मंगलवार, अगस्त 9Digitalwomen.news

सीएम धामी के आदेश पर भी मंत्री गंभीर नहीं, 100 दिन का रिपोर्ट कार्ड पेश करने में रहे पीछे

JOIN OUR WHATSAPP GROUP

देश में उत्तराखंड एक ऐसा राज्य माना जाता है जहां मंत्री और नौकरशाहों पर अधिक दबाव नहीं रहता । लेकिन इस बार अपने दूसरे कार्यकाल में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश के भ्रष्टाचार वाले अफसरों पर सख्त रवैया अपनाया हुआ है। पिछले दिनों भ्रष्ट आईएएस अधिकारी रामविलास यादव को विजिलेंस जांच के बाद सस्पेंड कर दिया गया। इसके साथ मुख्यमंत्री ने कई सालों से एक स्थान पर जमा अफसरों को भी इधर-उधर किया है। नौकरशाहों के साथ सीएम धामी ने अपने मंत्रियों को विकास कार्यों को समय पर पूरा करने और 100 दिन का रिपोर्ट कार्ड पेश करने के लिए दिशा निर्देश जारी किए थे।
इस आदेश का पालन सिर्फ एक मंत्री ने किया और बाकी मंत्रियों ने मुख्यमंत्री के आदेश को गंभीरता से नहीं लिया। ‌बता दें कि सीएम धामी ने पिछले दिनों कहा था कि अपनी सरकार के 100 दिन पूरा होने पर वह सभी मंत्रियों के रिपोर्ट कार्ड चेक करेंगे। पिछले दिनों 30 जून को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने दूसरे कार्यकाल के 100 दिन होने पर राजधानी देहरादून से लेकर पूरे राज्य में सीएम धामी और भाजपा ने कई कार्यक्रम आयोजित किए । इस मौके पर मुख्यमंत्री ने अपनी सरकार की उपलब्धियां बताई। ‌100 दिन पूरे होने पर मुख्यमंत्री ही अपनी उपलब्धियां गिनाते रहे। केवल एक मात्र महिला कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या ही ऐसी थीं जिन्होंने अपने कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड पेश किया। इनके अलावा और किसी मिनिस्टर ने अपने 100 दिन के विकास कार्यों का लेखा-जोखा सीएम धामी के समक्ष नहीं रखा। जबकि मुख्यमंत्री ने राज्य की दूसरी बार सत्ता संभालते ही इस बार विकास कार्यों पर कोई समझौता नहीं करने को लेकर सख्त रवैया अपनाया हुआ है। लेकिन सीएम धामी के इस विकासवादी मुहिम में उनके मंत्री पीछे रह गए।


मंत्रियों के समय पर रिपोर्ट पेश न करने पर कांग्रेस ने साधा निशाना–


मुख्यमंत्री धामी के आदेश के बाद उनके मंत्रियों के रिपोर्ट कार्ड पेश न करने पर विपक्ष कांग्रेस ने अब निशाना साधा है। उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करण माहरा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि भाजपा की कथनी और करनी में अंतर है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अभी तक बेरोजगारी को लेकर 100 दिनों में कोई ठोस फैसला नहीं लिया है। ‌ इसके साथ कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कई योजनाएं ऐसी हैं जिसका धामी सरकार ने अभी तक चर्चा भी नहीं की है। ‌करण माहरा कहा कि धामी सरकार के मंत्रियों के पास 100 दिन में विकास और समीक्षा को लेकर कुछ नहीं है। अगर इन मंत्रियों ने कुछ विकास कार्य किए होते तो वह अवश्य सरकार के 100 दिन पूरा होने पर मुख्यमंत्री को रिपोर्ट कार्ड पेश करते । बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी अपने मंत्रियों को 100 दिन के विकास कार्यों का लेखा-जोखा समय-समय पर चेक करते रहते हैं। ऐसे ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अपने मंत्रियों को 100 दिन पूरा होने पर रिपोर्ट कार्ड पेश करने के लिए कहा था। आज यूपी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरे कर लिए हैं। इसे लेकर सोमवार को सीएम योगी ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: