गुरूवार, दिसम्बर 8Digitalwomen.news

भाजपा का आखिरी समय तक सस्पेंस: सीएम न बनाए जाने पर नाराज हुए फडणवीस को शपथ ग्रहण से ठीक पहले मनाया गया

Upset Devendra Fadnavis takes oath as deputy Chief Minister of Maharashtra, nanda appeal
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

महाराष्ट्र में 10 दिनों से जारी सियासी संकट का आखिरकार गुरुवार शाम 7:30 बजे पटाक्षेप हो गया। मुंबई स्थित राजभवन में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने पहले एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री और देवेंद्र फडणवीस को उप मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई। ‌ इस प्रकार एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र के 20वें मुख्यमंत्री हो गए हैं। महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन को लेकर दो नेताओं, एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस के इर्द-गिर्द घूमती रही। महाराष्ट्र में 10 दिनों तक चले सियासी घटनाक्रम में कई मोड़ आए। भाजपा हाईकमान ने आखिरी समय तक इस सियासी खेल में सस्पेंस बनाए रखा।

भाजपा ने पूरी सियासत को चौंका दिया। देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री बनने की तैयारी कर रहे थे। लेकिन ऐनमौके पर आलाकमान ने एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र की सत्ता सौंप दी। हाईकमान के इस फैसले के बाद देवेंद्र फडणवीस नाराज हो गए। उसके बाद शाम करीब 4:30 बजे फडणवीस ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए शिंदे सरकार में शामिल न होने का एलान कर दिया। देवेंद्र फडणवीस की नाराजगी की खबरें दिल्ली तक पहुंच गई। उसके बाद फडणवीस को मनाने का सिलसिला चला। दिल्ली से गृह मंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा ने फोन किए। महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री की घोषणा और फडणवीस के सरकार में शामिल नहीं होने के एलान के बाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा मीडिया के सामने आए और फडणवीस को बड़े दिल वाला नेता बताया। उन्होंने फडणवीस से गुजारिश की कि वे नई सरकार में शामिल हों और डिप्टी सीएम की कुर्सी संभालें। नड्‌डा ने इसके बाद कहा कि केंद्रीय नेतृत्व का भी ये निर्देश है कि देवेंद्र फडणवीस डिप्टी सीएम पद की शपथ लें। नड्‌डा के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने भी फडणवीस के सरकार में शामिल होने की पुष्टि की है।

इसके बाद फडणवीस ने भी ट्वीट कर लिखा, एक कार्यकर्ता के नाते पार्टी के आदेश का मैं पालन करता हूं। जिस पार्टी ने मुझे सर्वोच्च पद तक पहुंचाया, उसका आदेश मेरे लिए सर्वोपरि है। हाईकमान के आदेश के बाद देवेंद्र फडणवीस उप मुख्यमंत्री बनने के लिए तैयार हो गए। शाम 7 बजकर 40 मिनट पर एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उसके बाद देवेंद्र फडणवीस ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। मुंबई राज भवन में भगत सिंह कोश्यारी ने दोनों को शपथ दिलाई।

जब फडणवीस डिप्टी सीएम के पद की शपथ ले रहे थे तब उनके चेहरे पर मायूसी के भाव भी झलक रहे थे। यह पहली बार हुआ जब किसी मुख्यमंत्री ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली हो ।

बता दें कि साल 2014 से 2019 तक देवेंद्र महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रहे हैं। वहीं दूसरी ओर अभी एकनाथ शिंदे गुट के करीब 40 विधायक गोवा के होटल में ही मौजूद हैं। एकनाथ शिंदे के मुख्यमंत्री नाम का ऐलान होने पर गोवा के होटल में विधायकों ने खूब ठुमके लगाए।

Leave a Reply

%d bloggers like this: