शुक्रवार, जुलाई 1Digitalwomen.news

Republic-Day 2022: President Ram Nath Kovind, PM Modi bid adieu to Virat, elite horse of President’s Bodyguard

विराट विदाई: तीन दिन बाद भी गणतंत्र दिवस का वह यादगार पल अभी भी छाया सोशल मीडिया पर

Republic-Day 2022: President Ram Nath Kovind, PM Modi bid adieu to Virat, elite horse of President’s Bodyguard
JOIN OUR WHATSAPP GROUP

जीवन में कुछ ऐसे भी यादगार पल होते हैं जो भुलाए नहीं भूलते हैं। मौजूदा दौर सोशल मीडिया का होने की वजह से लोग (यूजर्स) अपने मन की बात इस प्लेटफार्म पर साझा करते हैं। ‌आइए अब बात को आगे बढ़ाते हैं और जानते हैं वह यादगार पल क्या है। जिसे लोग तीन दिन बाद भी याद कर रहे हैं। 26 जनवरी को राजधानी दिल्ली में 73वां गणतंत्र दिवस धूमधाम के साथ मनाया गया। ‌इस मौके पर राजपथ पर देश की संस्कृति कल्चरल, झांकी, नारी शक्ति, वीर जवानों के साहस भरे हैरतअंगेज करतब के साथ ही फाइटर प्लेन राफेल और जगुआर की ताकत का नजारा पूरे देश ने देखा। 26 जनवरी के दिन जब गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम करीब दोपहर 12:30 बजे खत्म होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वापस लौट रहे थे तभी वह एक घोड़े के पास रुक गए। यही लम्हा देश भर की सुर्खियों में छा गया। इस नजारे ने देशवासियों नहीं बल्कि विदेशों तक लोगों का दिल जीता। ‌यहां आपको बता दें कि राष्ट्रपति के अंगरक्षक में शामिल ‘विराट घोड़ा’ उस दिन गणतंत्र दिवस से अपनी शानदार वर्षों की सेवा से हमेशा के लिए रिटायर हो रहा था। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विराट के सिर पर हाथ रखकर प्यार और दुलार किया। पीएम मोदी के साथ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी विराट की पीठ थपथपाई। यही तस्वीरें और फोटोग्राफ्स सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो गए। 3 दिन बाद भी फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम, व्हाट्सएप से लेकर के सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म पर इस यादगार लम्हे पर हजारों लाखों लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। अब आइए जान लेते हैं विराट घोड़े के जिंदगी के सफर के बारे में।

विराट भारत के तीन राष्ट्रपतियों के अंगरक्षक की टीम में रहा शुमार–

बता दें कि घोड़ा विराट देश में सबसे अधिक सम्मान पाने वाले जानवरों में शुमार है। विराट राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अंगरक्षक घोड़े में सवार है। ये वही ‘विराट’ घोड़ा था जिसे अपनी योग्यता और सेवाओं के लिए चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ से नवाजा गया है। ये कोई आम घोड़ा नहीं बल्कि देश के राष्ट्रपति के अंगरक्षक परिवार में शामिल विराट घोड़ा है जिसे प्रेजिडेंट्स बॉडीगार्ड का चार्जर भी कहा जाता है। ये होनोवेरियन नस्ल का घोड़ा है जो रिमाउंट ट्रेनिंग स्कूल हेमपुर से 2003 में राष्ट्रपति के अंगरक्षकों की टीम में शामिल हुआ था। विराट पिछले 13 वर्षों से गणतंत्र दिवस की परेड और अन्य राष्ट्रीय समारोहों में शामिल रहा है। विराट गणतंत्र दिवस के दिन राजपथ पर अपनी सेवाओं से रिटायर हो गया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, पीएम मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गणतंत्र दिवस समारोह खत्म होने के बाद घोड़े विराट को विदाई दी। इसने अपने कार्यकाल के दौरान तीन राष्ट्रपतियों, प्रतिभा पाटिल, प्रणब मुखर्जी और रामनाथ कोविंद को सलामी दी ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: