रविवार, नवम्बर 27Digitalwomen.news

भाजपा द्वारा दिल्ली के गांवों के नाम बदलने की प्रस्तावना के बाद अब मार्गों के नाम बदलने की मांग शुरु

BJP Delhi president Adesh Gupta in an open letter alleged the DElhi govt of providing protection to Rohingya and Bangladeshi muslims
Delhi BJP Chief urges NDMC to change names of roads in Delhi
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

दिल्ली भाजपा इस वक्त नामों को बदलने की एक मुहिम चला रखी है। भाजपा ने गुलामी के प्रतीक बताकर पुराने नामों को बदलकर स्वतंत्रता सेनानियों या फिर देश के लिए अपनी प्राणों की आहूती देने वालों के नाम पर दिल्ली की सड़कों और लेन का नाम रखा जाए। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने आज नई दिल्ली नगर पालिका परिषद के चेयरमैन सहित मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी पत्र लिखकर कई सड़कों के नामों को बदलने की मांग की है।

आदेश गुप्ता ने कहा कि खालसा पंथ की स्थापना करने वाले और धर्म एवं देश की रक्षा के लिए अपने चार पुत्रों का बलिदान देने वाले सिखों पंथ के 10वें गुरु गोविन्द सिंह जी जैसे महान विभूति को श्रद्धांजलि हेतू हमारी मांग है कि नई दिल्ली स्थित तुगलक रोड, जो मुगल काल की गुलामी का प्रतीक है, का नाम बदलकर गुरु गोविंद सिंह मार्ग के नाम से किया जाए। उन्होंने उम्मीद जताई है कि गुलामी के प्रतीक रहे नामों के खिलाफ हमारी मुहिम में हमारे द्वारा प्रस्तावित नामों का शीघ्र ही संज्ञान लिया जाएगा।

आदेश गुप्ता ने जिन मार्गों का नाम बदलने की मांग की है उसमें अकबर रोड का नाम बदलकर महाराणा प्रताप सिंह, औरंगजेब लेन का नाम बदलकर डॉक्टर ए पी जे अब्दुल कलाम लेन, बाबर लेन का नाम बदलकर खुदीराम बोस लेन, हुमायूं रोड का नाम बदलकर महर्षि बाल्मीकि रोड, शाहजहां रोड का नाम बदलकर सीडीएस जनरल बिपिन सिंह रावत के नाम पर रखा जाए। भाजपा का मानना है कि कांग्रेस ने तुष्टिकरण की राजनीति करते हुए आजादी के बाद विदेशी आक्रांताओं के नाम पर देश के सड़कों एवं मार्गों का नाम रखा गया। लेकिन आज दिल्ली के अंदर विदेशी आक्रांताओं के समय में बदले गए गांवों के नामों को भी बदलने का भाजपा ने शुरु कर दिया है। उन्होंने कहा कि देश के स्वतंत्रता सेनानियों के नाम पर दिल्ली के मार्गों का नाम बदलकर रखना चाहिए जिनसे देश के युवा और हर एक कोई प्रेरित होता है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: