बुधवार, दिसम्बर 7Digitalwomen.news

विपक्ष के आरोप: मतगणना से पहले यूपी में ईवीएम मशीन को लेकर सपा और भाजपा के बीच मचा घमासान

SP chief Akhilesh Yadav alleges massive ‘EVM fraud, vote theft’
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

पांच राज्यों के चुनाव के नतीजे आने में अब 20 घंटे से भी कम समय बचा है। लेकिन इससे पहले उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में ईवीएम मशीन में गड़बड़ी को लेकर पक्ष और विपक्ष में घमासान मचा हुआ है। अगर उत्तराखंड की बात करें तो पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने ईवीएम मशीन की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाए हैं। ‌वहीं सोमवार शाम को आए एग्जिट पोल्स के बाद यूपी में सपा और भाजपा के बीच ईवीएम मशीन को लेकर बवाल शुरू हो गया है। बता दें कि समाजवादी पार्टी ईवीएम की सुरक्षा को लेकर सशंकित है। वाराणसी में ट्रकों पर ईवीएम मशीन मिलने के बाद विपक्षी दल भाजपा सरकार पर हमलावर है। ‌सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने निर्वाचन आयोग व पुलिस-प्रशासन पर अविश्वास जताते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं को चौकन्ना रहने का निर्देश दिया है। अखिलेश यादव के निर्देश पर प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल में दस मार्च को मतगणना के लिए सूबे में 81 प्रभारी नामित किए हैं। वाराणसी में एमएलसी वासुदेव यादव को यह जिम्मेदारी दी गई है। साथ अन्य जिलाध्यक्षों का पत्र भी लिखा है। मंगलवार को पूरे दिन ईवीएम मशीन में गड़बड़ी को लेकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भाजपा सरकार पर आरोप लगाते रहे। इसके साथ अखिलेश ने 10 मार्च मतगणना से पहले पार्टी के कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को जहां-जहां ईवीएम मशीन रखी गई है, निगरानी करने के लिए आदेश दिए हैं। अपने नेता के आदेश पर सपा कार्यकर्ता यूपी के सभी जनपदों में ईवीएम की निगरानी के लिए मुस्तैद हो गए हैं। मेरठ के हस्तिनापुर में सपा प्रत्याशी तो कई दिनों से दूरबीन लेकर ईवीएम की निगरानी करने में लगे हुए हैं। इसके साथ इटावा, मैनपुरी, आजमगढ़ और बरेली आदि जनपदों में सपा कार्यकर्ता एवं की पहरेदारी में लगे हुए हैं।

वाराणसी में ईवीएम के ट्रक पर मिलने पर सपा कार्यकर्ताओं ने घंटों किया बवाल:

अखिलेश यादव ने नतीजों से पहले प्रेस कॉफ्रेंस की। उन्होंने काउंटिंग से पहले भाजपा सरकार पर गड़बड़ी का आरोप लगाया। अखिलेश ने कहा कि वाराणसी में ईवीएम को इधर-उधर किया जा रहा है। जहां बीजेपी हार रही है, उन जिलों के डीएम के पास मुख्यमंत्री और प्रमुख सचिव का फोन जा रहा है। काउंटिंग स्लो रखिएगा। उन्होंने कहा कि बनारस में ईवीएम का एक ट्रक पकड़ा गया है। एक ट्रक भाग गया है। बरेली में कूड़े की गाड़ी में बैलेट पेपर्स से भरे 3 बक्से मिले हैं। सोनभद्र में भी हेराफेरी की जा रही है। सरकार वोट की चोरी कर रही है। वाराणसी में तो देर रात तक ईवीएम मशीन ट्रक में मिलने पर सपा कार्यकर्ता बवाल करते रहे। हालांकि मंगलवार रात नवनीत सहगल ने इन आरोपों का खंडन किया। उन्होंने कहा कि चुनाव में इस्तेमाल सभी ईवीएम स्ट्रांग रूम में सीआरपीएफ के कब्जे में है। उधर सपा के प्रतिनिधिमंडल ने इन मामलों की शिकायत चुनाव आयोग से की । इसको लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने प्रेस नोट भी जारी किया है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: