बुधवार, नवम्बर 30Digitalwomen.news

बंगाल के वीरभूमि हिंसा ने लिया बड़ा रूप, भाजपा ने राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की

BJP’s Suvendu Adhikari demands Presidential rule in West Bengal
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

पश्चिम बंगाल में हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। बीरभूम जिले में हुई 10 लोगों की हत्या का मामले के बाद अब एक बार फिर से नया मामला सामने आया है। राज्य के नादिया में बुधवार देर रात एक टीएमसी नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है।

हालांकि बंगाल सरकार ने बीरभूम हिंसा की जांच के लिए एक विशेष जांच दल का गठन किया है। लेकिन राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि बंगाल में कानून-व्यवस्था चरमरा गई है।

वहीं बीरभूम हिंसा के मामले में कलकत्ता हाईकोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया है। कोर्ट ने आज दोपहर की बीरभूम के ताजा हालात पर रिपोर्ट मांगी है लेकिन बीरभूम में टीएमसी नेता की हत्या के बाद भड़की हिंसा का मामला राजनीतिक रंग ले रहा है। भाजपा ने राज्य में बढ़ती हिंसा के मद्देनजर केंद्र सरकार से राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है।

कांग्रेस ने अनुच्छेद 355 लागू करने की मांग की:
वहीं कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने भी राज्य में 355 लागू करने की मांग की है। अनुच्छेद 355 राज्य की कानून-व्यवस्था बिगड़ने पर केंद्र को दखल देने का अधिकार देता है। विपक्ष ने ममता बनर्जी का इस्तीफा भी मांगा है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: