रविवार, सितम्बर 25Digitalwomen.news

New Zealand Cricket: Same Salary in Cricket – न्यूजीलैंड क्रिकेट ने जो फैसला लिया है उससे महिला और पुरुष क्रिकेट में एक बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा

New Zealand’s professional women’s and men’s cricketers will receive the same pay for the same work on the same day, in a landmark agreement struck between NZC
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

क्रिकेट का जब भी नाम आता है तो सबके दिमाग में पुरुष क्रिकेटर्स ही आते हैं क्योंकि क्रिकेट के क्षेत्रों में पुरुषों को मिलने वाली सुविधाएं और क्रिकेट बोर्ड द्वारा मेन्स और वुमेन्स में अंतर पैदा करने के कारण लोगों के अंदर इस तरह की मानसिकता बैठ गई है। अब चाहे क्रिकेट का जन्मदाता इंग्लैंड ही क्यों न हो या फिर क्रिकेट से देश की आर्थिक स्थिति सुधारने वाला ऑस्ट्रेलिया हो या फिर सबसे अमीर बोर्ड बीसीसीआई ही क्यों न हो। अभी हाल ही में भारत में वुमेन्स क्रिकेट के प्रसारण पर भी संदेह होने लगा था जबकि इसके पीछे स्पॉन्सर ना होने का मुख्य कारण बताया गया था। लेकिन इन सभी भ्रांतियों को न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने तोड़ दिया है।

भले ही अभी दुनिया में लैंगिक असमानता खत्म नहीं हुई है और यह अंतर वेतन में भी दिखता है। इस स्थिति से खेल जगत भी अछूता नहीं है, लेकिन अब पहली बार विश्व क्रिकेट में न्यूजीलैंड बोर्ड ने महिला और पुरुष क्रिकेटरों को एकसमान वेतन देने की घोषणा की है। इस संबंध में न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड (एनजेडसी) और खिलाड़ी संघ के बीच पांच साल का ऐतिहासिक करार हुआ। इसमें कहा गया कि पुरुष और महिला क्रिकेटरों को सभी प्रारूपों और प्रतियोगिताओं में समान मैच फीस मिलेगी।

आखिर कितनी होगी राशि

एनजेडसी, छह बड़े संघों और न्यूजीलैंड क्रिकेट खिलाड़ी संघ के तहत वाइट फर्न (न्यूजीलैंड की राष्ट्रीय महिला क्रिकेट टीम) और घरेलू महिला खिलाड़ियों को सभी प्रारूपों में पुरुषों के समान मैच फीस मिलेगी। न्यूजीलैंड क्रिकेट की ओर से जो बयान जारी किया गया है उसके अनुसार, शीर्ष रैंकिंग वाली वाइट फर्न को साल में अधिकतम 1 लाख 63 हजार 246 न्यूजीलैंड डॉलर (पहले 83 हजार, 432 न्यूजीलैंड डॉलर), नौवीं रैंकिंग की खिलाड़ी को 1 लाख 48 हजार 946 डॉलर (पहले 66 हजार 266 न्यूजीलैंड डॉलर) और 17वीं रैंकिंग वाली खिलाड़ी को 1 लाख 42 हजार 346 न्यूजीलैंड डॉलर (62 हजार 833 न्यूजीलैंड डॉलर) तक मिलेंगे।

इसके साथ ही शीर्ष रैंकिंग वाली महिला घरेलू खिलाड़ियों को अधिकतम 19 हजार 146 न्यूजीलैंड डॉलर (पहले तीन हजार 423 न्यूजीलैंड डॉलर), छठी रैंकिंग की खिलाड़ी को 18 हजार 646 न्यूजीलैंड डॉलर (पहले तीन हजार 423 न्यूजीलैंड डॉलर) और 12वीं रैंकिंग खिलाड़ी को 18 हजार 146 न्यूजीलैंड डॉलर (पहले तीन हजार 423 न्यूजीलैंड डॉलर) तक मिलेंगे। न्यूजीलैंड पहला ऐसा क्रिकेट बोर्ड बन चुका है जो पुरुष और महिलाओं के वेतन समान रुप से वितरित करेगा। न्यूजीलैंड के खिलाड़ी फेयर प्लेयर अवार्ड में सबसे आगे रहते हैं जबकि उनकी टीम काफी फेयर क्रिकेट खेलने के लिए मशहूर हैं।

इस तरह का फेयर फैसला उनके द्वारा लिए जाने के बाद लोगों के दिलों में न्यूजीलैंड के लिए जगह और अधिक बढ़ गई है। हो सकता है कि क्रिकेट में इस शुरुआत के बाद भारत सहित अन्य देश भी इस बारे में विचार करें क्योंकि पुरुषों के मुकाबले महिलाओं के क्रिकेट और उनकी प्रतिभा को हमेशा से नज़रअंदाज किया जाता रहा है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: