रविवार, सितम्बर 25Digitalwomen.news

भीषण गर्मी से कराह उठा यूरोप: दुनिया का खूबसूरत शहर लंदन बेहाल, ब्रिटेन सरकार ने पहली बार जारी की रेड वार्निंग

UK Issues an Unprecedented Red Warning for Heat
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

आइए आज आपको भारत से दूर यूरोप लिए चलते हैं। यूरोप का नाम आते ही मन घूमने के लिए व्याकुल हो जाता है। दुनियाभर के सैलानियों के लिए यूरोप का टूर बहुत ही खास माना जाता है। इसका बड़ा कारण यह है कि यूरोप के सभी देश एक दूसरे से सड़क मार्ग से भी जुड़े हुए हैं। यहां की खूबसूरती भी पर्यटकों का दिल जीत लेती है। बॉलीवुड की कई फिल्में भी यूरोप के देशों में शूट की गई हैं। यश चोपड़ा निर्देशित फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ की शुरुआत की शूटिंग यूरोप से ही हुई थी। इसके अलावा कई फिल्मों की शूटिंग यूरोप के देशों में की गई । आज भी कई बॉलीवुड फिल्म निर्देशकों की शूटिंग के लिए यूरोप मनपसंद जगह मानी जाती है। लेकिन पिछले कई दिनों से यूरोप के अधिकांश देशों में पड़ रही भीषण गर्मी की वजह से इमरजेंसी जैसे हालात हो गए हैं। यूरोप के कई हिस्सों में हालात इतने खराब बने हुए हैं कि वहां तेज लू चल रही हैं। इसके कारण कुछ क्षेत्रों में तो अधिकतम तापमान भी 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। इससे लोग घरों में रहने को मजबूर हैं। वहीं पुर्तगाल, स्पेन, फ्रांस, ग्रीस इटली, और क्रोएशिया में भीषण गर्मी के कारण जंगलों में आग भी लगने की घटनाएं सामने आ रही हैं। जर्मनी में भी गर्मी से हाल बेहाल है। वहीं गैस की कमी ने यहां के लोगों की हालत खराब कर रखी है। ऐसे में यूरोपीय संघ ने सभी देशों से कूलिंग प्‍लांट का उपयोग कम करने की चेतावनी दी है। ऐसे ही भीषण गर्मी की वजह से स्पेन के कुछ इलाकों में भी जंगलों में आग लगी हुई है। यहां तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक रिकार्ड किया गया है। वहीं दुनिया के सबसे खूबसूरत शहरों में शुमार ब्रिटेन की राजधानी लंदन भयंकर गर्मी की वजह से कराह रही है। ब्रिटेन में इन दिनों रिकॉर्डतोड़ गर्मी पड़ रही है। इस हफ्ते तापमान पहली बार 41 डिग्री पहुंचने की आशंका है। मौसम विभाग ने लंदन और मैनचेस्टर तक इंग्लैंड के अधिकतर हिस्सों में बहुत ज्यादा गर्मी की चेतावनी दी है। सरकार ने पहली बार गर्मी के लिए रेड वार्निंग जारी की है। फोटो बकिंघम पैलेस के बाहर तैनात गार्ड की है। ट्रैडीशनल बियर स्किन हैट पहने इस गार्ड को एक पुलिस अफसर पानी पिला रहा है। बता दें कि ब्रिटेन में जुलाई, 2019 में कैम्ब्रिज में 38.7 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया था, तब कई सवाल उठ खड़े हुए थे। यह बात ब्रिटेन के मौसम विभाग द्वारा कराए गए अध्ययन में सामने आई है। अध्ययन के प्रमुख लेखक निकोलस क्रिस्टिडिस ने कहा, हमने पाया है कि ब्रिटेन में बहुत अधिक गर्म दिनों की संभावनाएं तेजी से बढ़ रही हैं, यह एक खतरनाक संकेत है। अध्ययन में यह भी बताया गया है कि 35 डिग्री सेल्सियस से ऊपर का तापमान होना अब इस क्षेत्र में तेजी से आम बात होते जा रही है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: