मंगलवार, दिसम्बर 6Digitalwomen.news

5 साल बाद पैतृक गांव पंचूर पहुंचे सीएम योगी को मिला मां का आशीर्वाद, महाराज के छलके आंसू

Yogi Adityanath Meets Mother For First Time Since Becoming Chief Minister
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

आखिरकार आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल में स्थित अपने पैतृक गांव ‘पंचूर’ पहुंचे। सीएम योगी अपने गांव आज 5 साल बाद आए हैं। अपने महाराज के आने पर पंचूर फूला नहीं समाया। ‌‌इसके लिए गांव में कई दिनों से तैयारियां चल रही थी। घरवालों के साथ गांव के लोगों ने अपने बचपन के मित्र योगी से मुलाकात की । सीएम योगी ने अपने गांव में बचपन की यादें ताजा की। ‌ योगी ने अपनी मां सावित्री देवी और बड़े भाई मानवेंद्र बिष्ट और छोटे भाई महेंद्र सिंह बिष्ट के साथ तीनों बहनों से मुलाकात की। योगी ने मां के पैर छूकर आशीर्वाद लिया। सीएम योगी और मां की हुई मुलाकात का पल भावुक कर देने वाला रहा। इस दौरान योगी आदित्यनाथ के आंख में आंसू भी दिखाई दिए। मां से मिलने से पहले भी मुख्यमंत्री योगी आपने गुरु अवेधनाथ की प्रतिमा के अनावरण के बाद एक जनसभा को संबोधित करते हुए भी भावुक हो गए थे। गांव पंचूर में योगी से मिलने के लिए हजारों की संख्या में आसपास के लोग भी पहुंचे हुए हैं। सीएम योगी आज पंचूर में ही रात्रि प्रवास करेंगे ।

बता दें कि 5 साल पहले फरवरी, 2017 में योगी आखिरी बार अपनी मां से मिले थे। उन दिनों उत्तराखंड और यूपी में चुनाव चल रहे थे। योगी भाजपा प्रत्याशी और वर्तमान विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूरी का प्रचार करने आए थे, तभी वो अपनी मां और परिवार वालों से मिलने अपने गांव पंचूर भी गए थे। मां से मिलने के बाद योगी यूपी के सीएम बन गए थे। साल 2020 में योगी के पिता आनंद सिंह बिष्ट का निधन हो गया था। कोविड प्रोटोकॉल के चलते अपने पिता के निधन के बाद भी योगी घर नहीं आ पाए। इस बार 12 फरवरी को विधानसभा चुनाव के दौरान एक चुनावी रैली करने योगी कोटद्वार, उत्तराखंड गए थे, लेकिन तब भी वे अपनी मां से मिलने घर नहीं जा पाए थे। आखिरकार आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी मां से मुलाकात की।

सीएम योगी ने अपने गुरु अवेधनाथ की प्रतिमा का किया अनावरण:

Yogi Adityanath Meets Mother For First Time Since Becoming Chief Minister

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तीन दिवसीय दौरे पर मंगलवार को उत्तराखंड पहुंचे। यूपी के मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ मंगलवार को पहली बार अपने पैतृक गांव यमकेश्वर के पंचूर पहुंचे। यहां उन्होंने सबसे पहले पंचूर से करीब तीन किमी दूर बिथ्याणी स्थित महायोगी गुरु गोरखनाथ राजकीय महाविद्यालय परिसर में उन्होंने अपने गुरु महंत अवेद्यनाथ की प्रतिमा का अनावरण किया। इस दौरान गुरु को याद कर सीएम योगी आदित्यनाथ ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं 35 साल बाद अपने गुरुओं से मिल पा रहा हूं, मैं आज जो कुछ भी हूं माता-पिता और गुरु अवेद्यनाथ की वजह से हूं। इस दौरान उनकी आंखें नम हो गईं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने स्कूल के शिक्षकों को सम्मानित किया। 6 शिक्षकों को शॉल ओढ़ाकर सम्मान किया। उन्होंने कहा कि मैं यहां कक्षा 1 से 9 तक पढ़ा हूं। मुझे याद है कि 1940 से 2014 तक मेरे गुरु यहां नहीं आ पाए। जबकि उनका जन्म यहीं हुआ था। यूपी का दूसरी बार सीएम बनने के बाद योगी का यह पहला उत्तराखंड दौरा है। इस मौके पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, धन सिंह रावत, पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, तीरथ सिंह रावत भी आदि उपस्थित रहे। बता दें कि योगी आदित्यनाथ पांच मई को हरिद्वार में परिसंपत्तियों के बंटवारे में उत्तराखंड के हिस्से में आए अलकनंदा होटल को राज्य को समर्पित करेंगे, जबकि उत्तर प्रदेश के होटल का उद्घाटन करेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी मौजूद रहेंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: