शुक्रवार, सितम्बर 30Digitalwomen.news

केजरीवाल सरकार जल्द पूरा करेगी 20 लाख और नौकरियां देने का वादा

JOIN OUR WHATSAPP GROUP

नई दिल्ली, 3 जुलाई। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा शुरू किए गए जॉब पोर्टल ‘रोजगार बाजार’ ने दिल्ली के अब तक 10.21 लाख लोगों को रोजगार दिलाया। कोरोना महामारी के बाद लोगों के पास काम नहीं था, ऐसे में यह पोर्टल काफी मददगार साबित हुआ। बता दें कि इस पोर्टल को 27 जुलाई 2020 लांच किया गया था। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार पोर्टल के लॉन्च होने के बाद से करीब दो वर्षों में 30 जून 2022 तक दिल्ली में 32 श्रेणियों में कुल 10,21,303 नौकरियां मिली हैं। ये नौकरियां कुल 19,402 नियोक्ता की ओर से दी गई हैं। रोजगार बाजार पोर्टल पर कोई नकली नौकरियां पोस्ट न हों, इसके लिए एक सख्त सत्यापन प्रक्रिया है।

पोस्ट की गई प्रत्येक नई नौकरी को व्यक्तिगत रूप से सत्यापित किया जाता है और इस प्रक्रिया के बाद ही पोर्टल पर नौकरियां पोस्ट होती हैं। उन्होंने कहा कि जल्द ही मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस साल रोज़गार बजट में घोषित 20 लाख और नौकरियां देने का वादा पूरा किया जाएगा। शीर्ष 4 क्षेत्र सेल्स, मार्केटिंग, बिजनेस डेवलपमेंट, बैक ऑफिस/डेटा एंट्री, कस्टमर सपोर्ट/टेली कॉलर और डिलीवरी फ्लीट में नए रोजगार सृजित किए गए हैं। केजरीवाल सरकार प्लेसमेंट पर प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए समय-समय पर नियोक्ताओं का सर्वे करती है।

30 जून 2022 तक रोजगार बाजार पोर्टल पर कुल 15,23,536 नौकरी चाहने वाले पंजीकृत हुए हैं। रोजगार पोर्टल नौकरी चाहने वालों और नौकरी प्रदाताओं के बीच फोन कॉल, व्हाट्सएप आदि के सक्रिय कनेक्शन को ट्रैक करता है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार 30 जून 2022 तक 53 लाख से अधिक सक्रिय कनेक्शन किए गए हैं। बाजार पोर्टल की सफलता के बाद केजरीवाल सरकार रोज़गार बाज़ार 2.0 पोर्टल लॉन्च करने के लिए पूरी तरह तैयार है। यह भारत में प्रवेश स्तर की नौकरियों के लिए अपनी तरह का पहला डिजिटल जॉब मैचिंग प्लेटफ़ॉर्म होगा।

पोर्टल पर पंजीकृत व्यक्ति ने कहा कि रोज़गार बाज़ार पोर्टल हमारे लिए लोगों को रोज़गार दिलाने के लिए एक बड़ी आशा के रूप में उभरा। मैंने संभावित उम्मीदवारों की स्किल्स के आधार पर उन्हें बुलाया और साथ काम करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि अधिकांश आवेदक अपने लिए सही नियोक्ता खोजने में सक्षम थे। अब तक उन्होंने पोर्टल से शेफ, साइट इंजीनियर, सुपरवाइजर, रूम अटेंडेंट और डाटा एंट्री ऑपरेटर्स को हायर किया है।

दिल्ली स्थित एक प्रमुख निर्माण फर्म एवं इंडस्ट्रीज के व्यक्ति ने कहा कि पोर्टल न केवल कर्मचारियों के लिए बल्कि नियोक्ताओं के लिए भी एक वरदान के रूप में आया है। हमारे क्षेत्र के उद्योगों को दैनिक कार्यों के लिए श्रमिकों की कमी का सामना करना पड़ा। पोर्टल पर पंजीकरण क बाद हमें आवेदकों से अच्छी प्रतिक्रिया मिली। यह पोर्टल उन पोर्टलों से बहुत अलग है जो आपको कर्मचारियों से जोड़ने के लिए पैसे लेते हैं। वास्तव में इस वजह से, यह अधिक कुशल है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: