मंगलवार, मई 24Digitalwomen.news

पीएम के संसदीय क्षेत्र में ममता, गंगा आरती में शामिल होकर कल अखिलेश के साथ करेंगी रैली

UP Polls 2022 Mamata to hold rally in Varanasi with Akhilesh
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

साल 2021 के अप्रैल महीने में पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को उनके ही गृह राज्य में जबरदस्त घेराबंदी की थी। पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बंगाल में भगवा लहराने के लिए दीदी के खिलाफ सारे सियासी दांव आजमाएं थे। लेकिन भाजपा दीदी का किला बंगाल में भेद नहीं पाई। ‌लेकिन दीदी और पीएम मोदी के बीच शुरू हुआ टकराव अभी भी जारी है। इस बार यूपी विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी ने भाजपा को घेरने के लिए वही फार्मूला अपनाया है जो पीएम मोदी और अमित शाह ने बंगाल में दांव चला था। पिछले महीने फरवरी की शुरुआत में ममता ने अखिलेश यादव के साथ एक मंच पर राजधानी लखनऊ में चुनावी रैली भी की थी। अब बात को आगे बढ़ाते हैं। आज मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से जुड़ी दो बातें हैं । पहली यह है कि पिछले महीने की 27 फरवरी को बंगाल में नगर निकाय के चुनाव हुए थे। जिसके रिजल्ट आज जारी किए जा रहे हैं। बंगाल निकाय चुनाव में ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी का जलवा बरकरार है। ममता की पार्टी ने अब तक 107 सीटों में से 93 पर जीत हासिल कर ली है। वहीं 30 साल में पहली बार भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी को झटका लगा है। टीएमसी ने सुवेंदु के गढ़ माने जाने वाले कांथी नगर पालिका के 21 में से 18 वार्डों में जीत हासिल की है। दूसरी बात यह है कि निकाय चुनाव में मिली भारी जीत से उत्साहित दीदी आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में दो दिवसीय दौरे पर आ रहीं हैं। शाम को वह काशी विश्वनाथ के दर्शन करेंगी और दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती में शामिल होंगी।मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में सपा और उसके सहयोगी दलों का समर्थन कर रहीं हैं। दीदी की काशी दौरे को लेकर सपा प्रमुख अखिलेश यादव भी गुरुवार को पहुंच रहे हैं।

वाराणसी में सातवें चरण का 7 मार्च को होना है विधानसभा चुनाव–

बता दें कि वाराणसी में सातवें चरण में 7 मार्च को चुनाव होना है। इसी को लेकर 4 और 5 मार्च को पीएम मोदी दो दिवसीय दौरे पर संसदीय क्षेत्र वाराणसी आ रहे हैं। पीएम यहां रोड शो के अलावा चुनावी जनसभा भी करेंगे। लेकिन उससे पहले दीदी वाराणसी पहुंच रहीं हैं। गुरुवार को मुख्यमंत्री ममता और सपा प्रमुख अखिलेश यादव एक ही मंच पर जनसभा को संबोधित करेंगे। सीएम ममता ने 7 फरवरी को कहा था कि मैं वाराणसी भी जाऊंगी और शिव मंदिर में दीया भी जलाऊंगी। मैं जानती हूं कि वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है, लेकिन कोई भी कहीं भी जाने के लिए स्वतंत्र है। मैं चाहती हूं कि उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में सपा की जीत हो।बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव में टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी अखिलेश यादव के समर्थन में चुनाव प्रचार कर रही हैं। पिछले साल बंगाल में हुए विधानसभा चुनाव में अखिलेश यादव ने भी ममता बनर्जी के समर्थन में अपनी पार्टी के नेताओं को प्रचार के लिए भेजा था।

Leave a Reply

%d bloggers like this: