मंगलवार, मई 24Digitalwomen.news

Cricket: चेतेश्वर पुजारा को लेकर पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहम्मद रिजवान ने कह दी बड़ी बात

क्या पुजारा का वर्तमान फॉर्म एक बार फिर से भारतीय टीम का दरवाजा खटखटा रहा है?

Pakistani Cricketer Mohammad Rizwan Compares Cheteshwar Pujara With Pakistan Great
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

चेतेश्वर पुजारा, जिन्हें अगर धैर्य, परिपक्वता और अनुभव के आधार पर कहा जाए तो टेस्ट क्रिकेट का एक बेहतरीन बैट्समैन। एक ऐसा खिलाड़ी कि जब वह क्रीज पर बैटिंग करता है तो सामने वाली टीम के खिलाड़ी भी उसके खेल के मुरीद हो जाए। कुछ ऐसा ही हुआ है इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट खेलते वक्त पुजारा के साथ। पुजारा ने काउंटी चैंपियनशिप डिवीजन-2 में ससेक्स की तरफ से खेलते हुए दो दोहरा शतक और इतने ही शतक बनाकर टेस्ट टीम में वापसी के लिए मजबूत दावा पेश किया है। क्योंकि खराब फॉर्म के कारण पुजारा इस वक्त इंडियन क्रिकेट टेस्ट टीम से बाहर चल रहे हैं।

चेतेश्वर पुजारा ने जिस शानदार फॉर्म से काउंटी में क्रिकेट खेली है, उसका असर पाकिस्तान के वीकेटकीपर बैट्समैन मोहम्मद रिजवान पर हुआ है। रिजवान ने कहा है कि मैं चेतेश्वर पुजारा की तरह एकाग्रता चाहता हूं ताकि मैं अपने खेल को सुधार सकूं। ये वही रिजवान हैं जिन्हें आईसीसी ने साल 2021 का बेस्ट खिलाड़ी चुना था। रिजवान की अटूट एकाग्रता की लिस्ट इनकी गिनती पाकिस्तान के दिग्गज खिलाड़ी युनिस खान और फवाद आलम को एक श्रेणी में रखते हैं लेकिन अब इस श्रेणी में उन्होंने पुजारा को भी शामिल कर लिया है और इसका कारण चेतेश्वर पुजारा का शानदार फॉर्म।

पुजारा ने ससेक्स टीम की तरफ से खेलते हुए अभी तक 143 की बेहतरीन औसत से 717 रन बना चुके हैं जिसमें दो शानदार दोहरा शतक और दो शतक शामिल हैं। आईपीएल में उन्हें किसी भी टीम ने खरीदने में दिलचस्पी नहीं दिखाई जिसके बाद उन्होंने काउंटी क्रिकेट खेलने का फैसला किया और अब यह फैसला सही साबित हो रहा है। पिछले साल आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा रहें पुजारा एक भी मैच नहीं खेल पाए थे।

चेतेश्वर पुजारा ने ससेक्स की तरफ से खेले गए पहली पारी में मात्र छह रन बनाकर आउट हो गए थे लेकिन अगली ही पारी में उन्होंने 387 गेंदों में नाबाद 201 रन बना डाले और काउंटी में दोहरा शतक लगाने वाले पुजारा सिर्फ दूसरे भारतीय बने। इससे पहले महान बल्लेबाज मोहम्मद अजहरुद्दीन ने यह दो बार कारनामा किया जब उन्होंने 1991 में 212 और 1994 में 205 रन बनाए थे। लेकिन पुजारा ने एक ही सीजन में दो दोहरे शतक ठोकने वाले पहले भारतीय बन चुके हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: