मंगलवार, अगस्त 16Digitalwomen.news

राजस्थान के उदयपुर में जो घटना हुई है, वह देशहित में किसी भी सूरत में सही नहीं है

Udaipur Tailor Murder A Terror Attack
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

नई दिल्ली, 29 जून। धर्म-मजहब, हिन्दू-मुस्लिम, बहुसंख्यक-अल्पसंख्यक, ऐसा लग रहा है कि भारत में इस तरह के मुद्दों पर चर्चा और इसका प्रचार करने वाला एक विशेष बाजार है जो विशेष लोगों को टारगेट करता है और फिर उसका वीडियो भी बनाता है। ऐसा करने वाले इतना जरूर अभी तक बता चुके हैं कि उनके अंदर देश के कानून या प्रशासन का कोई डर नहीं है।

राजस्थान के उदयपुर शहर के धानमंडी थाना क्षेत्र के मालदास स्ट्रीट में दो लोगों ने एक युवक की दिनदहाड़े गला रेतकर हत्या सिर्फ इसलिए कर दी क्योंकि उस युवक का एक आठ साल के बच्चे ने सोशल मीडिया पर नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट कर दिया था। राजस्थान पुलिस ने दो युवकों को इस पूरे मामले में गिरफ्तार करने का दावा कर रही है, जिसका नाम मोहम्मद रियाज और गोस मोहम्मद बताया गया जैसा जारी वीडियो में भी हैं। इन्हें राजसमंद के भीम इलाके से अरेस्ट किया गया है।

इस वारदात के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। इंटरनेट बन्द कर दिए गए हैं। अगले 24 घण्टे तक इंटरनेट बन्द रहेगा। धानमंडी और घंटाघर थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और घटना का जायजा लिया। पुलिस ने शव को एमबी हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवा दिया। घटना के बाद राजनीतिक भी शुरू हो गई है। लेकिन बात यहां कांग्रेस और भाजपा या अन्य किसी दल की नहीं है बल्कि जिस हिम्मत के साथ ऐसी वारदात को अंजाम दिया जा रहा है वह देश के लिए घातक है।

जिस युवक की धारदार हथियार से हत्या की गई उसका नाम कन्हैयालाल था। इस घटना के बाद हिंदू संगठन में आक्रोश है। युवक की हत्या दो मुस्लिम आरोपियों ने तलवार से गला रेतकर की है। इस मामले में आरोपियों ने वीडियो जारी कर हत्या की जिम्मेदारी भी ली है। लोगों का कहना है कि हत्यारों को फांसी होनी चाहिए, ताकि ऐसा कृत्य दोबारा न हो। युवक का सिर काटकर की गई हत्या के विरोध में स्थानीय लोगों ने घटना के बाद मालदास गली क्षेत्र में दुकानों को बंद कर दिया है।हत्या के आरोपी रियाज मोहम्मद ने 17 जून को ही वीडियो बनाया था और दावा किया था कि सिर कलम करने के बाद वह वीडियो शेयर करेगा।

स्थानीय लोगों में गुस्सा इतना ज्यादा है कि अब पथराव भी शुरू हो चूके हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सभी से शांति बनाए रखने की अपील की है। मुख्यमंत्री ने कहा है, ‘उदयपुर में युवक की जघन्य हत्या की भर्त्सना करता हूं। इस घटना में शामिल सभी अपराधियों कठोर कार्रवाई की जाएगी एवं पुलिस अपराध की पूरी तह तक जाएगी। मैं सभी पक्षों से शान्ति बनाए रखने की अपील करता हूं। ऐसे जघन्य अपराध में लिप्त हर व्यक्ति को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी।’

भाजपा ने भी इस मामले पर कांग्रेस को घेरा और हत्यारों द्वारा प्रधानमंत्री की हत्या करने की बात की निंदा की। पूनियां ने कहा कि, मृतक कन्हैयालाल ने पुलिस से सुरक्षा मांगी थी, लेकिन उसे पुलिस ने सुरक्षा प्रदान नहीं की। यह सरकार की उदासिनता, लापरवाही और एक तरीके की अकर्मण्यता है। राजस्थान के जो हालात बने हैं। उसमें बहुसंख्यक हिंदुओं पर स्थान स्थान पर हमले हुए, हत्याएं हुईं। मुझे लगता है कि यह कांग्रसे की तुष्टिकरण की, अशोक गहलोत की तुष्टिकरण की नीति का ही परिणाम है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: