मंगलवार, मई 17Digitalwomen.news

उत्तराखंड चुनाव के बाद भाजपा-कांग्रेस नेताओं के जीत के दावे, दोनों दलों में गुटबाजी भी

Uttarakhand Legislative Assembly election, 2022
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

(विशेष)



–शंभू नाथ गौतम


उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव 14 फरवरी को एक चरण में खत्म हो चुका है। चुनाव के बाद भाजपा और कांग्रेस नेताओं के बीच जुबानी जंग जारी है। दोनों ही दलों के नेता अपनी-अपनी जीत के दावे कर रहे हैं। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बीच कई दिनों से एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं । आपको बता दें कि मतदान के बाद से ही हरीश रावत अपनी जीत को लेकर बेहद आश्वस्त नजर आ रहे हैं। रावत ने दावा किया है कि उनकी पार्टी 48 सीटें जीत सकती है। वहीं हरीश रावत के इस बयान पर सीएम पुष्कर धामी ने पलटवार किया । सीएम धामी ने दावा किया कि प्रदेश में एक बार फिर से बीजेपी की ही सरकार बनने जा रही हैं। धामी ने हरीश रावत पर हमला बोलते हुए कहा कि हरीश रावत मुंगेरी लाल के हसीन सपने देख रहे हैं। कांग्रेस सत्ता में नहीं आ रही हैं। उन्होंने दावा किया कि राज्य में बीजेपी एक बार फिर से प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाएगी। इसके अलावा भाजपा और कांग्रेस में विधानसभा चुनाव के बाद अंदरूनी गुटबाजी भी जबरदस्त शुरू हो गई है। अगर कांग्रेस की बात करें तो मुख्यमंत्री पद के चेहरे को लेकर पार्टी में घमासान मचा हुआ है। ‌एक गुट हरीश रावत का है तो दूसरा प्रीतम सिंह। दोनों के समर्थक अपने अपने नेता को मुख्यमंत्री देखना चाहते हैं। इससे पहले हरीश रावत ‘मुख्यमंत्री बनूंगा या घर बैठूंगा’ वाला बयान देकर सुर्खियों में आ गए थे। इस बीच, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने दोहराया कि कांग्रेस में सीएम हाईकमान के स्तर से ही तय होना है। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के तेवर शनिवार को नरम पड़ गए। उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री का चयन पार्टी हाईकमान करेगा। अब बात करेंगे भाजपा की। उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान की प्रक्रिया संपन्न होने के बाद बीजेपी के विधायकों में जिस तरह से विरोध देखने को मिल रहा है उससे उत्तराखंड बीजेपी में खलबली मच गई है। वोटिंग होने के बाद भाजपा विधायक संजय गुप्ता, कैलाश गहतोड़ी और हरभजन सीमा ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक पर जो आरोप लगाए उससे पार्टी असहज स्थित में आ गई है। जिसके बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी और मदन कौशिक दोनों को दिल्ली तलब किया गया । बता दें कि 14 फरवरी को राज्य की सभी सीटों पर हुए चुनाव के नतीजों को बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के नतीजे 10 मार्च को आएंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: