सोमवार, जून 27Digitalwomen.news

योग में रंगा देश: देशवासियों ने लिया संकल्प, अच्छी सेहत और मन की शांति के लिए हर रोज करेंगे योग

International Yoga Day 2022: Yoga For Better Mental Health
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

आज की सुबह कुछ खास रही। आम और खास सभी बुलंद इरादों के साथ योग के रंग में रंगे नजर आए। घरों, मैदानों और पार्कों में लाखों-करोड़ों लोगों ने योग किया। ‌इस दौरान जिन्होंने लोगों को योगाभ्यास करते हुए देखा उनसे भी रहा नहीं गया, उन्होंने भी व्यायाम करना शुरू कर दिया। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक जैसे पूरा देश एक सूत्र में बंध गया हो। देश में इस बार ऐसा माहौल दिखाई दिया जैसे लोगों ने दृढ़ संकल्प ले लिया हो कि अच्छी सेहत के लिए ‘योग को मित्र बनाएंगे’ । भारत के साथ दुनिया के तमाम देशों में आज अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है। हर साल 21 जून को यह दिवस मनाया जाता है। आज आठवां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस है। इस बार योग दिवस की थीम ‘मानवता के लिए योग’ रखी गई है। इस साल योग दिवस की थीम दुनिया पर कोरोना के असर को देखते हुए रखी गई है। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर भारत के तमाम शहरों में सुबह से ही उत्सव जैसा माहौल देखने को मिला।

योग दिवस के मौके पर आज करोड़ों लोग इसके साक्षी बने और उन्होंने संकल्प लिया कि अब ‘हर रोज करेंगे योग और रहेंगे निरोग’। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह कर्नाटक की सांस्कृतिक राजधानी मैसूर पैलेस के ग्राउंड पर 15000 लोगों के साथ योगाभ्यास किया। मोदी सरकार के 75 मंत्री सांस्कृतिक महत्व वाले 75 जगहों पर सामूहिक रूप से लोगों के साथ योगाभ्यास किया। वहीं, हरिद्वार में बाबा रामदेव ने मंगलवार सुबह लोगों को योगाभ्यास कराया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने राजभवन में योग किया। इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरी दुनिया को भारत की तरफ से ऋषि परंपरा का उपहार दिया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ऋषिकेश स्थित परमार्थ निकेतन आश्रम में योगाभ्यास किया। आज 200 देशों में योग मनाया जा रहा है। भारत को अपनी विरासत पर गर्व करना चाहिए। इस बार योग मानवता के लिए मनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिसकी प्रतिरोधक क्षमता अच्छी है तो वह अपने आप स्वास्थ्य है। अगर आपका शरीर निरोगी है तो आप धर्म में सफलता पा सकेंगे। योग का पहला नियम अनुशासन से जुड़ा है। आज अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर यूपी में 75 हजार जगहों पर योग अभ्यास हुआ। वाराणसी में 85 गंगा घाटों पर योगा कार्यक्रम हुआ। वहीं


स्वस्थ शरीर और मन के लिए योग बहुत जरूरी, पीएम मोदी ने देशवासियों को दिया संदेश

स्वस्थ शरीर और मन के लिए योग बहुत जरूरी है। योग करने से मानव जीवन पर सकारात्मक असर पड़ता है। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का मकसद लोगों के बीच योग के अभ्यास को बढ़ावा देना है। इस दिन पूरी दुनिया में योग को बढ़ावा देने और लोगों को प्रेरित करने के लिए कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। भारत के साथ-साथ योग की ताकत को अब पूरी दुनिया मान रही है। शरीर को हेल्दी रखने के लिए योग करने की सलाह दी जाती है। योग से शरीर के साथ-साथ आपका मानसिक स्वास्थ्य भी सही रहेता है। मैसूर पैलेस में योगाभ्यास के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्व को योग के प्रति संदेश भी दिया। पीएम मोदी बोले कि योग मानव मात्र को निरोग जीवन का विश्वास दे रहा है। मोदी ने कहा कि योग अब एक वैश्विक पर्व बन गया है। यह संपूर्ण मानवता के लिए है। इस बार योग दिवस की थीम है योगा फॉर ह्यूमैनिटी। पीएम ने कहा कि योगा से समाज, दुनिया में शांति आ सकती है। प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि देश आजादी की 75वीं सालगिरह मना रहा है। ऐसे में देश के 75 ऐतिहासिक केंद्रों पर एक-साथ योग किया जा रहा है। यह भारत के अतीत को भारत की विविधिता को एक सूत्र में पिरोने जैसा है। दुनिया के अलग-अलग देशों में सूर्योदय के साथ लोग योग कर रहे हैं। जैसे-जैसे सूर्य आगे बढ़ रहा है उसकी प्रथम किरण के साथ लोग अलग-अलग देशों में लोग साथ जुड़ते जा रहे हैं। यही गार्डियन रिंग ऑफ योगा है। योग दिवस पर लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, तमिलनाडु, उत्तराखंड, सिक्किम, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश समेत तमाम प्रदेशों में योगाभ्यास की तस्वीरें सामने आई। वहीं सेना के जवानों ने सूर्य नमस्कार का योग दिवस मनाया। भारत के साथ अमेरिका, इंग्लैंड, जर्मनी, स्विट्जरलैंड, न्यूजीलैंड, फिनलैंड और कनाडा समेत तमाम देशों में लोगों ने योग किया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: