सोमवार, अक्टूबर 3Digitalwomen.news

सिसोदिया के घर CBI के पहुंचने के बाद आया कपिल मिश्रा का ट्वीट ‘ दो विकेट गिर गए तीसरा बाकी है’

We welcome CBI: Arvind Kejriwal tweets as CBI raids Manish Sisodia
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

नई आबकारी नीति को लेकर CBI की गतिविधियों में तेजी आ गई है। जिस लाइन को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पिछले कई दिनों से अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में रट्टा लगाए जा रहे थे आज वह लाइन सही साबित हुई है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर पर CBI की रेड पड़ी है. मनीष सिसोदिया ने इसकी पुष्टि की है कि CBI के अधिकारी उनके घर पहुंचे हैं। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है,

“CBI आई है। उनका स्वागत है। हम कट्टर ईमानदार हैं। लाखों बच्चों का भविष्य बना रहे हैं। बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे देश में जो अच्छा काम करता है उसे इसी तरह परेशान किया जाता है। इसीलिए हमारा देश अभी तक नम्बर-1 नहीं बन पाया।

दो और ट्वीट्स में मनीष सिसोदिया ने लिखा,

“हम जांच में पूरा सहयोग देंगे ताकि सच जल्द सामने आ सके. अभी तक मुझ पर कई केस किए, लेकिन कुछ नहीं निकला. इसमें भी कुछ नहीं निकलेगा. देश में अच्छी शिक्षा के लिए मेरा काम रोका नहीं जा सकता… ये लोग दिल्ली की शिक्षा और स्वास्थ्य के शानदार काम से परेशान हैं. इसीलिए दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री (सत्येंद्र जैन) और शिक्षा मंत्री को पकड़ा है ताकि शिक्षा स्वास्थ्य के अच्छे काम रोके जा सकें. हम दोनों के ऊपर झूठे आरोप हैं. कोर्ट में सच सामने आ जाएगा।”

CBI ने दिल्ली सरकार की एक्साइज पॉलिसी के मामले में FIR दर्ज की थी, जिसमें आरोप लगाया गया था कि पिछले साल नवंबर में लाई गई एक्साइज पॉलिसी को बनाने और लागू करने में कई गड़बड़ियां की गईं। बताया गया है कि मामले में मनीष सिसोदिया के घर के अलावा दिल्ली-एनसीआर में 20 से ज्यादा लोकेशन पर केंद्रीय एजेंसी ने रेड मारी है।

Excise Policy को लेकर CBI ने मारी रेड
1 सितंबर, 2022 से दिल्ली में शराब से जुड़ी पुरानी आबकारी व्यवस्था लागू होनी है। फिलहाल 6 महीने के लिए इसे वापस लाने का फैसला किया गया है। भाजपा का आरोप है कि नई आबकारी नीति के तहत सिसोदिया ने कई शराब माफियाओं के साथ मिलकर घोटालेबाजी की है। खुद विधानसभा में सिसोदिया ने कहा था कि दिल्ली के 100 वैसे वार्ड हैं जहां शराब के ठेके नहीं खोले या सकते लेकिन फिर सभी वार्ड में ठेके नियमों को ताक पर रखकर खोला गया।

नई आबकारी नीति पहले एक अगस्त से फिर 1 सितंबर से वापस लिया जाना था लेकिन उससे पहले ही CBI का सिसोदिया के घर रेड करना कई सवाल खड़े करता है। छापेमारी की खबर सामने आते ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने मंत्री का बचाव किया। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है,

“जिस दिन अमेरिका के सबसे बड़े अख़बार न्यूयॉर्क टाइम्स के फ़्रंट पेज पर दिल्ली शिक्षा मॉडल की तारीफ़ और मनीष सिसोदिया की तस्वीर छपी, उसी दिन मनीष के घर केंद्र ने CBI भेजी. CBI का स्वागत है. पूरा सहयोग करेंगे. पहले भी कई जांच/रेड हुईं. कुछ नहीं निकला. अब भी कुछ नहीं निकलेगा.”

केजरीवाल तो पहले ही सिसोदिया को लेकर ऐलान किया था कि उन्हें सीबीआई गिरफ्तार करने वाली है। जून में कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सत्येंद्र जैन की गिरफ्तारी के बाद केजरीवाल ने कहा था कि अब कुछ दिनों में मनीष सिसोदिया को निशाना बनाया जाएगा। जुलाई में भी अरविंद केजरीवाल ने अपनी बात दोहराई। उपराज्यपाल के शराब नीति की CBI जांच कराने के आदेश के बाद सीएम केजरीवाल ने कहा था कि केंद्र सिसोदिया की गिरफ्तारी चाहता है। उपमुख्यमंत्री के यहां CBI की रेड पड़ने की खबर सामने आते ही बीजेपी के कार्यकर्ता कपिल मिश्रा ने कहा,

“सत्येंद्र जैन का करप्शन पकड़ा जा चुका है. सिसोदिया के घोटाले अब जनता के सामने आ रहे हैं. शराब के ठेकों के नाम पर करोड़ों रुपये की लूट का मामला सिर्फ़ शुरुआत है. केजरीवाल सरकार के भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ हमारी लड़ाई जारी है. दिल्ली को लूटने वालो को जेल जाना ही पड़ेगा”

Leave a Reply

%d bloggers like this: