकार हो गए उनके साथी कप्तान निज़ाक़त खान। मात्र 10 रन बनाकर पवेलियन लौट गए।


इसके बाद केडी शाह और हयात के बीच एक साझेदारी जरूर बन रही थी, लेकिन तेजी से रन बनाने के दबाव में बाबर हयात 35 गेंदों में 41 रन बनाकर आउट हो गए। केडी शाह ने 28 गेंदों पर 30 रन बनाए। जबकि जीशान अली 17 गेंदों में 26 रन बनाकर नॉट आउट रहे। भारतीय गेंदबाजो ने जरूर एक कप्तान के तौर पर जरूर रोहित शर्मा को डिस्प्वाइन्ट किया होगा। इसका कारण है कि चहल लगातार दूसरे मैच में किफायती गेंदबाजी करने के बावजूद विकेट नहीं ले पाए। एशिया कप में भारत ने तीन ही फ़ास्ट बॉलर रखा है। भुवनेश्वर कुमार को छोड़ आवेश खान और अर्शदीप कौर ने खूब रन लुटाए। दोनों के खाते 1-1 विकेट जरूर आये लेकिन आवेश अपने कोटे के चार ओवर में 53 जबकि अर्शदीप ने 44 रन लुटा दिए।


हांगकांग के खिलाफ भारत को यादगार पल में विराट कोहली का अर्धशतक शामिल है। कोहली के बल्ले ने इस अर्धशतक के लिए काफी इंतज़ार कराया। लेकिन ऐसा लग रहा था आज का मैच देखकर कि ,किंग कोहली इज बैक”। अगर वाकई में ऐसा होता है तो इस समय बाकी टीमों के ऊपर खतरे की घण्टी बजनी शुरू हो गई होगी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: