रविवार, नवम्बर 27Digitalwomen.news

आठ दिवसीय मंथन: दून में संघ का चिंतन शिविर आज से, भागवत की पाठशाला में जुटेंगे कई भाजपा नेता

Eight-day Sangh’s contemplation camp in Doon from today

उत्तराखंड में भाजपा की सरकार दोबारा बनने के बाद पहली बार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत का आज देवभूमि की धरती पर आगमन हो रहा है। राजधानी देहरादून में होने वाले संघ के चिंतन शिविर के लिए पुलिस प्रशासन कई दिनों से तैयारियों में जुटा हुआ था। आठ दिवसीय (4 से 11 अप्रैल तक) चिंतन बैठक सोमवार से देहरादून के रायवाला स्थित आरौवैली आश्रम में शुरू हो रही है। शिविर के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत आज पहुंच रहे हैं। ‌‌बैठक में भागवत के साथ ही संघ की समूची अखिल भारतीय कार्यकारिणी भाग लेगी। बैठक में संघ के विस्तार और आगामी कार्यक्रमों को लेकर चर्चा होगी। शिविर में आरएसएस के अखिल भारतीय स्तर के पदाधिकारी और भाजपा के कई बड़े राष्ट्रीय व राज्य स्तर के नेता, मंत्री समेत कई विशिष्ट नेताओं के पहुंचने की उम्मीद है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी शिविर में पहुंचेंगे। बता दें कि उत्तराखंड में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद संघ की यह बैठक काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है। आठ दिनी चिंतन बैठक में संघ के कार्यों की समीक्षा के साथ ही विस्तार और भविष्य के कार्यक्रमों को लेकर मंथन किया जाएगा। रायवाला में होने वाले इस शिविर के लिए व्यवस्था चाक-चौबंद कर ली गई है। रविवार देर रात तक राज्य के डीजीपी अशोक कुमार समेत कई आला अधिकारियों ने आरौवैली आश्रम पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। बता दें कि रविवार को संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कश्मीरी पंडितों की घाटी में जल्द वापसी की उम्मीद जताई है। भागवत ने कहा कि मुझे लगता कि वह दिन बहुत करीब है, जब कश्मीरी पंडित अपने घरों में वापस आएंगे। मैं चाहता हूं कि वह दिन जल्द आए। यही वक्त है कि कश्मीरी पंडित अपने घरों में इस तरह वापस जाएं कि भविष्य में फिर कभी न उखड़ें। गौरतलब है कि पिछले महीने संघ प्रमुख मोहन भागवत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद गोरखपुर में भी 19 से 23 मार्च तक संघ के चिंतन शिविर में पहुंचे थे। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी संघ प्रमुख भागवत से मुलाकात की थी।

Leave a Reply

%d bloggers like this: