शुक्रवार, अगस्त 19Digitalwomen.news

CWG 2022 Women’s Cricket Semi-final: India Beat England By Four Runs to Enter Final

शानदार मुकाबले में भारतीय महिला टीम ने इंग्लैंड को 4रनों से हराकर फाइनल का टिकट कटा लिया है

CWG 2022 Women’s Cricket Semi-final India Beat England By Four Runs to Enter Final
CWG 2022 Women’s Cricket Semi-final: India Beat England By Four Runs to Enter Final
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

भारतीय महिला टीम जब कॉमन वेल्थ गेम में पहले ही मैच में जब ऑस्ट्रेलिया से 3 विकेट से मैच हारी तो ऐसा लगा कि कॉमन वेल्थ गेम का राह आसान नहीं रहने वाला लेकिन शायद वह एक बुरा सपना था जिसे हरमनप्रीत कौर की टीम ने भूला दिया। कप्तान के अलावा स्मृति मंधाना, जेमिमा और रेणुका सिंह की तिगड़ी के साथ पूरी टीम ने शानदार प्रदर्शन किया और पहली हार के बाद टीम ने अगले 2 मैच में पाकिस्तान और बारबाडोस को हराकर शानदार वापसी की। लेकिन समस्या सेमीफाइनल में थीं।

सामने इंग्लैंड की टीम जो दूसरे ग्रुप में टॉप पर थी तीन मैच जीत चुकी थी और साथ ही भारत के सामने शानदार टी-20 रिकॉर्ड भी भारतीयों की धड़कने बढ़ा रहा था। 22 मैचों में इंग्लैंड की महिला टीम ने 17 मुकाबले जीत चुकी हैं। लेकिन आज ना कोई रिकॉर्ड की प्रवाह थी और ना ही किसी मजबूत टीम का दवाब। भारतीय बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया।

मंधाना और शेफाली की जोड़ी ने टीम को शानदार शुरुआत दी। मंधाना की तेज गति से रन बनाने का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि जब शेफाली 7.5 ओवर में आउट हुई तो उस वक्त टीम का स्कोर 75 था जिसमें शेफाली वर्मा ने 17 गेंदों में 15 रनों का योगदान दिया था। जबकि शेफाली वर्मा तुलनात्मक देखा जाए तो स्मृति मंधाना से तेज खेलती हैं। मंधाना ने 32 गेंदों में तेजतर्रार 61 रन बनाए। जिसमें 8 चौके और 3 छक्के शामिल थे। इसके बाद 44 रनों की नॉट आउट पारी खेल जेमिमा ने भी सबको चौका दिया। कप्तान हरमनप्रीत कौर का 20 रन और दिप्ति शर्मा का 22 रनों की योगदान की मदद से भारत ने इंग्लैंड को 164 रनों का लक्ष्य रखा।

इंग्लैंड की शुरुआत तेज जरुर हुई लेकिन पहला विकेट तीसरे ओवर में ही गिर गया। शोफिया काफी तेज गति से रन बनाने के चक्कर में दिप्ति शर्मा का शिकार बनीं। डेनी वाइट (35), कप्तान सीवर(41) और एमी जोन्स (31) ने जरुर अच्छी पारियां खेली लेकिन शायद वह पर्याप्त नहीं था। दिप्ति शर्मा की कसी हुई स्पेल ने मैच में अंतर डाल दिया। दिप्ति ने अपने चार ओवर की स्पेल में सिर्फ 18 रन देकर एक विकेट हासिल किया। जबकि स्नेहा राणा ने 2 बल्लेबाजों को पवेलियन पहुंचाया।

अंतिम ओवर काफी रोमांच भरा रहा। स्नेहा राणा के हाथों में गेंद थी और इंग्लैंड को 6 गेंदों में 13 रनों की दरकार। लेकिन पहला गेंद डॉट, दूसरे गेंद पर सिंगल और तीसरे पर आउट कर स्नेह राणा ने स्कोर 3 गेंदों में 13 रन कर दिया। इसके बाद चौथी गेंद पर कैच छुटने से एक रन मिला और पांचवीं गेंद बाउंसर कर मैच को अपनी मुट्ठी में कर लिया। अब फाइनल में टीम इंडिया का मुकाबला ऑस्ट्रेलिया से होगा। मतलब एक गोल्ड की लड़ाई और दूसरा पहले मैच में हार का बदला लेने का मौका।

Leave a Reply

%d bloggers like this: