मंगलवार, अक्टूबर 4Digitalwomen.news

INDvSA: साउथ अफ्रीका ने भारत के विश्व रिकॉर्ड बनाने की उम्मीदों पर फेरा पानी

South Africa beat India by 7 wickets, lead the five-match series 1-0
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

नई दिल्ली। तीन साल के बाद जब अरुण जेटली स्टेडियम का दरवाजा खुला तो भारतीय दर्शकों को उम्मीद थी कि भारत लगातार 13 टी20 मैच जीतकर एक विश्व रिकॉर्ड बनाकर उन्हें तोहफा देगा लेकिन दर्शकों की उम्मीदों पर किलर मिलर और वान दर दुसें ने पानी फेर दिया। दर्शकों को चौके और छक्के देखने को तो मिले ही लेकिन जिस जीत की उम्मीद लेकर वह स्टेडियम पहुंचे वह नहीं हो सका। मिलर और वान दर दुसें की जोड़ी ने 131 रनों की अविजित साझेदारी कर साउथ अफ्रीका को 7 विकेट से जीत दिला दी।

Ishan Kisan Scored a brilliant Half Century

टॉस हारकर पहले बैटिंग का न्योता मिलते ही ईशान किशन और ऋतुराज गायकवाड की जोड़ी ने 6 ओवर में 57 रनों की साझेदारी कर डाली। हालांकि 5 ओवर में सिर्फ 36 रन ही बन पाए थे। लेकिन रन गति बढ़ाने के चक्कर में ऋतुराज (15 गेंदों में 3 छक्कों की मदद से 23 रन) ने अपना विकेट खोया। गायकवाड की जगह उतरे श्रेयस अय्यर ने रन गति को कम नहीं होने दिया और जब तक दूसरे विकेट के रूप में ईशान किशन ( 3 छक्कों और 11 चौकों की मदद से 48 गेंदों में 76 रन) आउट होते तब तक भारत 12.6 ओवर में 137 रन बना डाला था। फिर बाकी फिनिशिंग टच देने का काम ऋषभ पंत और हार्दिक पांड्या ने बखूबी किया।

South Africa beat India by 7 wickets, lead the five-match series 1-0

भारतीय बल्लेबाज इस जश्न को मनाते उससे पहले ही भारतीय गेंदबाजों ने खूब रन लुटाए। इसका जश्न क्या खूब मनाया। साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज की शुरुवात बेहतर हो सकती थी, लेकिन भारत को गेंदबाजों का साथ नहीं मिला। भारतीय बल्लेबाजों ने रबादा और नॉर्खिया जैसे पेस बैटरी के सामने 14 छक्के और 16 चौकों के साथ 211 रनों का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया। ईशान किशन, ऋतुराज गायकवाड़, श्रेयस अय्यर, कप्तान ऋषभ पंत और फिर बाकी का काम हार्दिक पांड्या ने बखूबी काम किया। काफी लंबे अरसे के बाद टीम में वापसी कर रहे हार्दिक पांड्या ने 12 गेंदों में 31 रन बनाकर ना सिर्फ टीम को 200 के पार पहुँचाया बल्कि उन्होंने अपनी टीम में वापसी के फैसलों को सही साबित कर दिया। पंत ने भी 16 गेंदों में 29 रनों की विस्फोटक पारी खेली।

इससे पहले खेले गए साउथ अफ्रीका के लिए चार टी-20 मुकाबले में सिर्फ एक मैच जीतने वाली इंडियन टीम की इस नई प्लेइंग इलेवन से उम्मीदें ज्यादा थी लेकिन उस कसौटी पर भरतीय गेंदबाजों ने निराश किया। 212 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी साउथ अफ्रीका की टीम ने राकेट अंदाज में शुरुवात की। भुवनेश्वर कुमार ने 22 रन के स्कोर पर शुरुवाती झटका कप्तान बवुमा के रूप में दिया। पावर प्ले में बॉलिंग के लिए आये चहल को 16 रन और पंड्या को 18 रनों की ओवर दे डाले। खतरनाक होते प्रिटोरियस को हर्षल पटेल ने बोल्ड कर टीम को दूसरी सफलता दिलाई। लेकिन इसके बाद किलर मिलर(5 छक्कों और 4 चौकों की मदद से 31 गेंदों में 64 रन) और वान दूर दुसें (5 छक्के और 7 चौकों की मदद से 46 गेंदों में 75 रन) की पारी खेल के मूमेंट को अफ्रीका की तरफ पूरी तरह शिफ्ट कर दिया और ऋषभ पंत कुछ सोचते उससे पहले ही इस जोड़ी ने अफ्रीका को जीत दिला दी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: