रविवार, मई 22Digitalwomen.news

सिख गुरु तेग बहादुर का 400वां प्रकाश वर्ष पर आज लाल किले से पीएम मोदी देश को करेंगे संबोधित, सिक्का और डाक टिकट करेंगे जारी

JOIN OUR WHATSAPP GROUP

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिख गुरु तेग बहादुर के 400वें प्रकाश पर्व के अवसर पर आज गुरुवार को लाल किले से देश को संबोधित करेंगे। यह पहली बार है जब प्रधानमंत्री मुगलकालीन स्मारक से सूर्यास्त के बाद देश को संबोधित करेंगे।
इस दौरान पीएम मोदी की सुरक्षा के लिए 1000 कर्मी और अन्य एजेंसियों के जवान शामिल रहेंगे। इनमें राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के निशानेबाज, स्वाट कमांडो आदि शामिल हैं। इसके अलावा सभी गतिविधियों पर नजर रखने के लिए लाल किला परिसर में 100 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।

बता दें कि प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर के बजाए लॉन से अपना संबोधन देंगे। संस्कृति मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि किले को आयोजन स्थल के रूप में इसलिए चुना गया है क्योंकि यहीं से 1675 में मुगल शासक औरंगजेब ने सिखों के नौवें गुरु, गुरु तेग बहादुर की जान लेने का आदेश दिया था। अधिकारियों के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी आज रात साढ़े नौ बजे देश को संबोधित करेंगे और उनके भाषण में विभिन्न धर्मों और समुदायों के बीच सौहार्द पर जोर रहेगा।

मालूम हो की यह पहली बार होगा जब प्रकाश पर्व पर दिल्ली का लाल किला जगमगायेगा। यहां लाईट के जरिए लोगों को सिखों के नौवें गुरु तेग बहादुर जी के दर्शन भी होंगे।

आपको बता दें की बुधवार शाम को गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाश पर्व को समर्पित दो दिवसीय कार्यक्रम शुरू हुआ। पहले दिन केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कार्यक्रम में मौजूद रहे। जबकि आज दूसरे दिन गुरुवार के कार्यक्रम में यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल होंगे। इस मौके पर प्रधानमंत्री गुरु तेग बहादुर जी की स्मृति में डाक टिकट और सिक्का भी जारी करेंगे। इस मौके पर उनका संबोधन भी होगा।

इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15वें सिविल सेवा दिवस के अवसर पर गुरुवार को लोक प्रशासन विशिष्टता पुरस्कार प्रदान करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जानकारी में बताया गया है कि इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी सिविल सेवा अधिकारियों को भी संबोधित करेंगे।
कार्यालय के मुताबिक, चिन्हित प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों और नवाचारों के प्रभावी कार्यान्वयन के लिए जिलों व कार्यान्वयन इकाइयों और अन्य केंद्रीय या राज्य संगठनों को प्रधानमंत्री लोक प्रशासन विशिष्टता पुरस्कार प्रदान करेंगे।
साथ ही इस दौरान आम नागरिक के कल्याण के लिए जिलों, केंद्र और राज्य सरकारों के संगठनों द्वारा किए गए असाधारण और अभिनव कार्यों को मान्यता देने के लिए लोक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए प्रधानमंत्री पुरस्कार स्थापित किए गए हैं। सिविल सेवा दिवस 2022 पर प्रदान किए जाने वाले पुरस्कारों के लिए कुछ प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों को चिन्हित किया गया है। इस वर्ष पांच चिन्हित प्राथमिकता कार्यक्रमों के लिए 10 पुरस्कार दिए जाएंगे, जबकि 6 पुरस्कार केंद्र, राज्य सरकार और जिलों के संगठनों को नवाचारों के लिए दिए जाएंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: