रविवार, जून 26Digitalwomen.news

महिला टी-20 चैलेंज:- सुपरनोवाज तीसरी बार बनी चैंपियन, दिल की धड़कनें रोक देने वाला था फाइनल

JOIN OUR WHATSAPP GROUP

नई दिल्ली, 28 मई। हरमन प्रीत कौर की अगुवाई वाली सुपरनोवाज ने तीसरी बार महिला टी-20 चैलेंज में फाइनल जीतकर चैंपियन बनी है। दिल की धड़कने रोक देने वाले इस फाइनल मुकाबले में सुपरनोवाज ने वेलॉसिटी को 4 रनों से हराकर ट्रॉफी अपने नाम किया। टूर्नामेंट इतिहास की सबस सफल टीम ने 165 के स्कोर का सफलतापूर्वक बचाव किया और वेलॉसिटी को 161 के स्कोर पर ही रोक दिया।

टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी हरमन प्रीत की टीम का शुरू से ही इंटेंस तेज तर्रार बैटिंग का था और वह दिखा भी। डिएंड्रा डॉटिन (62 रन) और कप्तान हरमनप्रीत कौर ( 43 रन) ने जिस आक्रमक अंदाज में सुपरनोवाज की बोलर्स पर टूटी उससे तो एक समय स्कोर 180 के पार जाता दिखाई दे रहा था, लेकिन अंतिम ओवरों में सुपरनोवाज की गेंदबाजों ने वापसी दिलाई। हालांकि फाइनल का प्रेसर दीप्ति शर्मा की टीम पर फील्डिंग करते वक़्त साफ दिख रहा था जब उन्होंने कैच के साथ साथ रन आउट के कई मौके गवाए। डॉटिन को दो दो जीवनदान देना महंगा पड़ा जिन्होंने इसका फायदा उठाते हुए 44 गेंद की पारी में एक चौका और चार छक्के लगाए और हरमनप्रीत के साथ मिलकर दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 5.3 ओवर में 58 रन की जोड़ डाले। हरमन ने 29 गेंद की अपनी पारी में एक चौका और तीन छक्के जड़े।

बल्लेबाजी में टीम को बेहतर शुरुवात दिलाने के बाद गेंदबाजी में भी डॉटिन ने शानदार प्रदर्शन किया। आक्रमक मूड में दिख रही शेफाली वर्मा का विकेट लेकर टीम को पहली सफलता दिलाई। इसके बाद 64 रनों के अंदर आधी पारी पवेलियन लौट चुकी थी। किरण नवगिरे ने इस बार निराश किया और 13 गेंदों में बिना खाता खोले पवेलियन लौट गईं। नटकान चंथाम भी महज छह रन बनाकर चलती बनीं। कप्तान दीप्ति शर्मा के ऊपर टीम को संभालने की जिम्मेदारी थी लेकिन वह भी दो रन बनाकर आउट हो गईं। स्नेह राणा और लॉरा वुलफ़ार्ट ने मिलकर पारी को संभालने की कोशिश की और छठे विकेट के लिए 27 गेंदों में तेजी से 40 रन बनाए। लेकिन वह काफी नहीं था।

एक छोर से विकेट गिरता रहा और वेलॉसिटी की टीम करारी हार के करीब थी। उसे जीत के लिए 12 गेंदों में 34 रन की दरकार थी। लेकिन दूसरी छोर पर खड़ी वुलफ़ार्ट ने पहले 33 गेदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। और फिर सिमरन दिल बहादुर के साथ मिलकर मैच को रोमांचक बनाते हुए वेलॉसिटी की मैच में वापसी करा दी। दोनों खिलाड़ियों नें 19 गेंदों पर 44 रन की साझेदारी की लेकिन आखिरी गेंद पर छह रन बनाने से चूक गईं। सिमरन 10 गेंदों में 20 और वुलफ़ार्ट 40 गेंदों में 65 रन बनाकर नाबाद रहीं। बेहतरीन प्रदर्शन के लिए डॉटिन को प्लेयर ऑफ द मैच और प्लेयर ऑफ द सीरीज भी चुना गया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: